Live News »

भरतपुर: पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो डकैतों को दबोचा

भरतपुर: पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो डकैतों को दबोचा

भरतपुर: प्रदेश के भरतपुर जिले में पुलिस की स्पेशल टीम ने दो डकैतों को पकड़ने में बड़ी सफलता हासिल की है. पुलिस ने भरतपुर और धौलपुर के बीच जंगलों से इन डकैतों को गिरफ्तार किया. पुलिस और डकैतों के बीच कई घण्टे तक मुठभेड़ हुई, जिसके बाद पुलिस ने दो डकैतों को गिरफ्तार कर लिया ओर एक डकैत भागने में कामयाब हो गया. आईजी लक्ष्मण गौड़ ने बताया कि गिरफ्तार बदमाश कुख्यात केशव गुर्जर गैंग के सदस्य हैं, जिनमें से एक बदमाश बंटी पंडित एमपी का 50 हजार का इनामी है जबकि दूसरा बदमाश कुख्यात डकैत केशव का भाई राम नरेश गुर्जर है. 

दिल्ली हिंसा में मृतकों की संख्या 24 हुई, पीएम मोदी ने की दिल्लीवालों से शांति की अपील

एक देशी तमंचा और 50 से अधिक कारतूस बरामद:
पुलिस ने इनके कब्जे से एक थ्री नॉट थ्री की राइफल,एक देशी तमंचा व 50 से अधिक कारतूस भी बरामद किए है.कार्रवाई के दौरान डकैत केशव गुर्जर अपने साथी के साथ भागने में कामयाब हो गया.आईजी लक्ष्मण गौड़ ने बताया कि भरतपुर पुलिस को सूचना मिली थी कि राजस्थान के दो इनामी बदमाश रामविलास और भरत धौलपुर और भरतपुर के बीच किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में घूम रहे है. 

50 हज़ार का इनामी बदमाश:
सूचना पर भरतपुर एसपी हैदरअली जैदी के निर्देशन में पुलिस की स्पेशल टीम के हेड कांस्टेबल सन्तोष और पुनीत गुप्ता के नेतत्व में एक क्यूआरटी टीम भेजी गई. टीम को सूचना मिली कि 50 हज़ार का इनामी बदमाश केशव गुर्जर अपनी गैंग के साथ पीरी कक्ष गांव में छुपा हुआ है. इसके बाद आईजी के निर्देश के बाद भरतपुर से क्यूआरटी का जाब्ता भेजा गया और डकैतों की लोकेशन की जानकारी की गई. 

Delhi violence: पीएम मोदी ने किया ट्वीट, जल्द से जल्द बहाल हो सामान्य स्थिति

पुलिस ने की डकैतों की घेराबंदी: 
आईजी गौड़ ने कहा कि पुलिस ने डकैतों की घेराबंदी कर दी और जैसे ही डकैतों ने अपने आप को घिरता देखा तो उन्होंने पुलिस पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी.पुलिस ने भी डकैतों पर जबाबी फायरिंग की तो डकैत भागने लगे. इस दौरान पुलिस ने विनोद उर्फ बंटी और रामनरेश नाम के दो डकैतों को गिरफ्तार कर लिया. विनोद उर्फ बंटी मध्यप्रदेश का रहने वाला है तो वहीं, रामनरेश धौलपुर के बसई डांग के सहायपुर गांव का रहने वाला है.

