Live News »

VIDEO: विधानसभा अध्यक्ष ने फिर अपनाया कड़ा रुख, अधिकारी को सस्पेंड करने का दिया निर्देश

जयपुर: विधायकों द्वारा उठाये गए मुद्दे के प्रति अधिकारियों के गैर जिम्मेदाराना व्यवहार के खिलाफ विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने सख्त रुख अपना लिया है. सीपी ने लापरवाह अफसर दौसा के जिला आबकारी अधिकारी को सस्पेंड करने के निर्देश दिए है. 

विधानसभा में विधायकों ने आज कई गंभीर मामले उठाकर सरकार का किया ध्यान आकर्षित 

स्पीकर ने कड़ा रुख अपना लिया: 
विधायक के मुद्दा उठाए जाने के बावजूद अधिकारियों द्वारा कार्रवाई नहीं होने पर स्पीकर ने कड़ा रुख अपना लिया है. महुवा के निर्दलीय ओमप्रकाश हुड़ला ने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के माध्यम से विधानसभा में महुवा के हड़िया गांव में नेशनल हाइवे पर नियम विरुध शराब दुकानें आवंटित करने का मुद्दा उठाया. विधायक ने दोषी आबकारी अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. 

विधानसभा में सुनाई दी परिवहन विभाग के अफसरों के खिलाफ एसीबी कार्रवाई की गूंज, गरमाई प्रदेश की सियासत 

आबकारी अधिकारी को 16 सीसी का नोटिस दिया: 
हुड़ला के मामला उठाने के बाद मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि दौसा के जिला आबकारी अधिकारी को 16 सीसी का नोटिस दिया है, जवाब आने के बाद कार्रवाई होगी. इस पर हुड़ला ने कहा विधायक कोई मुद्दा उठाए और अफसर उसका संज्ञान ही नहीं ले यह गलत है. 

विधानसभा की गरिमा बनाये रखने के लिए मैसेज देना भी जरूरी: 
धारिवाल के जवाब से स्पीकर संतुष्ट नजर नहीं आये. स्पीकर ने ने कहा की आप सस्पेंड करने की घोषणा कीजिए. इस पर धारीवाल ने कहा कि 16 सीसी के नोटिस का जवाब आए बिना सस्पेंड करने पर अफसर हाईकोर्ट चला जाएगा. जवाब आने के बाद कार्रवाई होगी. इससे अध्यक्ष नहीं माने और कहा कि यह गंभीर मामला है. कोई विधायक मुद्दा उठाए और उस पर कार्रवाई नहीं हो इसका गलत मैसेज जाएगा. विधानसभा की गरिमा बनाये रखने के लिए मैसेज देना भी जरूरी है. आप 24 घंटे में कार्रवाई करके सदन को सूचित करें. 

परिवहन विभाग के अफसरों पर ACB कार्रवाई में अपडेट, सचिवालय के अफसरों तक पहुंचती थी बंधी की राशि !

विधानसभा अध्यक्ष लगातार अपना रहे गंभीर रुख:
विधानसभा अध्यक्ष लगातार सदन के नियम कायदों से लेकर सदन में उठाए जाने वाले मुद्दों पर कार्रवाई को लेकर गंभीर रुख अपना रहे हैं. अधिकारियों द्वारा सदन के प्रति गंभीरता नहीं दिखाने के मामले पहले भी सामने आए है. अब अध्यक्ष के इस रुख का असर सदन में उठने वाले मुद्दों पर कार्रवाई पर जरूर पड़ेगा और साथ ही अधिकारी भी अब सावचेत रहेंगे. 

 

और पढ़ें

Most Related Stories

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 574 नए केस, 6 मरीजों की मौत, अकेले बीकानेर में मिले 105 नए पॉजिटिव मरीज

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 574 नए केस, 6 मरीजों की मौत, अकेले बीकानेर में मिले 105 नए पॉजिटिव मरीज

जयपुर: राजस्थान में कोरोना वायरस के मरीजों का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है. पिछले 24 घंटे में 6 मरीजों की मौत हो गई है. जबकि 574 नए पॉजिटिव मरीज सामने आये है. प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 5 हजार 376 है. वहीं कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 23 हजार 748 पहुंच गई है. वहीं अब तक कोरोना की चपेट में आने से 503 मरीजों की मौत हो गई है. प्रदेश में 17 हजार 869 मरीज कोरोना से रिकवर्ड हो गए है. 

