Live News »

VIDEO: नर्मदा नहर परियोजना में घूसखोरी का बड़ा खेल, एसीबी ट्रैप के दौरान हुआ खुलासा

VIDEO: नर्मदा नहर परियोजना में घूसखोरी का बड़ा खेल, एसीबी ट्रैप के दौरान हुआ खुलासा

जालोर: जालोर के सांचौर स्थित नर्मदा नहर परियोजना में घूसखोरी का खेल उजागर हुआ है. दिनेश एमएन जिसे एसीबी में सिंघम के नाम से जाना जाता है, उसी सिंघम ने नर्मदा नहर परियोजना में चल रहे घूसखोरी खेल का पूरा खुलासा कर दिया. अब एसीबी ट्रैप के दौरान बच निकले विभाग के 3 जेईएन पर भी शिकंजा कसने की तैयारी है. इतना ही नहीं सिंघम के नाम से नर्मदा नहर परियोजना में घूसखोर अधिकारी कांपने लगे हैं. एक्सक्लूसिव रिपोर्ट:

फरार जेईएन पर भी शिकंजा कसने की तैयारी:
गुजरात राज्य से सांचौर व बाड़मेर के किसानों को सिंचाई के लिए मीठा पानी उपलब्ध कराने को लेकर नर्मदा नहर परियोजना का विस्तार किया गया, जिसके तहत गुजरात से मुख्य कैनाल बनाकर नर्मदा का मीठा पानी लाया गया. जिससे किसानों को सिंचाई के लिए पानी मिलना शुरू हुआ, लेकिन नर्मदा नहर परियोजना में अधिकारियों की सांठगांठ के चलते भ्रष्टाचार का खेल भी लंबे अरसे से चल रहा था. ऐसे में दिनेश एमएन के एसीबी में आते ही नर्मदा नहर परियोजना में सालों से चल रहे भ्रष्टाचार के खेल का पूरा खुलासा कर दिया. अब एसीबी घूसखोर 3 जेईएन पर भी शिकंजा कसने की तैयारी में हैं.

नर्मदा नहर परियोजना में घूसखोरी का बड़ा खेल
—एसीबी के सिंघम ने प्लानिंग के साथ बिछाया जाल
—28 अगस्त को एसीबी ने शिकायत का करवाया था सत्यापन
—चारों अधिकारियों के खिलाफ एसीबी ने जुटाए सबूत
—विभाग के चारों अधिकारियों ने लाखों में मांगी थी रिश्वत 
—23 सितंबर को हुई ट्रैप की बड़ी कार्रवाई
—सहायक अभियंता जगदीश प्रसाद वर्मा को 1 लाख की रिश्वत लेते किया था ट्रैप
—वर्मा 5.80 लाख की कर रहा था मांग, जबकि 2 लाख की रिश्वत पहले ही ले चुका था वर्मा
—जबकि बड़े घूसखोर तीन जेईएन उस समय भनक लगते ही भाग निकले
—लेकिन अब एसीबी तीनों घूसखोरों पर कसेगी शिकंजा
—एसीबी के पास तीनों घूसखोरों के खिलाफ पुख्ता सबूत
—कनिष्ठ अभियंता रामनिवास मंडा ने 15 लाख रिश्वत की मांग की जिसमें 13 लाख रिश्वत ले चुका
—कनिष्ठ अभियंता बीरबल डूडी ने 3 लाख रिश्वत की मांग की
—कनिष्ठ अभियंता नंद किशोर ने एक लाख रिश्वत की मांग की

23 सितंबर को ट्रैप:
एसीबी के पास ठेकेदार परिवादी ने शिकायत पहुंचाई, जिससे एसीबी को नर्मदा नहर परियोजना में चल रहे बड़े घूसखोरी के खेल की भनक लगी. दिनेश एमएन के नेतृत्व में एसीबी ने पूरा जाल बिछाकर 28 अगस्त को एसीबी ने शिकायत का सत्यापन कराया, जिसमें एसीबी के पास पुख्ता सबूत आ गये. चारों अधिकारी ठेकेदार से लाखों में रिश्वत की मांग कर रहे हैं, इतना ही नहीं चारों अधिकारी इसी ठेकेदार से पहले लाखों की रिश्वत भी ले चुके है. फिर एसीबी ने चारों अधिकारियों को ट्रैप करने का पूरा जाल बिछाकर 23 सितंबर को ट्रैप की कार्रवाई को अंजाम दिया, लेकिन सहायक अभियंता जगदीश प्रसाद वर्मा तो एसीबी के शिकंजे में आ गया. वहीं तीनों कनिष्ठ अभियंता एसीबी की भनक लगते ही भाग निकले. तीनों पर अब एसीबी शिकंजा कसने की तैयारी में है. एसीबी के सूत्रों की मानें तो एसीबी पूरे मामले की जांच के दौरान कभी भी गिरफ्तारी कर सकती हैl 