और पढ़ें

Most Related Stories

BHARATPUR: कोरोना की वजह से गुरु पूर्णिमा का पर्व रहा फीका, नहीं हुए मंदिरों में धार्मिक आयोजन, मुड़िया पूनो मेला भी रद्द

BHARATPUR: कोरोना की वजह से गुरु पूर्णिमा का पर्व रहा फीका, नहीं हुए मंदिरों में धार्मिक आयोजन, मुड़िया पूनो मेला भी रद्द

भरतपुर: कोरोना के खौफ ने परंपरागत पर्व गुरु पूर्णिमा का रंग पूरी तरह से फीका कर दिया है और हालात यह हो गए है कि आज जहां विभिन्न मंदिरों में धार्मिक आयोजन होने थे वहां सन्नाटा पसरा हुआ नजर आ रहा है. भरतपुर के पड़ोसी उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के गोवर्धन में आयोजित होने वाला मुड़िया पूनो मेला भी रद्द कर दिया गया है और आज तक के इतिहास मैं ऐसा पहली बार हो रहा है कि गुरु पूर्णिमा पर लगाई जाने वाली 7 कोस परिक्रमा मार्ग आज वीरान नजर आ रहा है.

Jodhpur: सेंट्रल जेल के बाहर नजर आया अनोखा नजारा, गुरु पूर्णिमा पर आसाराम के भक्तों ने माथा टेक कर लगाई दंडवत

पूंछरी के लौठा गांव में छाई वीरानी:
गुरु पूर्णिमा के मौके पर गोवर्धन की परिक्रमा देने के लिए देश के दूरदराज इलाकों से करोड़ों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते थे, लेकिन कोरोना के खौफ के चलते परिक्रमा को स्थगित करना पड़ा है. गोवर्धन महाराज की परिक्रमा का लगभग डेढ़ किलोमीटर का हिस्सा राजस्थान में भी आता है और डीग तहसील के पूंछरी का लौठा गांव में भी आज वीरानी छाई हुई है.

विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम हुए रद्द:
श्रद्धालु गोवर्धन परिक्रमा देने तक नहीं पहुंचे इसके लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं और जगह-जगह पुलिस बैरिकेड लगाकर श्रद्धालुओं को वापस भेज रही है. गुरु पूर्णिमा के मौके पर पूरा ब्रज मंडल गिर्राज महाराज की जयकरों से गुंजायमान रहता था लेकिन कोरोना ने अन्य त्योहारों की तरह गुरु पूर्णिमा पर्व का भी मजा किरकिरा कर दिया है. भरतपुर शहर में गुरु पूर्णिमा के मौके पर नगर परिक्रमा का हर साल आयोजन होता था लेकिन आज नगर परिक्रमा भी रद्द कर दी गई है. भरतपुर शहर की सर्कुलर रोड पर जहां हजारों लोगों की भीड़ और सैकड़ों की संख्या में भंडारे आयोजित होते थे वह भी कही नजर नहीं आ रहे हैं.

Food Van: अब जरूरतमंद लोगों को मिलेगा दो वक्त का खाना, एसएमएस अस्पताल में फूड वैन की शुरुआत

पति ने जहर खाकर की जीवन लीला समाप्त, कल पत्नी ने भी खाया था विषाक्त पदार्थ

पति ने जहर खाकर की जीवन लीला समाप्त, कल पत्नी ने भी खाया था विषाक्त पदार्थ

भरतपुर: प्रदेश के भरतपुर जिले के डीग कस्बे में एक अजीबोगरीब घटना सामने आई है जिसमें सोमवार को तो पत्नी ने जहर खाकर अपनी जान दे दी थी तो मंगलवार को पति ने भी जहर का सेवन कर अपनी जीवन लीला को समाप्त कर लिया. घटना डीग कस्बे की अउ गेट की है जहां सुमन नामक महिला ने अज्ञात कारणवश कल जहर खा लिया था जिसे गंभीर अवस्था में भरतपुर अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी.

शवों का किया पोस्टमार्टम:
मंगलवार को जब पुलिस महिला के शव के पोस्टमार्टम की प्रक्रिया में जुटी थी तो इसी दौरान महिला के पति जगदीश ने भी जहर खा लिया और उसकी मौत हो गई. डीग थाना पुलिस ने पति-पत्नी के शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों के सुपुर्द कर दिया है, तो वहीं दूसरी ओर दोनों पक्षों के लोग एक दूसरे पर पर जहरीला पदार्थ खिलाकर हत्या करने के आरोप भी लगा रहे हैं.

