रामदेवरा में बाबा रामदेव मन्दिर हुआ बंद, जनता कर्फ्यू से पहले पसरा सन्नाटा

रामदेवरा में बाबा रामदेव मन्दिर हुआ बंद, जनता कर्फ्यू से पहले पसरा सन्नाटा

रामदेवरा में बाबा रामदेव मन्दिर हुआ बंद, जनता कर्फ्यू से पहले पसरा सन्नाटा

रामदेवरा(जैसलमेर): रामदेवरा में अल सुबह 3 बजे खुलने वाली प्रसाद व अभिषेक की अधिकांश दुकानें शनिवार को सूरज निकलने के बाद भी बन्द रही. यात्रियों से गुलजार रहने वाली मुख्य सड़कों पर सुबह से वीरानी छाई हुई है. दूर दूर तक यात्रियों की कोई चहल पहल नहीं. स्थानीय लोग भी घरों में दुबके हैं. ये नज़ारा शनिवार को रामदेवरा में सुबह नज़र आया. 

कोरोना वायरस: देश में बढ़ रहे संक्रमित मरीज, 250 पहुंची संख्या 

दुकानें बन्द और सड़क पर सन्नाटा पसरा हुआ: 
फर्स्ट इंडिया न्यूज ने शनिवार को सुबह रेलवे स्टेशन रोड का दौरा किया. अमूमन ये सड़क 24 घण्टे अतिव्यस्त रहती हैं. रेलों से आने व जाने वाले यात्रियों की भारी भीड़ के चलते इस सड़क पर रौनक रहती हैं. शनिवार को दुकानें बन्द और सड़क पर सन्नाटा पसरा हुआ है.

ऐतिहात के तौर पर 21मार्च से 31 मार्च तक बन्द: 
कोरोना वायरस से बचाव के लिये ऐतिहात के तौर पर 21मार्च से 31 मार्च तक बन्द किये गये बाबा रामदेव मन्दिर के बाद शुक्रवार की शाम,शनिवार सुबह रामदेवरा आई सभी रेलों में रामदेवरा के आये कुछ यात्री मन्दिर के आगे जोड़ कर वापस लौट गये. रामदेवरा में 500 के करीब प्रसाद,अभिषेक, परचून की दुकानों के साथ ही 400 धर्मशालाओ व दो दर्जन होटलो के चलते प्रतिवर्ष करोड़ों का व्यवसाय यात्रियों की आवक से होता हैं. 

कोरोना की तीसरी स्टेज में राजस्थान! पिछले 12 घंटे में 8 लोगों में कोरोना पॉज़िटिव, तो भीलवाड़ा में बाजार बंद

मन्दिर में अभिषेक व आरती पूर्व कार्यक्रम की तरह:
650 साल में बाबा रामदेव मन्दिर कोरोना वायरस के चलते लगातार दस दिन 31 मार्च तक श्रद्धालुओं के लिये बन्द रहेगा. लेकिन मन्दिर में अभिषेक व आरती पूर्व कार्यक्रम की तरह होती रहेगी. समाधि समिति के लिये निर्णय के बाद से श्रद्धालुओं ने रामदेवरा आने के अपने कार्यक्रम रद्द करने शुरू कर दिये हैं. 
 

और पढ़ें