घूसखोरों को बचाने में लगा विभाग:
नर्मदा नहर परियोजना के तीनों घूसखोर कनिष्ठ अभियंता के एसीबी कार्यवाही के दौरान फरार होने के बाद तीनों अधिकारियों को नर्मदा नहर परियोजना से हटा दिया गया, लेकिन विभाग ने लाखों की खुलेआम रिश्वत मांगने और घूसखोरी के खेल को चलाने वाले तीनों अधिकारियों के खिलाफ विभाग ने अभी तक हटाने के सिवाय कोई बड़ी कार्रवाई नहीं की है. विभाग भी घूसखोरों को बचाने में लगा हुआ हैं, अभी एसीबी भी पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है. एसीबी के पास तीनों घूसखोरो के खिलाफ पुख्ता सबूत है. ऐसे में तीनों घूसखोरों की एसीबी कभी भी गिरफ्तारी भी कर सकती है. वही एसीबी की नर्मदा नहर परियोजना पर अभी भी पूरी नजर है, ताकी अन्य घूसखोरों पर भी शिकंजा कसा जा सके.

... जालोर से लूणाराम दर्जी की रिपोर्ट 


और पढ़ें

Most Related Stories

जालोर: नाबालिग का अपहरण कर गैंगरेप करने का आरोप, मामला दर्ज

जालोर: नाबालिग का अपहरण कर गैंगरेप करने का आरोप, मामला दर्ज

जालोर: जिले के बागोड़ा थाना क्षेत्र में नाबालिग का अपहरण कर गैंगरेप का मामला सामने आया हैं. बदमाशों ने कार में नाबालिग का अपहरण कर गैंगरेप किया जिसके बाद नाबालिग को छोड़ दिया. परिजनों ने बागोड़ा पुलिस थाने में आरोपियों के ख़िलाफ़ नामज़द एफ़आईआर दर्ज करवाई जिसमें पांच युवकों पर गैंगरेप का आरोप लगाया.

{related} 

मुख्य आरोपी गिरफ़्तार: 
भीनमाल डिवाईएसपी शंकरलाल ने बताया की मामले में मुख्य आरोपी को गिरफ़्तार कर लिया है. वहीं अन्य युवकों की अभी तक जांच में भूमिका सामने नहीं आई हैं. वहीं परिजनों ने पुलिस पर मामले में आरोपियों को बचाने के लिये मामला दबाने का आरोप लगाया.  

जालोर में ACB की बड़ी कार्रवाई, 5 हजार की घूस लेते महिला पटवारी अनिता चौधरी ट्रैप 

जयपुर: प्रदेश के जालोर जिले में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) ने बड़ी कार्रवाई की है. एसीबी ने 5 हजार की घूस लेते महिला पटवारी अनिता चौधरी ट्रैप किया है. म्यूटेशन खोलने की एवज में अनिता चौधरी ने घूस मांगी थी. घूसखोर पटवारी परिवादी से 3500 रुपए पहले ही ले चुकी है. 5 हजार की घूस लेते तहसील परिसर से रंगे हाथों पटवारी को गिरफ्तार किया गया है. ACB DSP अन्नराजसिंह ने  कार्रवाई को अंजाम दिया. एसीबी टीम घूसखोर महिला पटवारी को आहोर थाने लेकर पहुंची. 

गहलोत कैबिनेट की बैठक कल, शाम 4:30 बजे मुख्यमंत्री आवास पर होगी बैठक, अहम मुद्दों पर होगा विचार विमर्श

जालोर में पटवारी चढ़ा एसीबी के हत्थे, 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते किया ट्रेप

जालोर में पटवारी चढ़ा एसीबी के हत्थे, 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते किया ट्रेप

जालोर: जालोर एसीबी ने शुक्रवार को चितलवाना में बड़ी कार्रवाई करते हुए 5 हजार की रिश्वत लेते परावा पटवारी दिलीप गुर्जर को ट्रेप किया. वहीं एक अन्य को भी एसीबी ने गिरफ़्तार किया हैं. 

