पणजी अरविंद केजरीवाल बोले, गोवा के भविष्य के लिए इस बार आप को वोट दे

अरविंद केजरीवाल बोले, गोवा के भविष्य के लिए इस बार आप को वोट दे

अरविंद केजरीवाल बोले, गोवा के भविष्य के लिए इस बार आप को वोट दे

पणजी: आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने बृहस्पतिवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस सहित अन्य दलों के समर्थकों व कार्यकर्ताओं से न सिर्फ उनके खुद के, बल्कि तटवर्ती राज्य के भविष्य के लिए भी गोवा विधानसभा चुनाव में आप के पक्ष में मतदान करने की अपील की. केजरीवाल ने कहा कि वे पार्टी से अपनी संबद्धता को बदले बिना आप को वोट दे सकते हैं. गोवा की सभी 40 विधानसभा सीटों पर 14 फरवरी को मतदान होना है. नतीजों की घोषणा दस मार्च को की जाएगी. आप राज्य की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

केजरीवाल ने मीडिया से बातचीत में कहा कि मैं यहां उन लोगों को संबोधित करने आया हूं, जो भाजपा, कांग्रेस या किसी अन्य पार्टी के समर्थक या कार्यकर्ता हैं. मैं आपसे आम आदमी पार्टी से जुड़ने के लिए नहीं कह रहा हूं. आप अपनी पार्टी में बने रह सकते हैं, लेकिन अपनी खुद की भलाई, गोवा के भविष्य और अपने परिवार के भविष्य के लिए इस बार आप को वोट दें. आप नेता ने आरोप लगाया कि भाजपा गोवा में पिछले 15 वर्षों से सत्ता में है, लेकिन उसने राज्य के लिए कुछ भी नहीं किया. 

उन्होंने कहा कि इस बार आप के लिए वोट करें और आपको राज्य में बदलाव दिखेगा. दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने कई वर्षों तक गोवा पर शासन किया, लेकिन पार्टी अब भाजपा के लिए कैडर फीडर में तब्दील हो गई है. उन्होंने कहा कि लोग नेता बनने के लिए कांग्रेस में शामिल होते हैं और फिर भाजपा में चले जाते हैं.’ केजरीवाल ने आरोप लगाया कि गोवा के लिए कांग्रेस के पास कोई एजेंडा नहीं है.

उन्होंने कहा कि इसी तरह, महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) और गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) के कार्यकर्ताओं व समर्थकों को पता होना चाहिए कि राज्य में उनकी पार्टियों की सरकार नहीं बनने जा रही है. लिहाजा ऐसी पार्टी को वोट देने का क्या फायदा? मतों का विभाजन न होने दें. गोवा विधानसभा चुनाव के लिए एमजीपी ने जहां ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस से हाथ मिलाया है, वहीं जीएफपी ने कांग्रेस के साथ गठबंधन किया है. केजरीवाल ने दावा किया कि गोवा में अगर आप सत्ता में आती है तो राज्य के हर परिवार को अगले पांच वर्षों में विभिन्न लोक कल्याणकारी पहलों के जरिये दस लाख रुपये तक का आर्थिक लाभ मिलेगा. (भाषा)

और पढ़ें