जयपुर प्रशासन शहरों के संग अभियान से जुड़े कार्मिकों के तबादलों पर रोक

प्रशासन शहरों के संग अभियान से जुड़े कार्मिकों के तबादलों पर रोक

प्रशासन शहरों के संग अभियान से जुड़े कार्मिकों के तबादलों पर रोक

जयपुर: गहलोत सरकार ने प्रशासन शहरों के संग अभियान का काम प्रभावित होते देख इससे जुड़े अधिकारियों और कर्मचारियों के तबादलों पर रोक लगा दी है. अन्य विभागों के कर्मचारियों के लिए 30 मई को जारी किया गया आदेश यथावत रहेगा.जनप्रतिनिधियों की मांग के मद्देनजर गहलोत सरकार ने 30 मई को विभागों में अधिकारियों कर्मचारियों के तबादलों की छूट दी थी. 

उधर प्रशासन शहरों के संग अभियान का तीसरा चरण 15 जुलाई से शुरू हुआ था. सरकार ने यह चरण तो शुरू कर दिया लेकिन तबादलों में दी गई छूट की वजह से कई अधिकारी, कर्मचारी इसी फेर में उलझे हुए दिखाई दे रहे थे. ऐसे में सरकार ने अभियान से जुड़े अधिकारियों और कर्मचारियों के तबादलों पर रोक लगा दी है.

इन पर लगी रोक -
प्रशासनिक विभाग की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि 30 मई को राजकीय अधिकारियों कर्मचारियों के स्थानांतरण पर लगे प्रतिबंध को अग्रिम आदेश तक हटा दिया था. उसी की आज्ञा के क्रम में प्रशासन शहरों के संग अभियान से नियोजित नगरीय विकास विभाग और स्थानीय प्रशासन विभाग के अधिकारियों , कर्मचारियों , आयुक्त , अधिशासी अभियंता , अधिकारी , राजस्व अधिकारी , राजस्व निरीक्षक सभी वर्ग के इंजीनियर , अभियान कार्यों से जुड़े संबंधित लिपिक वर्ग और नगर नियोजन के कार्मिकों के तबादले पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गई है. 

आदेश में यह भी कहा गया है कि शेष विभागों के कर्मचारियों अधिकारियों के लिए 30 मई का जारी आदेश यथावत रहेगा यानि उन कर्मचारियों के तबादलों पर रोक नहीं रहेगी. प्रशासन शहरों के संग अभियान को लेकर सरकार ने तरह-तरह की छूट दी है, लेकिन इस राहत से आम लोगों के काम छोड़कर खुद के तबादले की फिक्र में लगे अधिकारियों और कर्मचारी अब वह काम छोड़कर अभियान से जुड़े काम में लग सकेंगे.

और पढ़ें