एसीबी ने शिकायत पर की कार्रवाई:
एसीबी डिवाईएसपी अन्नराजसिंह राजपुरोहित ने बताया की परिवादी मानाराम विश्नोई ने एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई की पटवारी दिलीप गुर्जर ने भूमि का म्यूटेशन और हकतर्क करने की एवज में रिश्वत की मांग कर रहा हैं, जिस पर एसीबी टीम ने 11 अगस्त को चितलवाना पहुंचकर किराये के मकान में रह रहे पटवारी की रिश्वत की मांग का सत्यापन किया. 

जयपुर में आफत की बारिश, कानोता बांध में बोलेरो बहने से 3 लोगों की मौत, बारिश ने पूरे शहर को किया जाम   

पटवारी रंगे हाथों गिरफ्तार:
आज एसीबी टीम ने पूरा जाल बिछाकर परिवादी को पटवारी के पास भेजा जिसमें दलाल के ज़रिये पटवारी ने 5 हजार की रिश्वत ली जिस दौरान एसीबी ने 5 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ़्तार कर लिया. पूरे मामले में एसीबी जांच कर रही हैं वहीं कल घूसखोर पटवारी को न्यायालय में पेश किया जायेगा. 

अमित शाह की कोरोना रिपोर्ट आई नेगेटिव, ट्वीट करके कहा-कुछ दिन घर पर होम क्वारंटीन रहूंगा

जालोर: जसवंतपुरा में एसीबी की बड़ी कार्रवाई, सहायक लेखाधिकारी मूलचंद हिरासत में

जालोर: जसवंतपुरा में एसीबी की बड़ी कार्रवाई, सहायक लेखाधिकारी मूलचंद हिरासत में

जालोर: जिले के जसवंतपुरा में सिरोही की एसीबी टीम ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुये सहायक लेखाधिकारी मूलचंद पालीवाल को रिश्वत वसूली की सूचना पर हिरासत लिया. आरोपी के पास से 1 लाख 79 हज़ार की मोटी राशि भी एसीबी ने तलाशी के दौरान बरामद की. 

Rajasthan Political Crisis: सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर, विधायक मदन दिलावर हाईकोर्ट जाने की तैयारी में 

एसीबी जोधपुर एसपी के पास मुखबिर से सूचना मिली की सहायक लेखाधिकारी मूलचंद पालीवाल जिसे जसवंतपुरा पंचायत समिति व ग्राम पंचायतों के वित्तीय रिकॉर्ड के अंकेक्षण के लिये अंकेक्षण प्रभारी लगाया गया. जिसके बाद आरोपी मूलचंद जसवंतपुरा में वित्तीय अंकेक्षण के दौरान ग्राम सेवकों व सरपंचों से मोटी राशि की रिश्वत वसूली कर जोधपुर जा रहा है. 

Rajasthan Political Crisis: राजस्थान में सियासी ड्रामा जारी, बीजेपी ने की CBI जांच की मांग 

जिस पर सिरोही की एसीबी टीम ने जाल बिछाकर चोल नांके के पास कार रूकवाकर आरोपी मूलचंद को हिरासत में लिया. वाहन की तलाशी में 1 लाख 79 हज़ार की राशि बरामद कर आरोपी से एसीबी के अधिकारियों ने पुछताछ की लेकिन राशि को लेकर आरोपी कोई जवाब नहीं दे पाया. आरोपी के वाहन से एक एलईडी, एक पंखा और सरकारी रिकॉर्ड भी बरामद किया. आरोपी से एसीबी की टीम पुछताछ कर रही हैं वही मामले में जांच कर रही हैं.  

पेड़ पर लटका मिला युवती का शव, परिजनों ने लगाया गैंगरेप के बाद हत्या का आरोप

पेड़ पर लटका मिला युवती का शव, परिजनों ने लगाया गैंगरेप के बाद हत्या का आरोप

सायला(जालोर): सायला थाना क्षेत्र के पांथेडी में शुक्रवार को एक युवती का शव पेड़ पर लटकता हुआ मिला है. इस मामले में युवती के परिजनों ने गैंगरेप के बाद हत्या कर शव लटकाने का आरोप लगाया है. सायला पुलिस थाने को पांथेडी में ओरण भूमि में एक युवती के शव को फंदे लटकने की सूचना मिली. सूचना पर थानाधिकारी सवाईसिंह मय पुलिस जाब्ता मौके पर पहुंचे. 

