चंडीगढ़ ‘भैया’ टिप्पणी ‘आप’ नेताओं के लिए थी, यूपी और बिहार के प्रवासी श्रमिकों के लिए नहीं - चन्नी

‘भैया’ टिप्पणी ‘आप’ नेताओं के लिए थी, यूपी और बिहार के प्रवासी श्रमिकों के लिए नहीं - चन्नी

‘भैया’ टिप्पणी ‘आप’ नेताओं के लिए थी, यूपी और बिहार के प्रवासी श्रमिकों के लिए नहीं - चन्नी

चंडीगढ़: ‘यूपी के भैया’ टिप्पणी को लेकर आलोचनाओं का सामना कर रहे पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने गुरुवार को कहा कि उनकी टिप्पणी को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया है. चन्नी ने पंजाब के विकास में प्रवासियों के योगदान के लिए उनकी सराहना भी की.

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा भी चन्नी के बचाव में उतरीं. उन्होंने कहा कि चन्नी की टिप्पणी को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई नेताओं के हमले के बाद चन्नी ने ट्वीट किया. मोदी ने गुरुवार को पंजाब के अबोहर और उत्तर प्रदेश के फतेहपुर में अपनी चुनावी रैली में चन्नी की टिप्पणी का उल्लेख किया.

प्रियंका ने कहा कि चन्नी का इशारा मोदी और ‘आप’ नेता अरविंद केजरीवाल की ओर था. कांग्रेस महासचिव ने पठानकोट में चन्नी की टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर संवाददाताओं से कहा, ‘बहुत स्पष्ट रूप से चन्नी जी का संदर्भ नरेंद्र मोदी जी और (अरविंद) केजरीवाल जी की ओर था और उनका स्पष्ट संदर्भ था कि यहां किसी और का शासन नहीं होगा. उन्होंने कहा था कि पंजाब में कोई बाहरी राज नहीं करेगा. इसमें गलत क्या है?’

चन्नी ने मंगलवार को कांग्रेस के एक रोड शो के दौरान लोगों से उत्तर प्रदेश, बिहार और दिल्ली के ‘भैया’ को पंजाब में नहीं घुसने देने की अपील करके एक विवाद खड़ा दिया था. उनकी यह टिप्पणी संभवत: आम आदमी पार्टी के नेताओं पर लक्षित थी, लेकिन ‘भैया’ को उत्तर प्रदेश और बिहार के उन प्रवासियों के बीच अपमानजनक शब्द माना जाता है, जो पंजाब में काम करते हैं. 

उनकी टिप्पणी राज्य में व्यवधान पैदा करने वाले कुछ व्यक्तियों के खिलाफ थी:
पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी टिप्पणी राज्य में व्यवधान पैदा करने वाले कुछ व्यक्तियों के खिलाफ थी. उन्होंने ट्विटर पर जारी एक वीडियो संदेश में कहा कि कल से मेरे बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया जा रहा है. प्रवासी अपनी मेहनत से पंजाब को विकास के पथ पर ले गए हैं. उन्होंने हमेशा राज्य के विकास में योगदान दिया है.

उनके लिए हमारा प्यार हमारे दिल में:
चन्नी ने कहा कि उनके लिए हमारा प्यार हमारे दिल में है और इसे कोई नहीं निकाल सकता. कांग्रेस नेता ने कहा कि उनका इशारा अरविंद केजरीवाल, दुर्गेश पाठक और संजय सिंह जैसे ‘आप’ नेताओं की ओर था, जिन पर उन्होंने आरोप लगाया था कि वे राज्य में बाहर से अशांति पैदा करने आते हैं. उन्होंने कहा कि हालांकि, उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान और अन्य जगहों से जो लोग काम के लिए पंजाब आते हैं, उनके लिए पंजाब जितना हमारा है, उतना ही उनका है. इसलिए इसे गलत तरीके से दिखाना सही नहीं है. प्रवासी हमें प्रिय हैं. उन्होंने कहा कि पंजाब के कई लोग दूसरे राज्यों में भी काम करते हैं.

चन्नी ने पंजाब में विभिन्न क्षेत्रों में प्रवासियों के योगदान को स्वीकार किया:
चन्नी ने पंजाब में विभिन्न क्षेत्रों में प्रवासियों के योगदान को स्वीकार किया और उनसे खुद की तुलना ‘केजरीवाल जैसे लोगों’ से नहीं करने को कहा. उन्होंने कहा, ‘ये लोग राज्य में अराजकता फैलाने के लिए आए हैं, जबकि प्रवासी यहां विकास के लिए आते हैं.’ चन्नी ने ट्वीट किया कि उत्तर प्रदेश और बिहार के मेरे भाइयों और बहनों ने पंजाब के निर्माण में योगदान दिया है. हम पीढ़ियों से साथ हैं और मैं अपने परिवार के सदस्यों की तरह उन सभी से प्यार करता हूं और उनका सम्मान करता हूं.

दूसरे राज्यों के लोगों के लिए इस तरह का बयान देना सर्वथा शर्मनाक:
इस बीच, केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने भी चन्नी की टिप्पणी को लेकर उन पर निशाना साधा. सिंह ने कहा कि दूसरे राज्यों के लोगों के लिए इस तरह का बयान देना सर्वथा शर्मनाक है. एक बात स्पष्ट है, कांग्रेस पार्टी को महसूस हो गया है कि यूपी और बिहार में उसकी कोई प्रासंगिकता नहीं बची है.

मैं चकित हूं कि लोग ऐसी चीजें कैसे कह सकते हैं:
इससे पहले, ‘भैया’ टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी रैली में कहा कि कांग्रेस हमेशा एक क्षेत्र के लोगों को अपने लाभ के लिए दूसरे क्षेत्र के लोगों से लड़ने के लिए प्रेरित करती है. पटना में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी चन्नी पर निशाना साधा. कुमार ने कहा कि यह सब बकवास है. मैं चकित हूं कि लोग ऐसी चीजें कैसे कह सकते हैं. क्या उन्हें (चन्नी) यह पता नहीं है कि बिहार के कितने लोग वहां (पंजाब में) रहते हैं और उन्होंने उस राज्य की कितनी सेवा की है.

मुख्यमंत्री ने कहा था कि प्रियंका पंजाब की बहू:
सोशल मीडिया पर प्रसारित एक वीडियो में मंगलवार को रूपनगर में एक रोड शो के दौरान चन्नी की टिप्पणी पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को ताली बजाते हुए देखा गया था. पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा था कि प्रियंका पंजाब की बहू हैं. उत्तर प्रदेश, बिहार, दिल्ली के भैया, जो पंजाब में राज करना चाहते हैं, हम उन्हें राज्य में घुसने नहीं देंगे. ‘आप’ के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस टिप्पणी को ‘बेहद शर्मनाक’ करार दिया था. सोर्स- भाषा 

और पढ़ें