दिल्ली हिंसा प्रकरण: जामिया की छात्रा सफूरा जरगर को दिल्ली हाईकोर्ट से मिली जमानत

मामले की छानबीन में जुटी पुलिस:
डींग थाना प्रभारी गणपत सिंह ने बताया कि दोनों पति-पत्नी ने किन कारणवश जहर खाकर अपनी जान दी है इस बात का पुलिस पता लगा रही है और जल्दी ही पूरे मामले का खुलासा कर दिया जाएगा. डीग कस्बे में पति पत्नी द्वारा जहर खाकर जान देने की घटना सभी जगह चर्चा का विषय बनी हुई है. 

राजस्थान से गुजरात जा रही शराब की खेप बरामद, 400 पेटी अंग्रेजी शराब बरामद, चालक गिरफ्तार

भरतपुर में 1279 पहुंची कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या, मंत्री सुभाष गर्ग ने दिए अधिकारियों को निर्देश

भरतपुर में 1279 पहुंची कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या, मंत्री सुभाष गर्ग ने दिए अधिकारियों को निर्देश

भरतपुर: जिले में कोरोना का मीटर बढ़ता ही जा रहा है और जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या रोजाना बढ़ती जा रही है और अब आंकड़ा 1279 पर जा पहुंचा है. कोरोना के बढ़ते आंकड़े के बीच राहत भरी खबर यह है कि इन 1279 में से अब तक 660 मरीज पूरी तरह से स्वस्थ होकर अपने घरों को लौट चुके हैं.  

प्रधानमंत्री मोदी ने गरीब कल्याण योजना को किया लॉन्च, मजदूरों को मिलेगा 125 दिनों का रोजगार  

सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन की सख्ती के साथ पालना कराई जाए: 
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्यमंत्री डॉ सुभाष गर्ग ने भी आज भरतपुर पहुंचकर कोरोना से बचाव को लेकर चल रहे कार्यों की समीक्षा बैठक ली और अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन की सख्ती के साथ पालना कराई जाए. चिकित्सा राज्यमंत्री डॉ सुभाष गर्ग ने कहा कि कोरोना से बचाव का एक ही उपाय है कि हम सभी को जागरूक होना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि इस संबंध में कल से जन जागरण का विशेष अभियान भी शुरू किया जाएगा. 

भरतपुर शहर इन दिनों कोरोना का हॉटस्पॉट बना हुआ: 
भरतपुर शहर तो इन दिनों कोरोना का हॉटस्पॉट बना हुआ है और कई इलाकों में तो प्रशासन द्वारा कर्फ्यू भी लगाया हुआ है. शहर की आनंद नगर कॉलोनी, नमक कटरा, माली मोहल्ला कुम्हेर गेट, गोपालगढ़ मोहल्ला, नदिया मोहल्ला, कृष्णा नगर आदि इलाकों में रोजाना संक्रमित मरीजों की संख्या का ग्राफ लगातार बढ़ता ही जा रहा है. जिला प्रशासन द्वारा हॉटस्पॉट इलाकों में तो कर्फ्यू लगा रखा है लेकिन शहर के बाजारों में रोजाना होने वाली भीड़ भाड़ चिंता बढ़ाने का काम करती है. 

दुकानें खुलने का समय सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक: 
जिला प्रशासन ने बाजार में दुकानें खुलने का समय सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक का तो किया है लेकिन इस दौरान बाजार में भारी भीड़ नजर आती है. साथ ही कोरोना से बचाव के लिए जारी की गई गाइडलाइन की अनदेखी करते हुए भी लोग नजर आते हैं. हालांकि पुलिस द्वारा रोजाना मास्क नहीं लगाने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई भी की जाती है. 

