जयपुर Autonomous Government Minister ने किया विकास कार्यों का निरीक्षण ऑक्सीजोन Park में विकसित हो World Class Facilities- धारीवाल

Autonomous Government Minister ने किया विकास कार्यों का निरीक्षण ऑक्सीजोन Park में विकसित हो World Class Facilities- धारीवाल

Autonomous Government Minister ने किया विकास कार्यों का निरीक्षण ऑक्सीजोन Park में विकसित हो World Class Facilities- धारीवाल

जयपुर: स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल (Autonomous Government Minister Shanti Dhariwal) ने कहा कि ऑक्सीजोन पार्क में विश्व स्तरीय सुविधाओं का समावेश करते हुए अलग-अलग ब्लॉक में सघन पौधरोपण करें जिससे पार्क का नाम चरितार्थ हो सके.

विकास कार्यों की गुणवत्ता को देखा और सुधारात्मक निर्देश दिए:
स्वायत्त शासन मंत्री ने रविवार को कोटा में ऑक्सीजोन सहित विभिन विकास कार्यों का निरीक्षण कर रहे थे. उन्होंने कहा कि ऑक्सीजोन पार्क (Oxyzone Park) में जो भी निर्माण कार्य चलाये जा रहे हैं, उनमें विश्वस्तरीय तकनीकी (World Class Technology) का समावेश किया जाए. उन्होंने सम्पूर्ण पार्क का भ्रमण कर मौके पर विकास कार्यों की गुणवत्ता को देखा तथा सुधारात्मक निर्देश प्रदान किये. उन्होंने कहा कि संपूर्ण पार्क में वर्षा पूर्व विभिन्न प्रजातियों के अधिक से अधिक पौधे लगाने का कार्य पूरा किया जाए जिससे वर्षा के दौरान वो विकसित हो सकें.

ब्लॉक का पौधों के नाम पर होगा नामकरण:
उन्होंने अलग-अलग ब्लॉक में अलग-अलग प्रजाति के पौधे लगाकर उस ब्लॉक का नामकरण पौधों के आधार पर करने के निर्देश दिए. स्वायत्त शासन मंत्री ने ऑक्सीजोन पार्क में केनाल के समीप आम नागरिकों के भ्रमण के लिए तैयार किये जा रहे भ्रमण पथ के एक तरफ नहर दूसरी तरफ सघन वन के रुप मे पौधे लगाने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि यहां आने वाले नागरिकों को कोटा के नहरी क्षेत्र के साथ सघन वन का एहसास भ्रमण के समय हो सके.

उन्होंने निरीक्षण के समय एवीएरी (पक्षीशाला), उल्टा पिरामिड, ग्लोब स्टेचू पर पिघलता लावा, काइनेटिक सर्किल, ट्रीमैन सर्किल, ज्ञान सर्किल का निरीक्षण किया तथा समय पर गुणवत्ता के साथ कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि हर किनारे 8 फीट का पाथ-वे, उसके बाद 10 फीट का सघन पौधा रोपण कराया जावे जिससे भ्रमण के समय नागरिक नौकायन का भी लुत्फ उठा सकें

पार्क के चारों ओर ऑक्सीजोन के लिए पीपल के पेड़ लगाने के निर्देश:
उन्होंने बादाम के पेड़ों के ब्लॉक, नीम के पेड़ों के ब्लॉक तथा विदेशी फूलों के ब्लॉक का भी निरीक्षण किया तथा पार्क के चारों ओर ऑक्सीजोन को बढ़ाने के लिए पीपल व अधिक ऑक्सीजन देने वाले पौधे लगाने के निर्देश दिए. उन्होंने विद्यार्थियों के लिए विज्ञान हाउस, ज्ञान केंद्र, फव्वारा सर्किल, मुख्य द्वार पर निर्माण कार्य का भी निरीक्षण किया तथा कार्य को गति देने के लिए श्रमिकों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए.

और पढ़ें