नागौर जिला स्टेडियम में सेना भर्ती रैली

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/07/01 03:10

नागौर। नागौर जिला स्टेडियम में आयोजित हो रही सेना भर्ती रैली के पहले दिन डीडवाना और बाहरी जिलों के 3706 युवाओं ने खूब दमखम लगाया। चार सौ मीटर ट्रैक के चार चक्कर लगाकर 338 सफल अभ्यर्थियों को दो ग्रुप में बांटा गया। इस दौड़ में सफल हुए अभ्यर्थियों की शारीरिक दक्षता की जांच से गुजरना पड़ेगा, वहीं विफल अभ्यर्थियों को जोधपुर रोड स्थित हाईवे से बाहर निकाल दिया गया।

जिला स्टेडियम में दौड़ लगाने वाले युवाओं ने फौजी बनने के लिए ट्रैक पर खूब दम लगाया। इस दौरान कुछ युवा ट्रैक पर गिरे भी लेकिन फौज में भर्ती होने की आस में उन्होंने फिर हिम्मत दिखाई और दोबारा खड़े हो कर दौड़ लगाई। पांच दिन चलने वाली इस सेना भर्ती रैली के लिए 27,000 युवाओं ने आवेदन किया है। इस भर्ती रैली में सुरक्षा व्यवस्था के रूप में नागौर जिला पुलिस के करीब 150 और सेना के 300 जवानों ने मोर्चा संभाल रखा है। सेना में शामिल होने के लिए उत्साहित युवा एक दिन पहले ही यहां पहुंच गए और रात में रेलवे स्टेशन, धर्मशालाओं व होटलों में विश्राम किया, रात 2 बजे से ही स्टेडियम के बाहर लंबी कतारें लग गई।

सैनिक सामान्य, क्लर्क, एसकेटी, नर्सिंग असिस्टेंट, टेक्निकल और ट्रेडमैन पदों के लिए सेना भर्ती रैली का आयोजन हो रहा है। जिसके तहत पहले दिन डीडवाना व जिलों के अभ्यर्थी दौड़ में शामिल होने आए, अभ्यर्थियों के हुड़दंग को काबू में करने के लिए राजकीय स्टेडियम के बाहर व आसपास के क्षेत्र में पर्याप्त पुलिस जाब्ता और सेना के जवान तैनात किए। कल  मूण्डवा, जायल व मकराना तहसीलों के पांच हजार बेरोजगार अभ्यर्थी दौड़ लगाएंगे। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

संसद हमले की 17वीं बरसी पर शहीदों को देश कर रहा है याद

गजेंद्र सिंह शेखावत पहुंचे जयपुर, मीडिया से की खास बातचीत
मध्यप्रदेश में ही रहेंगे \'मामा\'
मणिपुर के जज के हिन्दू राष्ट्र वाले बयान पर सियासी घमासान
मध्यप्रदेश में कांग्रेस जीत गई लेकिन दिग्गज हार गए
मुख्यमंत्री का नाम अभी घोषित नही हुआ, लेकिन कार्यकर्ताओं में मारपीट शुरू हो गई
देश में अब एक महिला मुख्यमत्री रह गई
4 मिनट 24 ख़बरें | National News
loading...
">
loading...