नई दिल्ली अपने खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के बाद CM भूपेश बघेल ने कहा, निर्वाचन आयोग को अपनी भूमिका निष्पक्ष रखनी चाहिए

अपने खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के बाद CM भूपेश बघेल ने कहा, निर्वाचन आयोग को अपनी भूमिका निष्पक्ष रखनी चाहिए

अपने खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के बाद CM भूपेश बघेल ने कहा, निर्वाचन आयोग को अपनी भूमिका निष्पक्ष रखनी चाहिए

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेश बघेल ने नोएडा में चुनाव प्रचार के दौरान कोविड-19 संबंधी नियमों के उल्लंघन के आरोप में अपने खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के बाद सोमवार को कहा कि निर्वाचन आयोग को अपनी भूमिका निष्पक्ष रखनी चाहिए.

उन्होंने यह भी कहा कि आयोग को बताना चाहिए कि मौजूदा स्थिति में कैसे प्रचार करना है. बघेल ने यहां संवाददाताओं से कहा कि मेरे साथ कई सुरक्षाकर्मी रहते हैं. कई पत्रकार भी थे. लोग आ रहे हैं, मिल रहे हैं. आखिर चुनाव प्रचार कैसे होगा. निर्वाचन आयोग को बताना चाहिए कि कैसे प्रचार करना है. उन्होंने कहा कि मेरे के खिलाफ कार्रवाई क्यों हुई? अमरोहा में भाजपा के प्रत्याशी और मंत्री के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं हुई, जबकि वे घर-घर जाकर प्रचार कर रहे हैं. निर्वाचन आयोग को अपनी भूमिका निष्पक्ष रखनी चाहिए. अभी शुरुआत में निष्पक्षता दिखाई नहीं दे रही है तो आखिर में क्या उम्मीद करें?

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में नोएडा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी के प्रचार के लिए रविवार को नोएडा आए बघेल के खिलाफ कोविड-19 संबंधी नियमों के उल्लंघन के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गई. बघेल रविवार को कुछ समर्थकों के साथ नोएडा में कांग्रेस की प्रत्याशी पंखुड़ी पाठक के समर्थन में घर-घर प्रचार के लिए गए थे, जब नियमों का कथित उल्लंघन हुआ. महामारी कानून के तहत दर्ज मामले में आरोपियों में छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ कांग्रेस नेता के अलावा ‘अन्य’ के नाम भी हैं. सोर्स- भाषा

और पढ़ें