Rajasthan Corona Updates: 158 नए केस मिले, धौलपुर में मिले सर्वाधिक 40 कोरोना पॉजिटिव मरीज  

कई इलाकों में हुआ मरीजों की संख्या में एक साथ इजाफा:
भरतपुर शहर के अलावा नदबई, कुम्हेर, डीग, कामां, रूपवास आदि इलाकों में भी कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में एक साथ इजाफा हुआ है. फर्स्ट इंडिया न्यूज़ भरतपुर भी आम जनता से अपील करता है कि कोरोना संक्रमण का खतरा अभी टला नहीं है इसलिए पहले की तरह ही सावधान और सतर्क रहने की आवश्यकता है छोटी सी लापरवाही एक बड़ी परेशानी खड़ी कर सकती है. 

भरतपुर अस्पताल के जेल वार्ड से भागे मुलजिम, जंगला तोड़कर हुए तीनों मुलजिम फरार

भरतपुर अस्पताल के जेल वार्ड से भागे मुलजिम, जंगला तोड़कर हुए तीनों मुलजिम फरार

भरतपुर: प्रदेश के भरतपुर जिले के आरबीएम अस्पताल के जेल वार्ड से 3 शातिर बदमाश खिड़की तोड़कर फरार हो गए हैं. तीनों अपराधियों की तलाश के लिए पुलिस की तीन टीमें जगह-जगह रवाना की हैं जो कि इन सभी की सरगर्मी से तलाश कर रही है.मथुरा गेट थाना प्रभारी राजेंद्र शर्मा ने बताया कि भरतपुर की सेवर सेंट्रल जेल से कमल, थानेश्वर और कपिल को इलाज के लिए आरबीएम अस्पताल के जेल वार्ड में भर्ती कराया था.लेकिन ये तीनों  सुरक्षा गार्डों को चकमा देकर खिड़की का जंगला तोड़ फरार हो गए.

रमेश मीणा की कांग्रेस कैंप में एंट्री की इनसाइड स्टोरी, 2 दिन से चल रहा था मनाने का दौर

जेल वार्ड से मुस्लिमों के भागने की यह पहली घटना नहीं:
बताया गया कि कमल पूर्व में भी एक बार फरार हो चुका है और मारपीट झगड़े करने के आरोप में जेल में सजा काट रहा था. साथ ही रूपबास निवासी थानेश्वर व भुसावर निवासी कपिल बलात्कार के आरोप में सजा काट रहे थे.उल्लेखनीय है कि भरतपुर के आरबीएम अस्पताल के जेल वार्ड से मुस्लिमों के भागने की यह पहली घटना नहीं है इससे पूर्व भी कई बार मुलजिम सुरक्षा गार्डों को गच्चा देकर फरार हो चुके हैं. मथुरा गेट थाना पुलिस में इन तीनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया है.

गृह विभाग से बड़ी खबर, अब बिना पास के राजस्थान से दूसरे राज्यों में जा सकेंगे लोग

बंदी ने जेल प्रहरी पर लगाया मोबाइल बेचने का संगीन आरोप, जेल के अंदर से की मारपीट की शिकायत

बंदी ने जेल प्रहरी पर लगाया मोबाइल बेचने का संगीन आरोप, जेल के अंदर से की मारपीट की शिकायत

भरतपुर: जिले की सेवर सेंट्रल जेल एक बार फिर विवादों में आ गई है और इस बार जेल के एक बंदी ने जेल प्रहरी पर मोबाइल बेचने का संगीन आरोप लगाते हुए बकाया पैसे नहीं देने पर मारपीट करने की शिकायत जेल के अंदर से ही सेवर थाना प्रभारी को फोन के जरिए दर्ज कराई है.

