बीजापुरः नक्सलियों से मुठभेड़ में अब तक 22 जवान शहीद, गृह मंत्री शाह ने की सीएम बघेल से बात  

बीजापुरः नक्सलियों से मुठभेड़ में अब तक 22 जवान शहीद, गृह मंत्री शाह ने की सीएम बघेल से बात  

बीजापुरः नक्सलियों से मुठभेड़ में अब तक 22 जवान शहीद, गृह मंत्री शाह ने की सीएम बघेल से बात  

बीजापुर: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बीजापुर (Bijapur) में हुए नक्सली हमले (Naxalite attack) में 20 और जवानों के शव बरामद किए गए हैं. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के डीजी डीएम अवस्थी ने इस बात की पुष्टि की है. जानकारी के मुताबिक अब तक कुल 22 शव बरामद किए गए हैं. अब भी एक जवान लापता है. कुल 31 जवान घायल हैं. यह इस वर्ष का सबसे बड़ा नक्सली हमला (Naxalite attack) है. इस हमले में 8 CRPF जवान शहीद हुए हैं जबकि एक लापता है. वहीं राज्य पुलिस के 14 जवान शहीद हुए हैं. कुल 22 शव बरामद किए गए हैं जबकि एक जवान अब भी लापता है.

महिला नक्सली का शव भी बरामद:
साथ ही पुलिस अधिकारियों के अनुसार सुरक्षाबलों ने घटनास्थल से एक महिला नक्सली का शव भी बरामद किया है. जानकारी के मुताबिक बीजापुर (Bijapur) और सुकमा जिले से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के कोबरा बटालियन, डीआरजी और एसटीएफ के संयुक्त दल को नक्सल विरोधी अभियान में रवाना किया गया था. नक्सल विरोधी अभियान में बीजापुर जिले के तर्रेम, उसूर, सुकमा जिले के मिनपा और नरसापुरम से लगभग दो हजार जवान शामिल थे.

गृह मंत्री शाह ने की सीएम बघेल से बात:
मुठभेड़ को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सीएम भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) से बातचीत कर हालात की जानकारी ली और CRPF महानिदेशक को निर्देश दिए कि वे तत्काल छत्तीसगढ़ जाएं. केंद्रीय गृह मंत्री ने इस मुठभेड़ में शहीद हुए जवानों के प्रति श्रद्धा श्रद्धांजलि व्यक्त करते हुए कहा कि देश उनके बलिदान को कभी भुला नहीं पाएगा. हम शांति और विकास के दुश्मनों से लगातार लड़ते रहेंगे.

तीन घंटे चली मुठभेड़
पुलिस अधिकारी के मुताबिक शनिवार को दोपहर लगभग 12 बजे बीजापुर-सुकमा जिले की सीमा पर सुकमा जिले के जगरगुंड़ा थाना क्षेत्र के अंतर्गत जोनागुड़ा गांव के करीब नक्सलियों की पीएलजीए बटालियन और तर्रेम के सुरक्षा बलों के मध्य मुठभेड़ हुई. मुठभेड़ 3 घंटे से अधिक वक्त तक चली. 

PM मोदी ने जताया शोक
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में सुरक्षाकर्मियों के शहीद होने पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनके बलिदान को कभी नहीं भुलाया जाएगा. उन्होंने ट्वीट में कहा कि मेरी संवेदनाएं छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में माओवादियों से लड़ते हुए शहीद होने वाले जवानों के परिवारों के साथ हैं. वीर शहीदों के बलिदान को कभी नहीं भुलाया जा सकेगा. घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना है.

और पढ़ें