भीलवाड़ा Bhilwara: बारिश के चलते रा. उ. मा. वि. खातोला बना टापू, छत से टपक रहा पानी

Bhilwara: बारिश के चलते रा. उ. मा. वि. खातोला बना टापू, छत से टपक रहा पानी

Bhilwara: बारिश के चलते रा. उ. मा. वि. खातोला बना टापू, छत से टपक रहा पानी

भीलवाड़ा: आसींद (Asind) उपखंड क्षेत्र के राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय खातोला में 1962 में प्राथमिक और 1984 में उच्च प्राथमिक विद्यालय बना. जिसके बाद विद्यालय में 34 कमरों का निर्माण हुआ लेकिन पुराने भवन की मरम्मत नहीं होने के कारण विद्यालय के सभी कमरों में बरसात का पानी टपक रहा है. वहीं समस्या को देखते हुए सभी छात्रों को बाहर बिठाकर अपूर्ण रूप से शिक्षा मिल रही है. प्रधानाध्यापिका श्वेता ने बताया कि विद्यालय में कुल 152 छात्र-छात्राओं का नामांकन है. 

1 साल पहले भवन को ध्वस्त करने का शिक्षा विभाग की तरफ से आदेश भी जारी हो चुका है लेकिन अभी तक विद्यालय भवन को ध्वस्त नहीं किया गया. वहीं पिछले वर्ष 187 विद्यार्थियों का नामांकन था लेकिन इस वर्ष 152 विद्यार्थियों का नामांकन विद्यालय में है. वहीं ग्रामीणों का कहना है कि सरकारी विद्यालय के भवन का निर्माण नहीं होने पर अपने बच्चों को निजी विद्यालय में अध्ययन करने को विवश है. 

डर के माहौल में पढ़ने को मजबूर छात्र:

वहीं विद्यालय में प्रधानाध्यापक और शारीरिक शिक्षक का भी पद रिक्त है. जिससे विद्यालय में होने वाली सांस्कृतिक गतिविधियां और खेल संबंधी सुविधाओं से छात्र पूरी तरह वंचित है. विद्यालय में कुल 11 कमरे है. जिसमें से चार कमरों में पानी टपकता है. वहीं बरामदे में लकड़ी के सहारे पट्टियों को रोका गया है. जिससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है. छात्र-छात्राओं ने बताया कि वह विद्यालय में डर के माहौल में पढ़ने को मजबूर है.

और पढ़ें