VIDEO: राजधानी में नकली दवाओं की बड़ी खेप का पर्दाफाश, ऑनलाइन बेची जा रही 40 लाख की दवाइयां जब्त

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/08/10 11:36

जयपुर: राजधानी जयपुर समेत प्रदेशभर में ऑनलाइन फार्मेसी के जरिए नकली दवाओं के कारोबार के बड़े गोरखधंधे का पर्दाफाश हुआ है. औषधि नियंत्रक संगठन की टीम ने शुक्रवार रात को आधा दर्जन से अधिक स्थानों पर छापामार कार्रवाई कर करीब 40 लाख रुपए से अधिक की नकली दवाएं पकड़ने का दावा किया है. एक्सक्लूसिव रिपोर्ट:

प्रदेश में नकली दवाओं के कारोबार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. गाबापेन्टीन कि नकली दवा का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि औषधि नियंत्रक संगठन को ऑनलाइन कारोबार कर रही एजेंसियों के जरिए नकली दवा बेचे जाने की सूचना मिली. जांच में सामने आया है कि सीकर, झुंझुनू, अलवर, जोधपुर , भरतपुर, हनुमानगढ़, नागौर, दौसा और करौली में बड़ी मात्रा में इन दवाइयों की बिक्री की जा रही थी. ऐसे में औषधि नियंत्रक द्वितीय अजय फाटक ने 10 टीमें बनाकर  बड़े स्तर पर छापामार कार्रवाई की. इसमे फिल्म कॉलोनी स्थित मैसर्स दर्श फार्मा के यहां नकली दवा लोसार एच का बेचान सामने आया.

यहां हुई छापामार कार्रवाई: 
—फिल्म कॉलोनी की दर्श फार्मा और वृंदावन फार्मा,
—कालवाड़ स्कीम की सनशाइन एंटरप्राइजेज, 
—सुदर्शनपुरा में थीया टेक्नोलोजिस और मेडिलाइफ इंटरनेशनल प्रा.लि., 
—काेटपुतली में यूनाइटेड मेडिकल एजेंसी , वीकेआई में अग्रवाल स्टोर्स और 
—22 गोदाम स्थित एपिओन मेड आरएक्स फार्मेसी पर कार्रवाई 

ये दवाएं मिली संदिग्ध:
सभी जगहों से एट्रोवेसटाटीन टेबलेट, रेमीप्रील, ल्यूपिन फार्मा,यूरिमेक्स डी टेबलेट, सिपला, डुफास्टोन, अबोट, क्लोनाजिपाम,टाेरेंट की दवाएं संदेहास्पद पाई गई. इनमें से काफी मात्रा में ऑनलाइन बेची जा रही थी.

जांच में सामने आया है कि दर्श फार्मा दिल्ली के गणपति एंटरप्राइजेज से माल खरीद रहा था. ऐसे में तत्काल दिल्ली के ड्रग कंट्रोलर को सूचित किया गया. टीम जयपुर के सुदर्शनपुरा स्थित थीया टेक्नोलोजिस में कार्रवाई के लिए पहुंची। यहां जैसे ही टीम दूसरी फ्लोर पर कार्रवाई करने पहुची तो वहां मौजूद लोगों ने  बाहर निकलने की सभी रास्ते बंद कर दिए. हालांकि पुलिस उसकी कार्रवाई की चेतावनी देने पर करीब आधे घंटे बाद गेट खोले गए.

... संवाददाता विकास शर्मा की रिपोर्ट 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in