भाजपा अध्यक्ष पर जानलेवा हमला, 7 दिसंबर से लोकतंत्र बचाओ रैली

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/12/06 06:43

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के भाजपा अध्यक्ष पर जानलेवा हमला बोला गया है। कूचबिहार में  भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष के काफिले पर हमलावरों ने हमला किया है। हालांकि अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है कि हमला के पीछे क्या मकसद था। लेकिन पार्टी ने हमला के पीछे सत्ताधारी दल को जिम्मेदार ठहराया है। भाजपा ने कहा कि ममता सरकार कानून व्यवस्था संभालने में पूरी तरह विफल रही है।

गौरतलब है कि शुक्रवार यानी 7 दिसंबर से भाजपा की लोकतंत्र बचाओ रैली अभियान का आगाज होने जा रहा है। इसमें अमित शाह शामिल होंगे। लेकिन ममता सरकार ने रैली करने से इनकार कर दिया है। ममता बनर्जी सरकार ने हाईकोर्ट के डिविजन बेंच को कहा कि कूच बिहार से शुरू होने वाली बीजेपी की रथ यात्रा को अनुमति नहीं दी जाएगी।

इससे पहले इसी साल अगस्त में बांकुरा के खतरा इलाके में दिलीप घोष के वाहन पर फायरिंग की गई । इसमें दिलीप घोष बाल-बाल बच गए थे। दिलीप घोष ने कहा कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने मेरे और मेरी गाड़ी पर हमला किया। प्रदेश में लोकतंत्र नाम की चीज़ नहीं है पूरे प्रांत में भय का माहौल बना हुआ है। बता दें कि पश्चिम बंगाल में भाजपा और टीएमसी के बीच आए दिन विवाद होते रहते हैं।

पिछले साल अक्टूबर 2017 में भी प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष और उनकी पार्टी समर्थकों पर दार्जिलिंग में गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (जीजेएम) से निकाले गए विनय तमांग के समर्थकों ने हमला किया। घोष से धक्का-मुक्की की और लात मारी। दिलीप घोष ने हमले के लिए तृणमूल कांग्रेस और विनय तमांग को जिम्मेदार ठहराया। तमांग ने इससे इनकार किया है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

रिजर्व बैंक के गर्वनर उर्जित पटेल ने दिया इस्तीफा

विजय माल्या के प्रत्यर्पण पर आज आ सकता है बड़ा फैसला
संसद सत्र हंगामेदार रहने के आसार
प्रधानमंत्री कार्यालय के PRO जगदीश ठक्कर का निधन
धौलपुर जेल से कैदी का वीडियो वायरल
मासूम बच्चो की प्रस्तुतियों ने मोहा मन
प्रेरक वक्ता राम चंदानी ने दिए सफलता के मूल मंत्र, जिंदगी वैसी बनाएं जैसी जीना चाहते है
मासूम बच्चो की प्रस्तुतियों ने मोहा मन
loading...
">
loading...