जयपुर VIDEO: BCCI का घरेलू सत्र 2022-23 घोषित, सत्र में 1500 से अधिक खेले जाएंगे मैच, देखिए ये खास रिपोर्ट

VIDEO: BCCI का घरेलू सत्र 2022-23 घोषित, सत्र में 1500 से अधिक खेले जाएंगे मैच, देखिए ये खास रिपोर्ट

जयपुर: कोरोना की मार के चलते दो साल से गड़बड़ाया भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड का घरेलू कैलेंडर अब फिर से पटरी पर आने वाला है. बीसीसीआई ने भारतीय घरेलू सत्र 2022-23 की घोषणा कर दी है. इस बार दिलीप ट्रॉफी के साथ साथ ईरानी कप की भी वापसी हो रही है. सत्र की शुरुआत दिलीप ट्रॉफी के साथ होगी. 

बीसीसीआई ने घरेलू सीजन 2022-23 के लिए मैचों के कार्यक्रमों की घोषणा कर दी है. बोर्ड के शेड्यूल के मुताबिक, घरेलू सीजन 2022-23 के तहत मार्च 2023 से लेकर सितंबर 2022 तक 1500 से ज्यादा मैच खेले जाएंगे. इस बार दलीप ट्रॉफी के साथ साथ ईरानी कप की भी वापसी हो रही है. दलीप ट्रॉफी के मैच आठ से 25 सितंबर तक छह जोन में खेले जाएंगे. इसके बाद सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी और फिर विजय हजारे ट्रॉफी के मुकाबले होंगे. दिलीप ट्रॉफी 8 सितंबर से 25 सितंबर तक होगी, जो छह जोन उत्तर, दक्षिण, मध्य, पश्चिम, पूर्व और पूर्वोत्तर के बीच नॉकआउट आधार पर खेली जाएगी. एक से पांच अक्टूबर तक होने वाले ईरानी कप में मौजूदा रणजी ट्रॉफी चैंपियन मध्य प्रदेश का सामना शेष भारत की टीम से होगा. दिलीप ट्रॉफी आखिरी बार 2019-20 सीजन में आयोजित की गई थी, जबकि ईरानी कप आखिरी बार 2018-19 सीजन में हुई थी. रणजी ट्रॉफी को पहली बार 2020-21 सीजन में कोविड-19 महामारी के कारण रद्द कर दिया गया था, जबकि टूर्नामेंट का एक छोटा सीजन 2021-22 सीजन में आयोजित किया गया था. लेकिन अब, 2022-23 सीजन में, यह सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी और विजय हजारे ट्रॉफी की समाप्ति के बाद 13 दिसंबर से शुरू होने वाले अपने सामान्य प्रारूप में वापस आ जाएगा. रणजी ट्रॉफी का आयोजन भी पुराने फॉर्मेट में होगा. इसे 13 दिसंबर से 20 फरवरी तक खेला जायेगा. इसका आयोजन एलीट और प्लेट वर्ग के आधार पर होगा . एलीट वर्ग में 32 टीमें होंगी और इसे आठ टीमों के चार ग्रुप में बांटा जायेगा. रणजी ट्रॉफी में राजस्थान को एलीट ग्रुप-सी में रखा गया है. इस ग्रुप में कर्नाटक, केरल, झारखंड, छत्तीसगढ, सर्विसेज, गोवा व पुडुचेरी शामिल है. बीसीसीआई का कैलेंडर घोषित होने से प्रदेश के क्रिकेट जगत में भी खुशी का माहौल है. आरसीए के पूर्व उपाध्यक्ष मोहम्मद इकबाल ने कहा है कि टूर्नामेंट होने से प्रदेश की प्रतिभाओं को निखरने का मौका मिलेगा.

8 सितंबर से BCCI के घरेलू सीजन की शुरुआत होगी

8 सितंबर से 25 सितंबर तक होगी दिलीप ट्रॉफी

1 अक्टूबर से 5 अक्टूबर तक होगा ईरानी कप

11 अक्टूबर से 5 नवंबर तक होगी मुश्ताक अली ट्रॉफी

12 नवंबर से 2 दिसंबर तक होगी विजय हजारे ट्रॉफी

13 दिसंबर 2022 से 20 फरवरी 2023 तक होगी रणजी ट्रॉफी

रणजी ट्रॉफी का आयोजन एलीट और प्लेट वर्ग के आधार पर होगा

एलीट वर्ग में 32 टीमें होंगी, चार ग्रुप में बांटा गया

रणजी ट्रॉफी में राजस्थान को एलीट ग्रुप-सी में रखा गया है

इस ग्रुप में कर्नाटक, केरल, झारखंड, छत्तीसगढ, सर्विसेज, गोवा व पुडुचेरी

वहीं  महिला घरेलू क्रिकेट कैलेंडर में, फरवरी 2023 में दक्षिण अफ्रीका में होने वाले आईसीसी महिला टी20 विश्व कप के कारण, सीनियर महिला टी20 ट्रॉफी पहली प्रतियोगिता होगी. यह प्रतियोगिता 11 अक्टूबर से शुरू होकर 5 नवंबर को समाप्त होगी. इसके बाद सीनियर महिला इंटर-जोनल टी20 और टी20 चैलेंजर होगी. 50 ओवर का प्रारूप फिर सीनियर महिला वनडे ट्रॉफी और इंटर-जोनल होगा. इस सीजन से सीनियर महिला इंटर-जोनल टी20 और वनडे दोनों को फिर से शुरू किया गया है. बीसीसीआई 2006 के बाद पहली बार महिलाओं के लिए होने वाले 50 ओवर के अंडर-16 टूर्नामेंट को भी आयोजित करेगी. पुरुषों की अंडर-25, अंडर-19 व अंडर-16 टूर्नामेंट भी इस बार आयोजित होगा. वहीं महिलाओं में भी सीनियर के अलावा जूनियर अंडर-19 टूर्नामेंट भी खेला जाएगा.

महिला टी-20 ट्रॉफी पहली प्रतियोगिता होगी

यह प्रतियोगिता 11 अक्टूबर से 5 नवंबर तक होगी

पुरुषों का अंडर-25 वनडे टूर्नामेंट 20 नवंबर से 10 दिसंबर तक

सीके नायडू अंडर-25 ट्रॉफी अगले साल एक जनवरी से 15 मार्च तक

अंडर-19 टूर्नामेंट 7 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक

अंडर-16 टूर्नामेंट एक दिसंबर से 20 जनवरी तक

भारतीय क्रिकेट बोर्ड का कैलेंडर तय होते ही राजस्थान क्रिकेट संघ ने भी घरेलू टूर्नामेंट के लिए अपनी तैयारियां शुरू कर दी है. आरसीए तो सितंबर में राजस्थान प्रीमियर लीग कराना चाहता था, लेकिन अब वह लीग खटाई में पड़ गई है. अब आरसीए ने इसी महीने कॉल्विन शील्ड कराने का फैसला किया है.

और पढ़ें