Live News »

बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने राम मंदिर विवाद पर दिया बड़ा बयान दिया

बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने राम मंदिर विवाद पर दिया बड़ा बयान दिया

उन्नाव। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने बड़ा बयान दिया है। साक्षी महाराज ने कहा है कि राम मंदिर विवाद का मामला सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है, इस मामले में अदालत भी फैसला कर सकती है और जाते जाते हम भी फैसला कर सकते हैं। राम मंदिर निर्माण को लेकर संसद के कानून लाये जाने के सवाल पर कहा है कि अगर कोई रास्ता नहीं निकला को संसद कानून ला सकती है। 

उन्होंने कहा है कि हमारी सरकार है हम कानून लाने वाले नहीं हैं लेकिन हाथ उठाने वाले जरुर हैं। साक्षी महाराज ने कहा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा अपना चुनावी वायदा पूरा करेगी और मंदिर का निर्माण भी शुरु होगा। उन्होंने कहा है कि देश में आज मंदिर निर्माण को लेकर वातावरण तैयार हो चुका है और केन्द्र में भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार भी है। इसलिये ये कहा जा रहा है कि अभी नहीं तो कभी नहीं। उन्होंने कहा है कि सभी लोगों का कहना है कि मंदिर वहीं पर बनेगा और दुनिया की कोई ताकत अब मंदिर बनने से नहीं रोक सकती है। 

और पढ़ें

Most Related Stories

प्रियंका गांधी ने उन्नाव पहुंच गैंगरेप पीड़िता के परिजनों से की मुलाकात

प्रियंका गांधी ने उन्नाव पहुंच गैंगरेप पीड़िता के परिजनों से की मुलाकात

उन्नाव: दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में देर रात उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता का निधन हो गया. उसके पार्थिव शरीर को उन्नाव लाया जा रहा है. इस बीच कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी उन्नाव पहुंच चुकी हैं. उसके बाद प्रियंका ने पीड़िता के परिवार से मुलाकात की. प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी और प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह भी नजर आए. प्रियंका गांधी परिवार से मिलने उनके घर के अंदर भी गई. 

सपा के बाद कांग्रेस ने भी किया विरोध: 
सपा के बाद कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता  विधानसभा और बीजेपी कार्यालय के सामने धरने पर बैठे. इस दौरान उनकी पुलिस से झड़प हुई. झड़प के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया. इस दौरान कांग्रेस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच भी झड़प हुई.

मायावती ने योगी सरकार पर बोला हमला:
बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि पिछले कुछ सालों में खास कर बीजेपी सरकार के दौरान महिलाएं सुरक्षित नहीं महसूस कर रहीं. यूपी में ऐसा कोई भी दिन नहीं जाता जब महिलाओं के खिलाफ अपराध का कोई केस न हो. जब तक राज्य सरकार समय तय कर एक्शन लेना नहीं शुरू करेगी, ऐसी घटनाएं थमने वाली नहीं हैं.

'मुझे जलाने वालों को छोड़ना मत': 
90 प्रतिशत से भी ज्यादा जल चुकी यूपी की इस 'निर्भया' ने आखिरी वक्त तक भी हार नहीं मानी थी. गुरुवार रात 9 बजे तक वह होश में थी. जब तक होश में थी कहती रही- मुझे जलाने वालों को छोड़ना मत. फिर नींद में चली गई, डॉक्टरों ने पूरी कोशिश की, वेंटिलेटर पर रखा लेकिन वो नींद से नहीं उठी. और फिर दुनिया छोड़ कर चली गई. 

पैदा होते ही फेंक गया था नूपुर चौहान को डस्टबिन में, 'Kaun Banega Crorepati 11' के मंच पर खुली दर्द भरी दास्तान

पैदा होते ही फेंक गया था  नूपुर चौहान को डस्टबिन में, 'Kaun Banega Crorepati 11' के मंच पर खुली दर्द भरी दास्तान

नई दिल्ली: उन्नाव के बाघीपुर क्षेत्र के कपुरपुर गांव में रहने वाली नुपर सिंह, जिन्हे जन्म के तुरंत बाद ही कचरे के डिब्बे में फेंक दिया गया था वह कौन बनेगा करोड़पति के मंच पर पहुंची. सोनी टीवी में प्रसारित होने वाला गेम रियलिटी शो 'Kaun Banega Crorepati 11' के मंच पर अब तक कई लोगों की किस्मत बदल चुकी है, ऐसे में इस शो में होंसलो से ऊंची उड़ान भरने वाली नुपुर कंटेस्टेंट बनकर आई, जिन्हे जन्म के तुरंत बाद ही कचरे के डिब्बे में फेंक दिया गया था.केबीसी में आई नूपुर ने अमिताभ से कहा कि वो नहीं चाहती हैं कि लोग उन्हें सहानुभूति की नजर से देखें.नूपर एक शिक्षक हैं और छोटे बच्चों को पढ़ाती हैं.नूपुर से अमिताभ बच्चन जी ने पूछा कि उनकी ये हालत कैसे हुई इसके जवाब में नूपुर चौहान ने जो कहनी बताई है वो हैरान करने वाली है.नूपुर ने बताया कि जब वो पैदा हुईं तो उन्हें सर्जिकल औजार लग गए थे ऑपरेशन के वक्त और वो रोईं नहीं, डॉक्टरों ने कहा ये मृत है और उन्हें डस्टबिन में फेंक दिया.इसके बाद नूपुर की आंटी ने कहा कम से कम हमें वो बच्ची को साफ करके दे तो दो जब डस्टबिन से बच्ची को निकाला गया तो उन्होंने कहा कि बच्ची को थोड़ा थपथपाओ शायद इसकी सांसे चल जाए और वही हुआ नूपुर रोने लगी लेकिन वो रोईं तो 12 घंटे तक रोती ही रहीं। नूपुर ने कहा वो मरी नहीं थीं बस उनके शरीर में ऑक्सीजन की कमी थी। बाद में डॉक्टर्स ने बताया कि ये स्पेशल चाइल्ड है

उन्नाव के बाघीपुर क्षेत्र के कपुरपुर गांव में रहने वाली नुपर सिंह, किसान परिवार से ताल्लुक रखती हैं.वह चलने-फिरने और उठने-बैठने में बहुत तकलीफ महसूस करती हैं, इसके बावजूद वो व्हील चेयर का इस्तेमाल नहीं करती हैं नुपुर एक खास तरह कि बीमारी से पीड़ित हैं जिसमें व्यक्ति का दिमाग उनकी उम्र से दो या 10 साल पीछे चलता है हालांकि खुशकिस्मती से नुपुर का दिमाग इस बीमारी के बावजूद भी उनकी उम्र के साथ ही चलता है. नूपुर ने कहा उनका शरीर जरूर दिव्यांग है लेकिन उनका दिमाग सामान्य है. नूपुर ने अपने स्कूल में टॉप भी किया था
 

Open Covid-19