Rajasthan Political Crisis: पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल के बयान ने सियासत में मचाई खलबली 

परिजनों ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी: 
घटना स्थल का मौका मुआयना कर शव को नीचे उतारकर सायला राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की मोर्चरी में पहुंचाया. वहीं घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस उपाधीक्षक जयदेव सियाग भी सायला पहुंचे. जबकि मृतका की गुरुवार को परिजनों ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी. परिजनों का आरोप है कि आरोपियों ने युवती को बंधक बनाकर सामूहिक गैंगरेप कर शव को फंदे पर लटकाया है. 

बीजेपी ने साधा गहलोत सरकार पर निशाना, कहा- राजस्थान के पॉलिटिकल थिएटर में चल रहा ड्रामा

बंधक बनाकर उसके साथ गैंग रेप की सम्भावना:
इस सम्बंध में मृतका के ताऊ ने रिपोर्ट पेशकर बताया कि काकाई बहन मजदूरी का कार्य करती थी. गांव के ही रतनाराम पुत्र हटा मेघवाल मृतका का पीछा कर मोबाईल पर जबरदस्ती बाते भी करता था. वहीं कई बार दुष्कर्म भी किया था. 15-16 जुलाई की मध्य रात्रि को आरोपी ने घर से बहला फुसलाकर गांव के बाहर ले गए. अन्य साथियो जितेंद्र कुमार पुत्र कदाराम राम मेघवाल, जेंनता राम पुत्र मोंगा राम मेघवाल, भीखाराम पुत्र चतरा राम मेघवाल व इंद्रसिंह पुत्र जयसिंह के साथ बंधक बनाकर उसके साथ गैंग रेप की सम्भावना है. बाद में इन लोगों ने सबूत नष्ट करने के लिए हत्या कर शव को फंदे पर लटका दिया जो आत्महत्या प्रतीत नही हो रही है. पुलिस ने रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर जांच शुरू की है. मामले की जांच महिला थाना जालोर पुलिस उप अधीक्षक कैलाश विश्नोई  प्रभारी महिला अत्याचार निवारण सेल को सौंपी गई है. 


 

जालोर के सायला में प्रेमी युगल ने की आत्महत्या, पेड़ पर फांसी लगाकर दी जान 

जालोर के सायला में प्रेमी युगल ने की आत्महत्या, पेड़ पर फांसी लगाकर दी जान 

सायला: जालोर के सायला थाना क्षेत्र के कोमता गांव में एक प्रेमी युगल के खेत में एक पेड़ पर फंदा लगाकर आत्महत्या करने का मामला सामने आया है. पुलिस के मुताबिक कोमता निवासी नरपत कुमार पुत्र बाबूराम भील उम्र 28 और जेका पुत्री मांगाराम भील उम्र 17 निवासी कोमता गांव के एक ही मोहल्ले में निवास करते थे. दोनों में प्रेम प्रसंग चल रहा था.

विधायक खरीद फरोख्त प्रकरण: एसओजी ने कहा-हमने फोन पर बातचीत के आधार पर दर्ज की है FIR 

रस्सी टूटने से शव गिरे नीचे:
शुक्रवार रात्रि को दोनों घर से बाहर आ गए और गांव के बाहर सुने एक खेत में पेड़ पर रस्सी से फंदा लगा लिया. जो टूटने से दोनों नीचे गिर गए. शनिवार सुबह ग्रामीणों ने एक पेड़ के नीचे एक दूसरे के ऊपर शवों को पड़ा देखा. जिसकी जानकारी गांव में फैलते ही बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्रित हो गए. वहीं ग्रामीणों की सूचना पर सायला थानाधिकारी सवाईसिंह मय पुलिस जाब्ता मौके पर पहुंचे.

मामला दर्ज, जांच शुरू:
पुलिस ने घटना स्थल का मौका मुआयना किया. घटना स्थल की कुछ ही दूरी पर युवती का लहंगा मिला और शवों के पास रस्सी भी मिली. शवों के सिर से खून बह रहा था और  बालों में भी खून लगा हुआ है. बाद में निजी वाहन से शवों को सायला राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की मोर्चरी पहुंचाया. जहां पर दोनों शवों का चिकित्सको ने पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सुपुर्द किया. पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. 

खरीद-फरोख्त से जुड़े मसले पर बोले गुलाबचंद कटारिया, कहा-साबित कर दें मेरा रोल, तो पलभर में राजनीति से ले लूंगा संन्यास

SBI के लॉकर में रखा था सोना, मालिक ने जाकर खोला तो भरे पड़े थे पत्थर

SBI के लॉकर में रखा था सोना, मालिक ने जाकर खोला तो भरे पड़े थे पत्थर

जालोर: जिले में एसबीआई बैंक के लॉकर में रखा सोना लेकिन वापस लॉकर खोलने पर पत्थर निकलने का मामला सामने आया हैं, जिसको लेकर कोतवाली पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज होने के साथ ही मामले में पुलिस ने जांच शुरू कर दी हैं. 

