क्योंकि मैं सांसद हूं: उज्जैन MP ने अपने घर को ही बनाया वैक्सीनेशन सेंटर, आम आदमी स्लॉट के लिए भटक रहा

क्योंकि मैं सांसद हूं: उज्जैन MP ने अपने घर को ही बनाया वैक्सीनेशन सेंटर, आम आदमी स्लॉट के लिए भटक रहा

क्योंकि मैं सांसद हूं: उज्जैन MP ने अपने घर को ही बनाया वैक्सीनेशन सेंटर, आम आदमी स्लॉट के लिए भटक रहा

उज्जैन: एक तरफ उज्जैन (Ujjain) ही नहीं पूरे देश में कोरोना संक्रमण (Covid Infection) रोकने की वैक्सीन लगवाने के लिए आम आदमी अस्पतालों में भटक रहा है. उसे स्लॉट नहीं मिल रहा, वहीं, दूसरी तरफ उज्जैन में सांसद अनिल फिरौजिया (MP Anil Ferozia) के घर पर पहुंचकर स्वास्थ्य अमला (Health Staff) वैक्सीन लगा रहा है. वह भी सांसद के स्टाफ और समर्थकों को. कांग्रेस ने इसे BJP की मनमानी बताया तो सांसद ने कहा कि हमारा स्टाफ लगातार कोविड में काम कर रहा हैं.

युवा हो रहें है परेशान:
वैक्सीनेशन (Vaccination) के लिए 18 की उम्र से ज्यादा वाले वर्ग के युवा परेशान हो रहे हैं. उज्जैन आलोट सांसद अनिल फिरोजिया ने अपने स्टाफ को सेठी नगर (Sethi Nagar) स्थित घर पर वैक्सीन लगवा दिया. सोशल मीडिया (Social Media) पर सभी के वैक्सीन लगवाते हुए फोटो वायरल हुए तो विवाद खड़ा हो गया. तराना से कांग्रेस के विधायक महेश परमार (MLA Mahesh Parmar) ने कहा कि सांसद अनिल फिरोजिया आम लोगों का हक मार रहे हैं.

युवा वर्ग को नहीं मिल रही वैक्सीन:
देशभर में कोरोना महामारी के विकराल रूप के बाद एक मई 2021 से 18 +आयु वर्ग के लोगों का वैक्सीनेशन शुरू हो चुका है. रोजाना बड़ी संख्या में युवा वर्ग कोविन एप (Covin App) और आरोग्य सेतु एप (Arogya Setu App) के माध्यम से अपना अपना रजिस्ट्रेशन कर रहे है लेकिन एक एक हफ्ते के इंतजार करने के बावजूद भी स्लॉट खाली नहीं मिल रहा है.

सोशल मीडिया से हटा लिए फोटो:
उज्जैन सांसद ने पूरे स्टाफ के लिए अलग से वैक्सीनेशन कार्यक्रम रखवा लिया. अपने सेठी नगर स्थित कार्यालय और घर में ही युवा स्टाफ को वैक्सीन का पहला डोज (First Dose) भी लगवा दिया. इस बात की जानकारी तब लगी जब सांसद के स्टाफ ने ही अपने अपने फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया. इसके बाद कई लोगों ने इनको आड़े हाथ लेते हुए वैक्सीन लगाते हुए फोटो पर कमेंट्स करना शुरू कर दिया. सांसद के करीबी कपिल कटारिया, राहुल जाट, मनमीत सिंह, छोटू ने वैक्सीन लगवाते हुए फोटो पोस्ट किए. इस पर बढ़ते विवाद को देख सभी ने अपने अपने फोटो सोशल मीडिया से हटा भी लिए.

लोगों की तीखी प्रतिक्रिया:
एक यूजर ने लिखा कि आम लोगों के स्लॉट (Slot) बुक नहीं हो रहे है. सांसद उनके समर्थक और स्टाफ को घर में वैक्सीन लग रहा है. व्यास नगर में रहने 21 वर्षीय हार्दिक निगम ने कहा कि एक मई से प्रयास कर रहा हूं लेकिन आज तक स्लॉट खाली नहीं मिला. सासंद के यहां का पता चला जो की निंदनीय है. उन्हें पहले अपनी जनता की चिंता होना चाहिए. ऋषि नगर निवासी 32 वर्षीय ऋषि पटेल ने कहा यहां हम लगातार प्रयास कर रहे है लेकिन स्लॉट मिल नहीं रहा है और सांसद जी के घर पर इस तरह की सुविधा देना गलत है.

सांसद का बेतुका तर्क:
सांसद अनिल फिरोजिया ने कहा कि हमारा स्टाफ लगातार कोविड में काम कर रहा है. खाना बांटने भी बस्तियों में जाता है. ऐसे में कोई जनहानि ना हो इसलिए टीके लगवा दिए. हालांकि मैंने हमेशा कहा कि सरकार को तो गांव गांव जाकर चौपालों पर टीके लगवाने की व्यवस्था करना चाहिए.

और पढ़ें