नई दिल्ली Assembly Election Results 2021: पांचों राज्यों में वोटों की गिनती जारी, बंगाल में TMC और BJP के बीच मुकाबला 

Assembly Election Results 2021: पांचों राज्यों में वोटों की गिनती जारी, बंगाल में TMC और BJP के बीच मुकाबला 

Assembly Election Results 2021: पांचों राज्यों में वोटों की गिनती जारी, बंगाल में TMC और BJP के बीच मुकाबला 

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल समेत 5 राज्यों में आज विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित किए जा रहे हैं. सुबह 8 बजे वोटों की गिनती शुरू हो गई है. बंगाल में जहां इस बार टीएमसी और बीजेपी के बीच मुकाबला है, तो वहीं असम में कांग्रेस और बीजेपी आमने-सामने है. तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी पर भी सभी की निगाहें टिकी हैं. चुनावी रिजल्ट के अपडेट के लिए साथ बने रहें.

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव परिणाम:
पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना कड़ी सुरक्षा और कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच जनसुरक्षा नियमों का सख्ती से पालन करते हुए रविवार सुबह आठ बजे शुरू हो गई. एक्जिट पोल (मतदान के बाद सर्वेक्षण) में 294 सदस्यीय विधानसभा के आठ चरणों में हुए चुनाव में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और भााजपा के बीच कड़ा मुकाबला रहने का अनुमान जताया गया है. मतगणना में 2,116 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला होगा. मतों की गिनती राज्य के 23 जिलों में बनाए 108 मतगणना केंद्रों पर चल रही है जहां सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. मतगणना केंद्रों पर कम से कम 292 पर्यवेक्षकों और केंद्रीय बलों की 256 टुकड़ियों को तैनात किया गया है.

पश्चिम बंगाल की 292 विधानसभा सीटों पर आठ चरणों में 27 मार्च से 29 अप्रैल तक मतदान हुआ था. कुछ उम्मीदवारों की मौत के कारण मुर्शिदाबाद जिले में शमशेरगंज और जांगीपुर सीटों पर मतदान स्थगित कर दिया गया था. इन दो सीटों पर अब मतदान 16 मई को होगा और मतगणना 19 मई को होगी. राज्य में कोरोना वायरस के मामले बढ़ने के कारण निर्वाचन आयोग ने मतगणना केंद्रों में मेज इस तरह लगाई हैं कि सामाजिक दूरी के नियमों का पालन किया जा सके. मतगणना शुरू होने से पहले सभी ईवीएम और वीवीपीएटी मशीनों को सैनेटाइज किया जाएगा. राज्य में पूर्वी मेदिनीपुर जिले की नंदीग्राम सीट पर सभी की निगाहें रहेंगी, जहां मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी और भाजपा उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी के बीच मुकाबला देखने को मिलेगा.

तमिलनाडु विधानसभा चुनाव परिणाम:
तमिलनाडु विधानसभा चुनाव के लिए कोविड-19 संबंधी नए दिशानिर्देशों का पालन करते हुए और कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच रविवार को मतगणना शुरू हो गई. राज्य में छह अप्रैल को मतदान हुआ था. प्राधिकारियों ने बताया कि मतगणना राज्य के 75 मतदान केंद्रों में सुबह आठ बजे शुरू हुई और पहले डाक मत पत्रों की गणना की जा रही है. एक्जिट पोल’ में 10 साल से विपक्ष में बैठी द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) की बड़ी जीत होने का पूर्वानुमान जताया गया है. अन्नाद्रमुक ने मतदान के बाद हुए इन सर्वेक्षणों को खारिज कर दिया है और सत्ता पर फिर से काबिज होने का भरोसा जताया है. अन्नाद्रमुक ने 2011 में द्रमुक से सत्ता छीनी थी और 2016 में इसे बरकरार रखा था. इस चुनावी मैदान में मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी और उपमुख्यमंत्री ओ. पनीरसेल्वम, द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन और उनके बेटे एवं पार्टी की युवा शाखा के सचिव उदयनिधि मारन समेत 3,998 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं. तमिलनाडु में रविवार को लॉकडाउन होने के कारण सड़कें खाली हैं और सुरक्षा प्रबंधों के तहत एक लाख से अधिक पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं. तमिलनाडु की 234 सदस्यीय विधानसभा के चुनाव और कन्याकुमारी लोकसभा सीट के उपचुनाव के लिए मतदान हुआ था.

केरल में शुरू हुई मतों की गिनती:
केरल विधानसभा चुनाव के लिए छह अप्रैल को संपन्न हुए मतदान के बाद कोविड-19 संबंधी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए रविवार को मतगणना आरंभ हो गई. मतों की गिनती सुबह आठ बजे आरंभ हुई और सबसे पहले डाक मतों की गणना आरंभ हुई. चुनावी नतीजे मुख्यमंत्री पिनराई विजयन, वरिष्ठ कांग्रेस नेता ओमन चांडी, मेट्रो मैन ई श्रीधरण और पूर्व केंद्रीय मंत्री के जे अलफोंस सहित 975 उम्मीदवारों की राजनीतिक किस्मत का फैसला करेंगे. विधानसभा चुनाव के साथ ही मल्लपुरम लोकसभा सीट पर उपचुनाव के लिए भी मतों की गिनती आरंभ हो गई. मतों की गिनती के लिए 114 मतदान केंद्रों में 633 विशाल कक्ष तैयार किए गए हैं. इनमें से 527 कक्षों में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) से मतों की गिनती हो रही है जबकि 106 कक्षों में डाक मतों की गिनती जारी है. मतगणना में 24,000 मतदान अधिकारियों को लगाया गया है जबकि सुरक्षा के मद्देनजर 30,281 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. राज्य के कुल 2.74 करोड़ मतदाताओं में से 2.03 करोड़ मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया है.चुनाव में सत्ताधारी मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेतृत्व वाले वाम लोकतांत्रिक मोर्चा और कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चा के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिल सकता है.

असम विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना आरंभ:
असम विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना रविवार को आरंभ हो गई. ज्यादातर ‘एक्जिट पोल’ (मतदान के बाद सर्वेक्षणों) में भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाले गठबंधन की लगातार दूसरी बार जीत का अनुमान जताया गया है. राज्य में 126 विधानसभा सीटों के लिए तीन चरणों में मतदान हुआ था जिसमें 74 महिलाओं समेत 946 उम्मीदवारों की कीमत का फैसला मतगणना के दौरान होगा. सुबह आठ बजे 331 मतदान सभागारों में मतणगना आरंभ हुई जहां निर्वाचन आयोग ने राज्य में कोविड-19 के मामले बढ़ने के कारण सुरक्षा नियमों का सख्ती से पालन सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न कदम उठाए हैं. मतगणना केंद्रों के बाहर भी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. मतदान के बाद हुए अधिकतर सर्वेक्षणों में भाजपा को स्पष्ट बहुमत दिया गया है जिसने असम गण परिषद और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल के साथ मिलकर चुनाव लड़ा. वहीं कांग्रेस ने ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट और कई अन्य पार्टियों के साथ मिलकर ‘महागठबंधन’ बनाया.

और पढ़ें