सबसे अधिक 105 केस बीकानेर में दर्ज:
बीकानेर में शनिवार को सबसे ज्यादा 105 मरीज सामने आये है. जबकि इन जिलों में नए केस दर्ज किए गए है, अजमेर 7, अलवर 45, बांसवाड़ा 2, बारां 2, बाड़मेर 30,भरतपुर 24, भीलवाड़ा 5, बीकानेर 105, चूरू 8, दौसा 3, धौलपुर 2, डूंगरपुर 7, गंगानगर 1, हनुमानगढ़ 4, जयपुर 53, जालौर 45, झुंझुनूं 4, जोधपुर 81, करौली 3, कोटा 1, नागौर 28, पाली 23, प्रतापगढ़ 3, राजसमंद 14, सवाईमाधोपुर 8, सीकर 8,सिरोही 18,टोंक 1, उदयपुर 36, वहीं अन्य राज्य से 3 केस सामने आये है. 

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण पर सबसे बड़ा अपडेट! गुड़गांव में हो रही विधायकों की बाड़ेबंदी 

शुक्रवार को आये थे 611 मरीज:
प्रदेश में शुक्रवार को 6 मरीजों की मौत हो गई थी. जबकि 611 नए पॉजिटिव केस सामने आये थे. बीकानेर में 3, अजमेर,भरतपुर व सवाई माधोपुर में 1-1 मरीजों की मौत हो गई. प्रदेश के अलवर जिले में सर्वाधिक 126 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले है. अजमेर- 36, बाड़मेर- 49, भरतपुर- 25, बीकानेर- 35, बूंदी- 2 पॉजिटिव, चित्तौडगढ़- 2, चूरू- 15,धौलपुर- 9, डूंगरपुर- 2, श्रीगंगानगर- 4 पॉजिटिव, हनुमानगढ़- 13, जयपुर- 46, जालोर- 5, झालावाड़- 1, झुंझुनूं- 7 पॉजिटिव, जोधपुर- 114,करौली- 6, कोटा- 7, नागौर- 12, पाली- 71, राजसमंद- 4 पॉजिटिव, सवाईमाधोपुर- 3, सीकर- 8, सिरोही- 5,  टोंक- 1, उदयपुर- 3 पॉजिटिव मरीज मिले है. राजस्थान में कोरोना की वजह से अब तक 497 मरीजों की मौत हो गई. जबकि कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 23 हजार 174 पहुंच गई.

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण: अपनी संबंधता सूची से कांग्रेस ने तीन विधायकों के नाम हटाए

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 574 नए केस, 6 मरीजों की मौत, अकेले बीकानेर में मिले 105 नए पॉजिटिव मरीज

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 574 नए केस, 6 मरीजों की मौत, अकेले बीकानेर में मिले 105 नए पॉजिटिव मरीज

जयपुर: राजस्थान में कोरोना वायरस के मरीजों का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है. पिछले 24 घंटे में 6 मरीजों की मौत हो गई है. जबकि 574 नए पॉजिटिव मरीज सामने आये है. प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 5 हजार 376 है. वहीं कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 23 हजार 748 पहुंच गई है. वहीं अब तक कोरोना की चपेट में आने से 503 मरीजों की मौत हो गई है. प्रदेश में 17 हजार 869 मरीज कोरोना से रिकवर्ड हो गए है. 

सबसे अधिक 105 केस बीकानेर में दर्ज:
बीकानेर में शनिवार को सबसे ज्यादा 105 मरीज सामने आये है. जबकि इन जिलों में नए केस दर्ज किए गए है, अजमेर 7, अलवर 45, बांसवाड़ा 2, बारां 2, बाड़मेर 30,भरतपुर 24, भीलवाड़ा 5, बीकानेर 105, चूरू 8, दौसा 3, धौलपुर 2, डूंगरपुर 7, गंगानगर 1, हनुमानगढ़ 4, जयपुर 53, जालौर 45, झुंझुनूं 4, जोधपुर 81, करौली 3, कोटा 1, नागौर 28, पाली 23, प्रतापगढ़ 3, राजसमंद 14, सवाईमाधोपुर 8, सीकर 8,सिरोही 18,टोंक 1, उदयपुर 36, वहीं अन्य राज्य से 3 केस सामने आये है. 

