बेटी नमिता ने गंगा की विसर्जित की अटल की अस्थियां, शाह-राजनाथ रहे मौजूद

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/08/19 02:02

हरिद्वार। भारत रत्न और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियों को रविवार दोपहर हरिद्वार के हर की पौड़ी घाट पर ब्रह्मकुंड में विसर्जित किया गया। उनकी दत्तक बेटी नमिता ने इन्हें गंगा में विसर्जित किया। इस मौके पर अटल जी की नातिन नम्रता, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सिंह सहित हजारों की संख्या में लोग मौजूद रहे।

कलश यात्रा में उमड़ा जैनसलाब
इससे पहले अलट बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा निकाली गई। दो किलोमीटर की यह यात्रा हरिद्वार के भल्ला ग्राउंड से शुरू होकर हर की पौड़ी पर खत्म हुआ। इस दौरान एक विशाल जनसैलाब यात्रा में शामिल हुआ। अस्थि कलश यात्रा में शामिल होने के लिए 200 बसों में 15000 बीजेपी कार्यकर्ता देहरादून से हरिद्वार पहुंचे थे।

विशेष विमान से आए देहरादून 
इससे पहले रविवार सुबह अटल जी के परिवारवालों ने दिल्ली में स्मृति स्थल से अस्थियों को संचित किया। इन्हें सेना के विशेष विमान से देहरादून और फिर हेलिकॉप्टर से हरिद्वार लाया गया।

100 नदियों में किया जाएगा प्रवाहित
बता दें कि 16 अगस्त को दिल्ली एम्स में अटलजी का निधन हुआ था। अटलजी की अस्थियों को देश की 100 नदियों में प्रवाहित किया जाएगा। इसके अलावा, 20 दिनों तक देश के सभी राज्यों में प्रार्थना सभाएं रखी जाएंगी। दिवंगत प्रधानमंत्री की याद में सभी राज्यों में 10-15 दिनों तक सामूहिक प्रार्थना सभा का आयोजन किया जाएगा। जिसकी शुरुआत 20 अगस्त को दिल्ली से होगी। 

इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में शाम चार बजे से छह बजे तक के.डी. जाधव भवन में सभा का आयोजन किया जाएगा, जिसमें सभी दल शामिल होंगे। दरअसल, अटलजी का लखनऊ से गहरा लगाव था, इसलिए 23 अगस्त को वहां भी उनकी स्मृति सभा का आयोजन किया जाएगा, जिसमें योगी आदित्यनाथ, राजनाथ सिंह और अटलजी के परिवार के सदस्य शामिल होंगे। उनकी राख उसी दिन गोमती में प्रवाहित की जाएगी।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in