खिलाड़ी तनाव न लें, तोक्यो एयरपोर्ट से बाहर निकलने में सिर्फ एक घंटा लगता है: बत्रा

खिलाड़ी तनाव न लें, तोक्यो एयरपोर्ट से बाहर निकलने में सिर्फ एक घंटा लगता है: बत्रा

खिलाड़ी तनाव न लें, तोक्यो एयरपोर्ट से बाहर निकलने में सिर्फ एक घंटा लगता है: बत्रा

तोक्यो: भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने मंगलवार को कहा कि यहां हवाई अड्डे से बाहर निकलने में ज्यादा समय नहीं लग रहा है और आने वाले खिलाड़ियों को यह सोचकर तनाव नहीं लेना चाहिए कि औपचारिकताओं को पूरा करने के लिए उन्हें लंबा इंतजार करना होगा. बत्रा अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के भी सदस्य है। वह तीन दिनों के लिए (23 जुलाई तक) आईओसी द्वारा प्रदान किए गए होटल में पृथकवास में रहेंगे.

बत्रा ने ट्रैक एवं फिल्ड खिलाड़ियों को भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) के साथ ऑनलाइन विदाई दी. बत्रा ने 26 सदस्यीय ट्रैक और फील्ड एथलीटों के ऑनलाइन विदाई कार्यक्रम के दौरान तोक्यो से कहा कि लोगों को यह डर सता रहा है कि तोक्यो हवाईअड्डे से बाहर निकलने में काफी समय लग रहा है. आज जैसे ही मैं यहां पहुंचा मुझे एयरपोर्ट से बाहर निकलने में सिर्फ एक घंटा लगा.

उन्होंने कहा कि इस एक घंटे में से 30 मिनट का समय कोविड-19 के जांच में लग गया. अगर यह जांच नहीं होता तो सामान लेने और एयरपोर्ट से बाहर आने में सिर्फ आधा घंटा लगता. उन्होंने कहा कि जापान की राजधानी में हालात इतने खराब नहीं हैं और एथलीट बेवजह तनाव न लें. उन्होंने कहा कि कृपया तनाव न लें। आपको हवाई अड्डे से बाहर निकलने में मदद की जाएगी एथलीटों को एक अलग रास्ते से बाहर लाया जा रहा है और वे (हवाई अड्डे से) जल्दी निकाले जा रहे हैं.

अब रवाना होने वाले 47 सदस्यीय दल में 26 एथलीट शामिल हैं. यह 17 जुलाई को तोक्यो रवाना होने वाले दल के बाद दूसरा बड़ा समूह होगा. उन्होंने कहा कि  भारत में एथलेटिक्स में प्रदर्शन में सुधार हो रहा है.हमने हालांकि अब तक (ओलंपिक में) पदक नहीं जीता है.लेकिन वह दिन दूर नहीं जब हमने अब तक जो हासिल नहीं किया है वह करें. भारतीय एथलेटिक्स महासंघ के योजना आयोग के अध्यक्ष ललित भनोट ने कहा कि उन्होंने भारतीय दल के मिशन प्रमुख और उपप्रमुख के साथ बातचीत की थी और उन्होंने कहा कि हवाई अड्डे से बाहर निकलने और खेल गांव तक पहुंचने में कोई परेशानी नहीं है. (भाषा)

और पढ़ें