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण पर सबसे बड़ा अपडेट! गुड़गांव में हो रही विधायकों की बाड़ेबंदी 

शुक्रवार को आये थे 611 मरीज:
प्रदेश में शुक्रवार को 6 मरीजों की मौत हो गई थी. जबकि 611 नए पॉजिटिव केस सामने आये थे. बीकानेर में 3, अजमेर,भरतपुर व सवाई माधोपुर में 1-1 मरीजों की मौत हो गई. प्रदेश के अलवर जिले में सर्वाधिक 126 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले है. अजमेर- 36, बाड़मेर- 49, भरतपुर- 25, बीकानेर- 35, बूंदी- 2 पॉजिटिव, चित्तौडगढ़- 2, चूरू- 15,धौलपुर- 9, डूंगरपुर- 2, श्रीगंगानगर- 4 पॉजिटिव, हनुमानगढ़- 13, जयपुर- 46, जालोर- 5, झालावाड़- 1, झुंझुनूं- 7 पॉजिटिव, जोधपुर- 114,करौली- 6, कोटा- 7, नागौर- 12, पाली- 71, राजसमंद- 4 पॉजिटिव, सवाईमाधोपुर- 3, सीकर- 8, सिरोही- 5,  टोंक- 1, उदयपुर- 3 पॉजिटिव मरीज मिले है. राजस्थान में कोरोना की वजह से अब तक 497 मरीजों की मौत हो गई. जबकि कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 23 हजार 174 पहुंच गई.

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण: अपनी संबंधता सूची से कांग्रेस ने तीन विधायकों के नाम हटाए

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण: अपनी संबंधता सूची से कांग्रेस ने तीन विधायकों के नाम हटाए

जयपुर: प्रदेश में विधायकों की खरीद-फरोख्त का मामला अब लगातार तूल पकड़ता जा रहा है. अब जानकार सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर मिली है कि कांग्रेस ने अपनी संबंधता सूची से तीनों विधायकों का नाम हटाया है. इन विधायकों में खुशवीर सिंह, ओम प्रकाश हुड़ला और सुरेश टांक का नाम शामिल है. 

पूरे प्रकरण में प्राथमिक जांच शुरू:
आपको बता दें कि करीब 1 माह पहले राजस्थान के मुख्य सचेतक महेश जोशी द्वारा एसीबी को लिखे गए पत्र में यह जिक्र किया गया था कि राजस्थान में भी विधायकों की खरीद शुरू हो सकती है. इस पर एसीबी ने तकरीबन एक माह पहले सोर्स इनफार्मेशन रिपोर्ट दर्ज की थी और  एसीबी  तकनीकी और फोन सर्विलांस के माध्यम से इस खेल का पता लगाने में जुट गई थी.तकरीबन एक माह बाद एसीबी इनपुट मिले और इनपुट के आधार पर एसीबी ने आज इस पूरे प्रकरण में प्राथमिक जांच शुरू कर दी है. 

शिक्षक को नहीं किया गया एक वर्ष से वेतन का भुगतान, राजस्थान हाईकोर्ट ने टोंक जिला शिक्षा अधिकारी को किया तलब

तीन निर्दलीय विधायकों के नाम आये थे सामने:
प्राथमिक जांच में एसीबी को शुरुआत में तीन निर्दलीय विधायकों के नाम सामने आए.जिन विधायकों का नाम ओमप्रकाश हुड़ला, सुरेश टांक, खुशवीर सिंह है अब एसीबी ने अपनी प्राथमिक जांच में 3 विधायकों के नामों को दर्ज कर लिया है और उसने सूत्रों के हवाले से यह भी इन तीनों को पूछताछ के लिए बुला सकती है.इसके साथ ही एसीबी अब जल्द ही मुख्य सचेतक महेश जोशी को भी नोटिस देकर अपने बयान दर्ज करवाने के लिए बुलाएगी.फिलहाल एसीबी की टीम इस पूरे प्रकरण की जांच कर रही है. एसीबी डीजी  डॉक्टर आलोक त्रिपाठी इस पूरे प्रकरण पर नजर बनाए हुए हैं और एडीजी दिनेश एमएन के सुपर विजन में जांच चल रही है.

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण पर सबसे बड़ा अपडेट! गुड़गांव में हो रही विधायकों की बाड़ेबंदी 

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण पर सबसे बड़ा अपडेट! गुड़गांव में हो रही विधायकों की बाड़ेबंदी 

जयपुर: राजस्थान में विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण तूल पकडता जा रहा है. अब जानकार सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर मिली है कि गुड़गांव में विधायकों की बाड़ेबंदी हो रही है. 17 से 18 विधायक बाड़ेबंदी में पहुंचे. हालांकि सवाई माधोपुर विधायक दानिश अबरार बाड़ेबंदी में नहीं पहुंचे. 

प्रदेश की सीमाओं पर कड़ी नाकाबंदी:
राजाखेड़ा विधायक रोहित बोहरा और डीडवाना विधायक चेतन डूडी भी बाड़ेबंदी में नहीं पहुंचे है. तीनों विधायक दानिश अबरार के निजी आवास पर मौजूद हैं.फिलहाल तीनों विधायक बाड़ेबंदी से अलग हैं. जानकारी के मुताबिक कांग्रेस के कुछ विधायकों के फोन बंद है. आज दिन भर से फोन बंद आ रहे है.इस बीच प्रदेश की सीमाओं पर कड़ी नाकाबंदी कर दी गई है.

