इंदौर BJP महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का बयान, मदरसों में कुरआन के साथ कम्प्यूटर की तालीम भी दी जाए

BJP महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का बयान, मदरसों में कुरआन के साथ कम्प्यूटर की तालीम भी दी जाए

BJP महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का बयान, मदरसों में कुरआन के साथ कम्प्यूटर की तालीम भी दी जाए

इंदौर: भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने रविवार को कहा कि मदरसों के विद्यार्थियों को आधुनिक शिक्षा से जोड़ने के लिए इन संस्थानों में कुरआन के साथ कम्प्यूटर की तालीम जरूरी है ताकि इनके विद्यार्थी डॉक्टर-इंजीनियर भी बन सकें.

विजयवर्गीय ने इंदौर में संवाददाताओं से कहा कि आप मदरसे में कुरआन की पढ़ाई कराएं, इस पर हमें कोई आपत्ति नहीं है. लेकिन मदरसे के विद्यार्थियों के दूसरे हाथ में कम्प्यूटर दे दिया जाए ताकि उन्हें आधुनिक शिक्षा भी मिल सके.

उन्होंने कहा कि मदरसे में पढ़ा हुआ व्यक्ति डॉक्टर-इंजीनियर नहीं बन पाता. हम चाहते हैं कि मदरसे में पढ़ा हुआ व्यक्ति डॉक्टर-इंजीनियर भी बने, इसलिए मदरसे में कुरआन के अलावा दूसरी शिक्षा भी दी जाए. भाजपा महासचिव ने कहा कि मदरसों में आधुनिक शिक्षा का प्रयोग असम और उत्तर प्रदेश में शुरू हो गया है. विजयवर्गीय ने हालांकि मदरसों की पढ़ाई के सवाल को व्यापक विषय बताया और कहा कि इस सिलसिले में सरकार और समाज, दोनों को विचार करना पड़ेगा.

शक्तियों को राजनीतिक संरक्षण नहीं मिलना चाहिए: 
 उन्होंने कहा कि समाज भले ही बड़े आरोप लगाकर कहे कि मदरसों में जो शिक्षा दी जाती है, उस पर नियंत्रण की आवश्यकता है, लेकिन हम आज के समय में मदरसों की पढ़ाई पर कोई नियंत्रण नहीं करना चाहते. उदयपुर में दर्जी कन्हैयालाल की निर्मम हत्या की घटना पर विजयवर्गीय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारत की साख दुनिया में बढ़ी है, लेकिन कुछ ताकतें ऐसी घटनाओं के बूते देश को नीचा दिखाना चाहती हैं और इन शक्तियों को राजनीतिक संरक्षण नहीं मिलना चाहिए.

कांग्रेस का असली चेहरा सबके सामने आ गया:
भाजपा महासचिव ने कहा कि उदयपुर की बेहद दर्दनाक घटना को कांग्रेस एक सामान्य कत्ल मान रही है, लेकिन साजिश के तहत की गई यह हत्या आतंकी स्वरूप वाली थी. इसका वीडियो बनाकर इसे प्रसारित किए जाने का मतलब है कि हत्यारे समाज में आतंक फैलाना चाहते थे. उन्होंने आगे कहा कि मैं आपसे ही पूछता हूं कि अगर यह घटना उत्तर प्रदेश में होती, तो क्या होता? यह एक सरकार और राजनीतिक दल की नीति और नीयत का सवाल है और इस घटना के बाद कांग्रेस का असली चेहरा सबके सामने आ गया है.

इस हत्याकांड के पीछे षड्यंत्र था:
कन्हैयालाल हत्याकांड के आरोपियों में शामिल रियाज अख्तरी को कांग्रेस द्वारा भाजपा का सदस्य बताए जाने पर विजयवर्गीय ने कहा कि अब तो समझ आ गया है कि इस हत्याकांड के पीछे षड्यंत्र था. अगर किसी व्यक्ति को इस कार्यालय (भाजपा के इंदौर कार्यालय) में कोई (आपराधिक) घटना करनी है, तो वह पहले भाजपा की ऑनलाइन सदस्यता लेगा और कार्यालय में आने के लिए कहेगा कि वह भाजपा का सदस्य है. गौरतलब है कि भाजपा की ओर से शनिवार को कांग्रेस के इस आरोप का खंडन किया गया था कि अख्तरी भाजपा का सदस्य है. सोर्स-भाषा 

और पढ़ें