VIDEO: जयपुर में ACB का बड़ा ट्रैप, भट्टा बस्ती थाने के घूसखोर हैड कांस्टेबल को दबोचा

जयपुर: कोरोना काल के बावजूद इन दिनों भ्रष्टाचार चरम पर है.एक बार फिर ऐसा ही देखने को मिला राजधानी जयपुर शहर में जहां पर एसीबी की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए भट्टा बस्ती थाने की एक हेडकांस्टेबल को 15 हज़ार रुपया की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबोचा. गिरफ़्तार हैड कॉन्स्टेबल का नाम अब्दुल राऊफ़ है.एसीबी की पूछताछ में सामने आया है कि हैड कॉन्स्टेबल 15, हज़ार रुपये मासिक बंधी के रूप में ये रिश्वत भट्टा बस्ती के थाना प्रभारी राजेंद्र सिंह के लिए ले रहा था.आरोपी अब्दुल राऊफ़ हर महीने 20 हज़ार रुपए मासिक बंधी भवन निर्माण सामग्री बेचान करने वाले दुकानदार से लेता था और इस राशि को थाना प्रभारी राजेंद्र सिंह शेखावत को देता था.

पीड़ित दुकानदार कोरोना काल बाज़ार बंद होने का हवाला देकर इस रुपए देने से मना कर दिया. लेकिन हेड कॉन्स्टेबल नहीं माना और 20 हज़ार रुपए की मासिक बंधी मे महज पाँच हज़ार कम कर दिए और 15 हजार रुपए की राशि देने के कहा, इसकी शिकायत पीड़ित दुकानदार ने एसीबी मुख्यालय में कर दी.शिकायत का एसीबी ने सत्यापन कराया जो  की सही पाया गया.शिकायत पर एसीबी की टीम कार्रवाई करते हुए आज योजना बद्ध तरीक़े से जैसे ही हैड कांस्टेबल अब्दुल राऊफ़ मासिक बंधी लेने आया तो एसीबी ने उसे रंगे हाथों 15,000 रुपया की रिश्वत देते हुए दबोच लिया.

एसीबी की इस कार्रवाई की भनक जैसे ही थाना प्रभारी राजेंद्र सिंह शेखावत को लगी तो वो यहाँ से रफूचक्कर हो गए और फ़रार हो गए..फ़िलहाल एसीबी की टीम आरोपी से पूछताछ कर रही है.आरोपी से पूछताछ के बाद एसीबी भट्टा बस्ती थाना प्रभारी राजेंद्र सिंह से भी इस बारे में पूछताछ करेगी.एसीबी एसीबी की कार्रवाई के बाद बस्ती के थाना प्रभारी राजेन्द्र सिंह पर गिरफ़्तारी की तलवार लटक गई है.इससे इससे पहले भी राजेंद्र सिंह का विवादों से गहरा नाता रहा और हमेशा से विवादों के घेरे में रहे हैं.

और पढ़ें