बकरी चोरी के आरोप में युवक से नग्न कर मारपीट, बाल काटे, मुंह काला किया 

जेल प्रहरी से 20 हजार में खरीदा था मोबाइल: 
जानकारी मिली कि हरियाणा के बल्लभगढ़ का निवासी हिमांशु हत्या के आरोप में सेवर जेल में सजा काट रहा है और जेल के एक प्रहरी केशव से उसने 20 हजार रुपए में मोबाइल खरीदा था. बताया गया कि बंदी ने जेल प्रहरी को मोबाइल के 15 हजार रुपए तो दे दिए थे लेकिन 5 हजार रुपए अभी बाकी चल रहे थे. बंदी द्वारा 5 हजार रुपए वापस नहीं देने पर जेल प्रहरी ने कई बार उसके साथ मारपीट की है.

जेल में फोन से दर्ज करवाई शिकायत:
जेल प्रहरी द्वारा बार-बार मारपीट करने की शिकायत बन्दी हिमांशु ने जेल के अंदर से ही फोन द्वारा सेवर थाना प्रभारी रामकिशन यादव को दर्ज कराई. सेबर थाना प्रभारी ने पूरे मामले से एसपी हैदर अली जैदी को अवगत कराया और एसपी ने एडिशनल एसपी मुख्यालय और सीओ ग्रामीण को जांच करने के निर्देश दिए. 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में 3 मौत, 118 नये पॉजिटिव केस, 12 हजार के पार पहुंचा आंकड़ा 

जेल प्रहरी केशव के खिलाफ एफआईआर दर्ज: 
एसपी हैदर अली जैदी ने बताया कि जिला कलेक्टर नथमल डिडेल को भी पूरे मामले से अवगत कराया और एसडीएम संजय गोयल जेल अधीक्षक सुधीर प्रकाश आदि अधिकारियों ने भी जेल में पहुंचकर तलाशी अभियान चलाया और कैदी से पूछताछ की. उसने बेरक में जमीन में दबे एक मोबाइल व दो सिम उपलब्ध कराए. सेबर थाना प्रभारी ने बताया कि जेल प्रहरी केशव के खिलाफ बंदी की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है और पूरे मामले की गहनता से जांच की जा रही है. 

आज से पर्यटकों के लिए खुले केवलादेव नेशनल पार्क के दरवाजे, पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों को मिलेगा लाभ

आज से पर्यटकों के लिए खुले केवलादेव नेशनल पार्क के दरवाजे, पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों को मिलेगा लाभ

भरतपुर: दुनिया भर के परिंदों का पसंदीदा सैरगाह विश्वविख्यात भरतपुर के केवलादेव नेशनल पार्क के दरवाजे आज से पर्यटकों के लिए खोल दिए गए हैं. पिछले लगभग सवा 2 महीने से कोरोना वायरस को लेकर सरकार द्वारा किए गए लॉक डाउन के दौरान विश्व विख्यात केवलादेव नेशनल पार्क बंद कर दिया गया था और भरतपुर का पर्यटन व्यवसाय पार्क बंद होने से पूरी तरह चौपट हो गया था.

VIDEO: अन्य प्रदेशों के विधायकों के लिए राजस्थान सुरक्षित ! 2005 से अब तक 6 बार हो चुकी है बाड़ाबंदी  

सुबह ही पार्क के गेट पर्यटकों के लिए खोल दिए गए:
सरकार ने आज से नेशनल पार्क को खोलने के आदेश जारी किए हैं और सुबह ही पार्क के गेट पर्यटकों के लिए खोल दिए गए. फर्स्ट इंडिया न्यूज़ ने केवलादेव नेशनल पार्क का जायजा लिया तो नजर आया कि पार्क के कार्मिक कोरोना से बचने के लिए सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन की पालना करते हुए नजर आए. 

