भाजपा का मिशन-2024, लोकसभा चुनावों की तैयारियों में जुटे जे पी नड्डा, 100 दिनों तक देश के अलग-अलग राज्यों का करेंगे दौरा

भाजपा का मिशन-2024, लोकसभा चुनावों की तैयारियों में जुटे जे पी नड्डा, 100 दिनों तक देश के अलग-अलग राज्यों का करेंगे दौरा

भाजपा का मिशन-2024, लोकसभा चुनावों की तैयारियों में जुटे जे पी नड्डा, 100 दिनों तक देश के अलग-अलग राज्यों का करेंगे दौरा

नई दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा साल 2024 में होने वाले आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर जमीनी तैयारियों को सुदृढ़ करने के मकसद से 100 दिनों का देशव्यपाी दौरा करेंगे. इस दौरान पार्टी का जोर उन राज्यों में अपनी स्थिति मजबूत करना रहेगा जहां पिछले लोकसभा चुनाव में उसकी स्थिति कमजोर थी. सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक अपने दौरे का अधिकांश समय नड्डा उन राज्यों में बिताएंगे जहां भाजपा सत्ता से बाहर है.

उन सीटों पर ध्यान केंद्रित करेंगे जिनको 2019 के लोकसभा चुनाव में गवां दिया थाः
सूत्रों ने बताया कि अपनी यात्रा के दौरान नड्डा प्रदेश भाजपा के नेताओं के साथ बैठक कर उन सीटों पर ध्यान केंद्रित करेंगे और रणनीति तैयार करेंगे जिन्हें भाजपा ने 2019 के लोकसभा चुनाव में गवां दिया था. इस दौरान वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्थानीय पदाधिकारियों के साथ भी बैठकें करेंगे. राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) का दायरा बढ़ाना भी इस यात्रा का एक मकसद होगा और संभावित सहयोगियों के मुद्दे पर नड्डा राज्यों के नेताओं से चर्चा करेंगे. नड्डा के दौरे का विस्तृत कार्यक्रम पार्टी की ओर से जल्द ही जारी किया जाएगा.

राज्यों को चार श्रेणियों में बांटाः
सूत्रों का कहना है कि भाजपा ने नड्डा के दौरे के कार्यक्रम के लिए राज्यों को चार श्रेणियों में बांटा है. पहली श्रेणी में उन राज्यों को शामिल किया गया है जहां भाजपा अपने बूत या सहयोगियों के साथ सत्ता में है. दूसरी श्रेणी में वे राज्य हैं जहां भाजपा सत्ता से बाहर है. तीसरी श्रेणी छोटे-छोटे राज्यों की है जबकि चौथी श्रेणी में वे राज्य हैं जहां विधानसभा के चुनाव होने हैं.

भाजपा के दो महासचिव संभालेंगे राज्यों की जिम्मेदारीः
भाजपा मुख्यालय की ओर से राज्य इकाईयों को नड्डा के इस प्रस्तावित अभियान के मद्देनजर आवश्यक इंतजामात करने के निर्देश जारी किए गए हैं. राज्यों की जिम्मेदारी भाजपा के दो महासचिव संभालेंगे और वे अपने-अपने राज्यों के साथ नड्डा की बैठकों का समन्वय करेंगे. एक अन्य महासचिव को पूरी यात्रा की निगरानी सौंपी गई है. कोविड-19 महामारी के मद्देनजर जारी दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने के लिए राज्यों को ताकीद की गई है. बैठक के दौरान किसी हॉल में एक साथ 200 से अधिक लोग ना हो, इसका भी ध्यान रखने का निर्देश राज्यों को जारी किया गया है.

तय नौ विषयों में 2024 लोकसभा चुनाव के लिए रणनीति तैयार करना शामिलः 
पार्टी ने नड्डा के इस दौरे का उद्देश्य के रूप में मुख्य रूप से नौ विषय तय किए हैं जिनमें संगठन को मजबूत करना, टीम की भावना विकसित करना और 2024 लोकसभा चुनाव के लिए रणनीति तैयार करना शामिल है. अपनी यात्रा के दौरान नड्डा बूथ से लेकर राज्य स्तर के नेताओं, सांसदों, विधायकों, पदाधिकारी और जहां पार्टी सत्ता में है वहां के मुख्यमंत्री और मंत्रियों के साथ संवाद भी करेंगे. इस दौरान वे जन सभा और संवाददाता सम्मेलनों को भी संबोधित करेंगे. साथ ही पार्टी के सोशल मीडिया विभाग के पदाधिकारियों को भी संबोधित करने का उनका कार्यक्रम रखा गया है.
सोर्स भाषा

और पढ़ें