नई दिल्ली अरुंधति ने विश्व चैंपियनशिप के लिए बीएफआई की चयन नीति को दिल्ली उच्च न्यायालय में दी चुनौती

अरुंधति ने विश्व चैंपियनशिप के लिए बीएफआई की चयन नीति को दिल्ली उच्च न्यायालय में दी चुनौती

अरुंधति ने विश्व चैंपियनशिप के लिए बीएफआई की चयन नीति को दिल्ली उच्च न्यायालय में दी चुनौती

नई दिल्ली: राष्ट्रीय चैंपियन अरुंधति चौधरी ने विश्व चैंपियन के लिए बिना ट्रायल के ओलंपिक कांस्य पदक विजेता लवलीना बोरगोहेन को चुनने के भारतीय मुक्केबाजी महासंघ (BFI) के फैसले के खिलाफ मंगलवार को दिल्ली उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया. 

गत युवा विश्व चैंपियन अरुंधति चाहती हैं कि 70 किग्रा वर्ग के लिए ट्रायल हों जिसके लिए ओलंपिक में प्रदर्शन के आधार पर लवलीना को सीधे चुना गया है, बाकी सभी 11 वजन वर्गों में राष्ट्रीय चैंपियन भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे. उन्नीस साल की इस मुक्केबाज की याचिका बुधवार को सुनवाई के लिए सूचिबद्ध की गई है और बीएफआई के शीर्ष अधिकारी ने पीटीआई से कहा कि महासंघ अदालत के निर्देशों का पालन करेगा.

इस्तांबुल में चार से 18 दिसंबर तक होने वाली विश्व चैंपियनशिप को तुर्की में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण अगले साल मार्च तक स्थगित करने की तैयारी लगभग पूरी है. अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ द्वारा इस हफ्ते टूर्नामेंट को स्थगित करने की औपचारिक घोषणा के बाद प्रतियोगिता के लिए नई चयन नीति तैयार की जा सकती है. सोर्स-भाषा

और पढ़ें