स्वीप गतिविधियों के बेहतर क्रियान्वयन के लिए जयपुर में शुरू होगा बड़ा रीजनल ऑफिस 

Dr. Rituraj Sharma Published Date 2019/12/08 11:12

जयपुर: स्वीप गतिविधियों के बेहतर क्रियान्वयन के लिए जयपुर में बड़ा रीजनल ऑफिस शुरू होगा. स्वीप गतिविधियों के लिए देशभर में ईसीआई रीजनल ऑफिस शुरू करेगा, जिसकी शुरुआत जयपुर से होगी. सीईसी सुनील अरोड़ा की होटल ललित में हुई बैठक में सचिवालय में इसकी शुरुआत करने को लेकर सीएस से अनुरोध करने की जानकारी दी गई. 

सीईसी सुनील अरोड़ा की अध्यक्षता में बैठक:
बैठक में देशभर में जानेवाले ऑनलाइन नॉमिनेशन का बड़ा नवाचार करने और ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया को आसान बनाकर आम लोगों के लिए सुलभ बनाने और इसके लिए अधिकारियों की जवाबदेही तय करने का भी निर्णय हुआ. भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा की अध्यक्षता में शनिवार को जयपुर में जयपुर सम्भाग के सारे जिला निर्वाचन अधिकारियों, सम्भागीय आयुक्त जयपुर और निर्वाचन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित की गई. इसमें निर्देश दिए गए कि बैठक में बूथ लेवल अधिकारियों के जरिये आम नागरिकों को मतदाता सूची से सम्बन्धित गुणात्मक सुविधा प्रदान करने और मतदाता सूचियों में पंजीकरण की सुविधा को सरल करने के लिए बूथ लेवल अधिकारियों को उनके कार्य में अधिक सक्षम बनाने तथा उनके कार्यभार में कमी लाने एवं उन्हें समूचित सुविधा प्रदान करने की दृष्टि से आई.टी. एप्लीकेशन्स का प्रयोग करने के निर्देश दिए. 

आई.टी. का प्रयोग करने पर प्रशिक्षण:
वरिष्ठ उप चुनाव आयुक्त डॉ. संदीप सक्सेना ने बैठक में बताया कि बूथ लेवल अधिकारियों को आई.टी. का प्रयोग करने पर प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा, ताकि उनके मौजूदा कार्यभार में कमी आये तथा वे अपने नियमित कार्यो के उत्तरदायित्वों के साथ-साथ अवकाश के दिनों में एवं कार्यालय समय के पश्चात् आम नागरिकों को मतदाता सूचियों से सम्बन्धित बेहतर सुविधा प्रदान कर सकें. बैठक में बूथ लेवल अधिकारियों के रूप में सेवानिवृत सरकारी कार्मिकों की नियुक्ति के विषय में भी विचार-विमर्श किया गया. स्वीप गतिविधियों की समीक्षा कर लक्षित वर्गों को जागरूक करने के नये तरीकों पर भी चर्चा की गई. 

कार्यालय संभवतः सचिवालय में:
स्वीप गतिविधियों के लिए देशभर में रीजनल सेंटर शुरू होंगे जयपुर में भी सेंटर शुरू होगा और इसका कार्यालय संभवतः सचिवालय में सीईओ कार्यालय के रूप में विकसित किया जाएगा. आयोग की प्रिंसिपल कंसलटेंट डॉ रेखा गुप्ता स्वीप गतिविधियों की प्रभारी होंगी जो जयपुर और राजस्थान के साथ-साथ अन्य रीजंस की स्वीप गतिविधियों की मॉनिटरिंग भी करेंगी. 

कई मुद्दों पर हुआ विचार:
सीईसी ने यह भी बताया कि जिला निर्वाचन अधिकारियों से विधानसभा तथा लोकसभा आम चुनावों के दौरान उम्मीदवारों द्वारा ऑनलाईन आवेदन प्रस्तुत करने और सेवा नियोजित मतदाताओं को प्रदत्त इलेक्ट्रोनिक पोस्टल बैलेट सिस्टम की सुविधा में और सुधार लाने पर विचार किया गया, जिससे कि सौ फीसदी सेवा नियोजित मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग किया जा सके. वहीं मतदाता सूची के संबंध में वैधानिक प्रावधानों का अध्ययन करने के लिए उप निर्वाचन आयुक्त और प्रमुख सचिव भारत निर्वाचन आयोग को निर्देश दिये हैं. इस कार्य में निर्वाचन विभाग के दो वरिष्ठ अधिकारियों पी. सी. गुप्ता एवं विनोद पारीक भी आयोग के अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित कर अपना फीडबैक देंगे. 

कई अधिकारी रहे मौजूद:
इस बैठक में भारत निर्वाचन आयोग के वरिष्ठ उप निर्वाचन आयुक्त संदीप सक्सेना, भारत निर्वाचन आयोग में प्रमुख सचिव एन.एन. बूटोलिया, मुख्य निर्वाचन अधिकारी  आनन्द कुमार, अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजस्थान कृष्ण कुणाल, जयपुर सम्भागीय आयुक्त, जयपुर जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ0 जोगाराम, दौसा जिला निर्वाचन अधिकारी अविचल चर्तुवेदी, झुन्झुनूं जिला निर्वाचन अधिकारी रवि जैन, सीकर जिला निर्वाचन अधिकारी  यज्ञमित्र सिंहदेव और अलवर उप जिला निर्वाचन अधिकारी  रामचरण शर्मा मौजूद थे. साथ ही आयोग की प्रिंसिपल कंसल्टेंट डॉक्टर रेखा गुप्ता भी मौजूद रहीं. 

... संवाददाता ऋतुराज शर्मा की रिपोर्ट 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in