Rajasthan Corona Updates: 140 नए पॉजिटिव केस आए सामने, पिछले 12 घंटे में डूंगरपुर में फूटा कोरोना बम 

व्यापारी ने बैंक के लॉकर में रखे थे 800 ग्राम सोने के गहने: 
शहर के तिलक द्वारा स्थित एसबीआई बैंक में पारसमल जैन ने 7 साल पूर्व लॉकर लेकर लॉकर में 800 ग्राम सोने के गहने रखे लेकिन अब लॉकर को खोलने पर लॉकर के अंदर पत्थर मिले हैं. जिस पर कोतवाली पुलिस थाने में मामला दर्ज करने के बाद जांच शुरू हो गई है.  

देश में लागू हुआ लॉकडाउन 4.0, ये छूट मिली, इन पर रहेगी पाबंदी 

लॉकर में पत्थर भरे पड़े थे:
पारसमल जैन का महाराष्ट्र के भिवंडी में व्यापार है. वे लॉकडाउन के चलते 20 दिन पहले ही जालौर लौटे हैं. इसके बाद बैंक में जाकर उन्होंने अपना लॉकर खुलवाया. लॉकर खुलवाते ही पारसमल जैन को ऐसा झटका लगा कि वो चकित हो गए. उस लॉकर में पत्थर भरे पड़े थे.

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान के 30 जिलों में पहुंचा कोरोना संक्रमण, जालोर का नाम ग्रीन जोन से हटा, मिले 3 पॉजिटव

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान के 30 जिलों में पहुंचा कोरोना संक्रमण, जालोर का नाम ग्रीन जोन से हटा, मिले 3 पॉजिटव

जालोर: राजस्थान में बुधवार दोपहर 2 बजे तक 82 नए केस सामने आये है. जब​कि 3 लोगों की मौत हो गई. राजस्थान में कोरोना वायरस से जान गंवा वालों की संख्या 92 पहुंच गई है. वहीं कुल मामलों का ग्राफ 3240 पहुंच गया है. अब राजस्थान में कुल 30 जिलों में कोरोना पॉजिटिव केस है. बुधवार को जालौर जिले से भी पॉजिटिव केस सामने आये. अब राजस्थान में सिर्फ 1 हजार 552 एक्टिव केस है. जोधपुर से 32, जयपुर से 27, पाली से 7, अलवर से 1, चित्तौड़गढ़ से 1, डूंगरपुर से 2, अजमेर से 4, भरतपुर से 1, धौलपुर से 2, जालोर से 3, सवाईमाधोपुर से 1, सीकर से 1 पॉजिटिव केस मिला है.

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कुल 3240 कोरोना पॉजिटिव, जयपुर में प्लाज्मा थैरेपी से ठीक हुए दो मरीज 

ग्रीन जोन से निकला जालौर:
राजस्थान का जालोर जिला पहले ग्रीन जोन में था, लेकिन बुधवार दोपहर आई रिपोर्ट में पॉजिटिव मिलने से अब जिले का नाम ग्रीन जोन से हट गया है. इन पेशेंट में से जालोर शहर का एक भी नहीं है. सभी लोग प्रभावित शहरों और अन्य राज्य से जालोर पहुंचे थे. 2 लोग सायला के निकट वीराणा गांव के हैं जो मुंबई से लौटे थे. वहीं एक आहोर के रायथल का रहने वाला है. यह भी मुंबई से कुछ वक्त पूर्व गांव आया था.

ट्रैवल हिस्ट्री निकालने में जुटा प्रशासन:
इनके अलावा सीकर के लक्ष्मणगढ़ से पहुंची एएनएम भी कॉरोना संक्रमित पाई गई. एक साथ चार केस आने पर प्रशासन में हडकम्प मच गया. अब प्रशासन पॉजिटिव लोगों की ट्रैवल हिस्ट्री निकालने में जुटा हुआ है. खबर यह भी है कि अब जालौर में पूर्ण रूप से लॉकडाउन लगाए जाने की फिर से तैयारी की जा रही है.

सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, 12 लाख का इनामी आतंकी हिज्बुल कमांडर रियाज नायकू मारा गया

Open Covid-19