लोकसभा चुनावों से पहले बीजेपी के इन बागियों की हो सकती है वापसी

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/15 02:41

जयपुर। लोकसभा चुनावों से पहले भारतीय जनता पार्टी से बड़ी खबर निकल रही है.. उन बागियों की बीजेपी में वापसी हो सकती है जिन्होंने विधानसभा चुनावों में बगावत करके पार्टी के अधिकृत उम्मीदवार के खिलाफ चुनाव लड़ा था। हालांकि वापसी बिना शर्त होगी लेकिन पार्टी नेतृत्व के अनुसार...

राजस्थान में सरकार गंवाने के बाद बीजेपी नेतृत्व फूंक फूंक कर कदम रख रहा है। अब कोशिश है लोकसभा के मिशन को कामयाब बनाने की। इस दिशा में बीजेपी के बागी अपने घर में लौट सकते है। कुछ बागियों ने पार्टी में आने की मंशा भी आलाकमान को जता दी है। अब नेतृत्व इन पर विचार कर रहा है। खास बात है कि बगावत करने वालों में सुरेश टांक ने किशनगढ़ से और महुवा से ओम प्रकाश हुडला ने जीत दर्ज की। तकनीकी तौर पर यह दोनों विधायक बीजेपी के सदस्य नहीं बन सकते है बनेंगे तो इनकी विधायकी को खतरा है। हालांकि यह लोकसभा चुनावों में बाहरी तौर पर बीजेपी का साथ और समर्थन दे सकते है... 

 ----------------भाजपा के बागी------------------

सुरेन्द्र गोयल -जैतारण
सुरेश टांक-किशनगढ़
राजकुमार रिणवां-रतनगढ़
हेम सिंह भडाना-थानागाजी
धन सिंह रावत-बांसवाडा
देवेन्द्र कटारा-डूंगरपुर
लक्ष्मीनारायण दवे-मारवाड़ जंक्शन
नंदलाल बंशीवाल-दौसा
ओम प्रकाश हुड़ला - महुवा
नवनीत लाल नीनामा-घाटोल
जीवाराम चौधरी-सांचोर
बालचंद अहीर-रामगंज मंडी
राधेश्याम गंगानगर-श्रीगंगानगर
प्रहलाद राय टाक-श्रीगंगानगर
कुलदीप धनखड़-विराटनगर
अनिता कटारा-सागवाड़ा
किसनाराम नाई-श्रीडूंगरगढ
दीनदयाल कुमावत-फुलेरा
देवी सिंह शेखावत-बानसूर
निशिथ(बबलू) चौधरी-झुंझुनूं
सुखराम कोली-बसेडी
ओम नरानीवाल-भीलवाड़ा
उदयलाल भडाना-मांडल

---भाजपा में वापसी की शर्त----
-भाजपा में बिना शर्त वापसी होगी
-किसी तरह की टिकट की मांग को पूरा नहीं किया जाएगा
-अनुशासनात्मक कार्रवाई फिलहाल रद्द नहीं होगी
-लोकसभा चुनावों में एक भाजपाई के नाते पार्टी के लिये काम करना होगा
-जो भी पार्टी जिम्मेदारी दे उसे निभाना होगा

बागियों के फेहरिस्त के अलावा घनश्याम तिवाड़ी का नाम भी है जिनके नाम पर भी विचार चल रहा है। उनकी पार्टी भारत वाहिनी को मर्ज करने पर बात चल रही है लेकिन फैसला बीजेपी के आलाकमान को लेना है। आगामी दिनों में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जयपुर आ रहे है। शाह बागियों के मसले पर राज्य के नेताओं से विचार विमर्श करेंगे और फिर कोई फैसला लिया जाएगा। हालांकि वापसी की राह इतनी आसान नहीं होगी।

...फर्स्ट इंडिया के लिये ऐश्वर्य प्रधान के साथ योगेश शर्मा की रिपोर्ट

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in