पार्क के गेट व अन्य भवनों को पूरी तरह सैनिटाइज किया गया: 
पार्क के गेट व अन्य भवनों को पूरी तरह सैनिटाइज किया गया है साथ ही मुख्य द्वार पर सैनिटाइजर चेंबर भी लगाया गया है. पार्क के गेट पर एक नोटिस चस्पा किया है जिसमें मास्क व गलब्स पहनने के अलावा सोशल डिस्टेंसिंग रखने की बात कही गई है. पार्क की असिस्टेंट फोरेस्टर रेनू कुमारी ने बताया कि हालांकि अभी कोई पर्यटक पार्क में नहीं आया है लेकिन सभी को उम्मीद है कि जल्दी ही केवलादेव नेशनल पार्क की रौनक पहले की तरह वापस लौटेगी. 

राजस्थान के 16.36 लाख किसानों को सहकारी फसली ऋण का वितरण, 2.34 लाख नए किसानों को भी जोड़ा 

पर्यटन व्यवसाय से जुड़े हजारों लोगों को लाभ मिलेगा:
पार्क में सुबह मॉर्निंग वॉक पर आने वाले लोग भी सरकार के इस निर्णय से बेहद खुश हैं और उनका कहना था कि पिछले लंबे समय से उन्हें मॉर्निंग वॉक में बड़ी परेशानी आ रही थी लेकिन अब इस समस्या का समाधान हो गया है. साथ ही पर्यटन व्यवसाय से जुड़े हजारों लोगों को भी इसका लाभ मिलेगा.
 

भरतपुर के व्यापारियों के लिए एक अच्छी खबर, रविवार से खुलेंगे बाजार, कुम्हेर गेट सब्जी मंडी रहेगी बंद

भरतपुर के व्यापारियों के लिए एक अच्छी खबर, रविवार से खुलेंगे बाजार, कुम्हेर गेट सब्जी मंडी रहेगी बंद

भरतपुर: कोरोना वायरस से बचने के लिए भरतपुर शहर में पिछले दिनों किए गए लॉक डाउन और अब चल रहे कर्फ्यू से परेशान हुए व्यापारियों के लिए एक अच्छी खबर है कि रविवार से बाजार में अधिकांश दुकानें सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक खुल सकती हैं. जिला कलेक्टर नथमल डिडेल,एसपी हैदर अली जैदी और अन्य प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में जिला व्यापार महासंघ के पदाधिकारियों के साथ हुई बैठक में निर्णय लिया गया है कि कोरोना से बचने की समस्त गाइडलाइन की पालना करने वाले व्यापारियों को दुकानें खोलने की छूट दी जा सकती है. 

अमरनाथ यात्रियों के लिए खुशखबरी! 21 जुलाई से शुरू हो सकती है यात्रा, 55 साल से कम उम्र वालों को ही मिलेगी अनुमति

बैठक में दुकानें खोलने की हुई रजामंदी:
व्यापार महासंघ के अध्यक्ष संजीव गुप्ता ने बैठक के बाद फर्स्ट इंडिया न्यूज़ को दिए बयान में कहा कि बैठक में रविवार से दुकानें खोलने की रजामंदी हुई है साथ ही यह तय किया गया है कि व्यापारी सोशल डिस्टेंसिंग, दुकानों को सैनिटाइज करने और मास्क लगाने पर विशेष ध्यान देंगे. व्यापार महासंघ के जिला महामंत्री नरेंद्र गोयल ने बताया कि हालांकि अभी फल व सब्जी की दुकानों पर प्रतिबंध रहेगा साथ ही चाट पकौड़ी आदि की दुकानें भी नहीं खुल सकेंगी. 

भरतपुर इन दिनों बना हुआ कोरोना हॉट स्पॉट:
उल्लेखनीय है कि पहले लॉक डाउन और बाद में कर्फ्यू लगने से व्यापारी वर्ग बेहद परेशान था और कल व्यापार महासंघ ने जिला कलेक्टर से राहत देने की गुहार लगाई थी और आज व्यापारियों के साथ हुई बैठक में उन्हें जिला प्रशासन में राहत देने का काम किया है. भरतपुर इन दिनों कोरोना हॉट स्पॉट बना हुआ है और अब तक साढ़े पांच सौ से अधिक मामले संक्रमित मरीजों के सामने आ चुके हैं.