20 से 25 विधायकों के ठहरने की व्यवस्था:
जानकार सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर मिली है कि ITC ग्रांड भारत होटल में बाड़ेबंदी की गई है. होटल में 20 से 25 विधायकों के ठहरने की व्यवस्था है. बाड़ेबंदी का उद्देश्य सभी विधायकों को लाना नहीं है. एमपी फॉर्मूले के तहत 20-25 विधायकों को लाने की रणनीति बनाई गई है. राजस्थान सरकार को अस्थिर करने का फॉर्मूला बताया जा रहा है, लेकिन इस बीच एक बड़े सूत्र ने संकेत दिए है. गुड़गांव होटल से विधायकों को एकत्रित कर दूसरी जगह शिफ्ट किया जा सकता है.

खरीद-फरोख्त से जुड़े मसले पर बोले गुलाबचंद कटारिया, कहा-साबित कर दें मेरा रोल, तो पलभर में राजनीति से ले लूंगा संन्यास

कुछ मंत्रियों और विधायकों ने की CM से चर्चा:
सूत्रों के मुताबिक वहीं इससे पहले मुख्यमंत्री आवास पर मानेसर की भी चर्चा चल रही थी. कुछ मंत्रियों और विधायकों ने CM से चर्चा भी की है. मानेसर में एक होटल बुक होने के इनपुट दिए गए है.मुख्यमंत्री आवास पर भोपाल की भी चर्चा चली. प्रदेश के कुछ विधायकों को वहां ले जाने की चर्चा भी चली. गौरतलब है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को प्रेसवार्ता की. जिसमें उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि हम कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे है तो दूसरी तरफ ये लोग सरकार गिराने में लगे हैं. हम सबको सरकार बचाने के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है. सब कोरोना की तरफ ध्यान दे रहे हैं लेकिन ये लोग सरकार कैसे गिरे, कैसे तोड़फोड़ करें इसमें लगे हैं. बीजेपी के लोग धर्म, जाति के नाम पर लोकतंत्र की हत्या करने में जुटे हुए हैं. 

शिक्षक को नहीं किया गया एक वर्ष से वेतन का भुगतान, राजस्थान हाईकोर्ट ने टोंक जिला शिक्षा अधिकारी को किया तलब

शिक्षक को नहीं किया गया एक वर्ष से वेतन का भुगतान, राजस्थान हाईकोर्ट ने टोंक जिला शिक्षा अधिकारी को किया तलब

शिक्षक को नहीं किया गया एक वर्ष से वेतन का भुगतान, राजस्थान हाईकोर्ट ने टोंक जिला शिक्षा अधिकारी को किया तलब

जयपुर: राजस्थान हाईकोर्ट ने शिक्षा विभाग द्वारा टोंक जिले देवी सरकारी स्कूल में शिक्षक को एक वर्ष बाद भी वेतन का भुगतान नही करने पर नाराजगी जतायी है.हाईकोर्ट ने वेतन का भुगतान नही करने पर टोंल जिला शिक्षा अधिकारी को 21 जुलाई को कोर्ट में व्यक्तिगत रूप से पेशकर जवाब देने के आदेश दिये है.

खरीद-फरोख्त से जुड़े मसले पर बोले गुलाबचंद कटारिया, कहा-साबित कर दें मेरा रोल, तो पलभर में राजनीति से ले लूंगा संन्यास

याचिका पर सुनवाई करते हुए ये आदेश दिए:
जस्टिस अशोक कुमार गौड़ की एकलपीठ ने विनोदकुमार चौधरी की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए ये आदेश दिये है. राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय देवली के कार्यरत तृतीय श्रेणी अध्यापक विनोद कुमार चौधरी की ओर से अधिवक्ता लक्ष्मीकांत मालपुरा ने अदालत को बताया कि याचिकाकर्ता 2019 से ही उपखंड कार्यालय में प्रतिनियुक्ति पर है. जहां रहते हुए शिक्षक द्वारा बाढ़ नियंत्रण ,आपदा राहत ,बाल विवाह रोकथाम सहित अन्य कार्य संपादित किये जा रहे है.