गेम खेलने के शौकीन बच्चे ने की आत्महत्या, घर में फांसी लगाकर दी जान 

भरतपुर शहर बना कोरोना हॉटस्पॉट, जिले में अब तक 361 कोरोना पॉजिटिव

भरतपुर: जिला इन दिनों कोरोना हॉटस्पॉट बन गया है और अभी तक भरतपुर जिले में 361 कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं और इनकी संख्या अभी लगातार बढ़ती ही जा रही है. आरबीएम अस्पताल में अब कोरोना की जांच कराने के लिए भी लोगों की भीड़ भी जमा होने लगी है. बात करें भरतपुर शहर की तो शहर की आनंद नगर कॉलोनी, नदिया मोहल्ला, नमक कटरा, गोपालगढ़ मोहल्ला, सेवर गांधीनगर में तो कोरोना वायरस मरीजों की लगातार बढ़ रही संख्या ने जिला प्रशासन में हड़कंप सा मचा रखा है और अभी संक्रमित मरीजों के सामने आने का क्रम लगातार जारी है.

शराब के शौकीनों को बड़ा झटका, जानिए राजस्थान में कितनी महंगी हुई बीयर और शराब

बाजारों में खासी चहल-पहल:
भरतपुर शहर जब कोरोना हॉट स्पॉट बन गया है तो जिला प्रशासन ने पिछले दिनों पूरे नगर निगम क्षेत्र में कर्फ्यू लगाने की घोषणा कर डाली थी. बात करें भरतपुर शहर के बाजारों की तो जिस तरह का नजारा बाजारों में नजर आता है उसे देखकर कहीं भी नहीं लगता है कि शहर में कर्फ्यू भी लगा है. सुबह 8 बजे से लेकर दोपहर 1 बजे तक तो बाजारों में खासी चहल-पहल नजर आती है और दोपहर 1 बजे के बाद ही कर्फ्यू जैसे हालात बाजार में नजर आते है. कोरोना वायरस ने भरतपुर शहर के सभी इलाकों में अपने पैर पसार लिए हैं तो वहीं पुलिस महकमे के अलावा पीआरओ ऑफिस में भी कोरोना ने एंट्री मार दी है. पिछले दिनों भरतपुर एसपी हैदर अली जैदी के पुत्र के अलावा कई सुरक्षाकर्मी, रसोईया,आईजी के गनमैन, एसपी के पीए का परिवार भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुका है तो वही पीआरओ ऑफिस के चालक में कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाने पर पीआरओ ऑफिस के कर्मचारियों व सभी पत्रकारों में भी हलचल सी मची हुई है.

बढ़ रही है कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या:
पिछले दिनों राज्य मंत्री डॉ सुभाष गर्ग भी कोरोना वायरस की चपेट में आने से बाल-बाल बचे थे. चिकित्सा राज्यमंत्री डॉ सुभाष गर्ग ने पिछले दिनों जिन डॉक्टरों के साथ बैठक ली थी उनमें से एक डॉक्टर व उसके परिवार के कई सदस्य को रोना संक्रमण की चपेट में आ गए थे और बाद में चिकित्सा राज्यमंत्री की जांच रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई. अब जब भरतपुर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है तो ऐसे में जिला प्रशासन को चाहिए कि वह कर्फ्यू की कढ़ाई के साथ पालना कराए जिससे सोशल डिस्टेंस बना रहे और लोग संक्रमित होने से बच सकें.

मुकुंदरा से आई खुशखबरी, बाघिन MT-2 ने दिया दो शावकों को जन्म, मुख्यमंत्री गहलोत ने जताई खुशी

Open Covid-19