जुलाई 2019 से अब तक नहीं किया वेतन का भुगतान:
उपखंड अधिकारी कार्यालय ने उसकी उपस्थिति भी शिक्षा विभाग को भेज दी है.इसके बावजूद शिक्षा विभाग ने याचिकाकर्ता को जुलाई 2019 से अब तक वेतन का भुगतान नहीं किया है.याचिका में कहा गया कि कोविड 19 के चलते याचिकाकर्ता की माली हालात भी ठीक नही है.बहस सुनने के बाद एकलपीठ ने मामले में नाराजगी जताते हुए जिला शिक्षा अधिकारी को कोर्ट में पेश होकर स्पष्टीकरण देने के आदेश दिये है.

इस वक्त की सबसे बड़ी खबर ! राजस्थान से जुड़ी सभी सीमाएं की गई सील

इस वक्त की सबसे बड़ी खबर ! राजस्थान से जुड़ी सभी सीमाएं की गई सील

जयपुर: राजस्थान से जुड़ी सभी सीमाएं सील की गई. अन्य राज्यों से लगने वाली प्रदेश की सभी सीमाएं सील की गई है. आपको बता दें कि आपराधिक ग​तिविधियों पर लगाम लगाने के लिए प्रदेश की सभी सीमाएं सील की गई है. सरकार के निर्देशों के बाद पुलिस ने राजस्थान की सीमाओं पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है. अब सभी बॉर्डरों पर कड़ी नाकाबंदी हो रही है. हर आने और जाने वालों की जांच हो रही है. पुलिस मुख्यालय से आदेश जारी हुए है. 

जालोर के सायला में प्रेमी युगल ने की आत्महत्या, पेड़ पर फांसी लगाकर दी जान 

खरीद-फरोख्त से जुड़े मसले पर बोले गुलाबचंद कटारिया, कहा-साबित कर दें मेरा रोल, तो पलभर में राजनीति से ले लूंगा संन्यास

उदयपुर: प्रदेश में विधायकों की खरीद-फरोख्त के मामले में मचे बवाल के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा भाजपा पर सरकार को गिराने के प्रयास करने के आरोप लगाने के बाद गुलाबचंद कटारिया ने अपनी प्रतिक्रिया दी. 

पलभर की देर किए बिना ले लेंगे राजनीति से संन्यास:
उदयपुर पहुंचे गुलाबचंद कटारिया ने मीडिया कर्मियों से बातचीत में साफ किया कि यदि सरकार बहुमत में है तो उसे डरने की कोई जरूरत नहीं है. साथ ही कटारिया ने कहा कि मुख्यमंत्री यदि इस बात को साबित कर दें की कटारिया का इसमें जरा सा भी हाथ है तो वह पलभर की देर किए बिना राजनीति से संन्यास ले लेंगे.

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण: एसओजी ने कहा-हमने फोन पर बातचीत के आधार पर दर्ज की है FIR 

कांग्रेस में अंदरूनी गुटबाजी:
कटारिया ने साफ किया कि कांग्रेस में अंदरूनी गुटबाजी है और जिस को छुपाने के लिए सत्ताधारी दल इस तरह के हथकंडे अपना रहा है. कटारिया ने कहा कि एसओजी पूरे मामले की जांच कर रही है और जांच में सब साफ हो जाएगा.

भरतपुर में फिर टिड्डियों का आतंक, किसानों के चेहरे पर छाई चिंता की लकीरें

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण: एसओजी ने कहा-हमने फोन पर बातचीत के आधार पर दर्ज की है FIR 

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण: एसओजी ने कहा-हमने फोन पर बातचीत के आधार पर दर्ज की है FIR 

जयपुर: राजस्थान में विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण पर एसओजी ने शनिवार को प्रेसवार्ता की. एसओजी ADG अशोक राठौड़ ने कहा कि हमने मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री से समय मांगा है. हमने परिवाद के आधार पर FIR दर्ज नहीं की है. हमने फोन पर बातचीत के आधार पर FIR दर्ज की है. एसओजी ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है. कुछ देर में दोनों की कोर्ट में पेशी होगी.

अनूठी पहल...! शादी में शामिल हुए मेहमानों को भेंट किए पौधे, देखभाल की दिलाई शपथ

दोनों आरोपियों के आरोप हुए सिद्ध:
आपको बता दें कि SOG ने अशोक सिंह और भारत मलानी को हिरासत में लिया था. दोनों आरोपियों के आरोप सिद्ध हुए है. अब दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है. ADG अशोक राठौड़ ने कहा कि कानून से ऊपर कोई नहीं है. दोनों से हमें महत्वपूर्ण जानकारियां मिली है. उसी के अधार पर अब अग्रिम कार्रवाई शुरू की जाएगी. 

सूरतगढ़ में रिश्तों का हुआ कत्ल, लाठी के वार से पिता ने उतारा पुत्र को मौत के घाट

Open Covid-19