अब बीकानेर की ऐतिहासिक धरोहर दिखेगी रेलवे स्टेशन पर

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/12/10 11:30

बीकानेर। अगर आप ट्रेन में यात्रा कर रहे हो और बीकानेर से गुजर रहे हो तो बीकानेर की ऐतिहासिक धरोहर की तस्वीर को आप बीकानेर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन में बैठे हुए ही देख पाओगे। जी हां बीकानेर रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म न 6 पर थ्रीडी वॉल में नजर आएगा जूनागढ़ किले का वैभव तो वहीं स्टेशन की दीवारों पर दिखेगी फड़ पेंटिंग,ऊंट व रोबिलो की चित्रकारी ओर ग्रामीण परिवेश की झलक। 

बीकानेर रेलवे स्टेशन के 6 नंबर प्लेटफार्म पर आने वाली ट्रेन में बैठे यात्रियों को अब 3D वॉल पर जूनागढ़ किले का वैभव नजर आएगा तो उसे जिले के ग्रामीण परिवेश की जानकारी भी मिलेगी। रेलवे बोर्ड की ओर से बीकानेर रेलवे स्टेशन पर उकेरी गई बादल पेंटिंग को मिले रिस्पांस से उत्साहित रेलवे प्रशासन ने अब ग्रामीण परिवेश के साथ साथ स्थानीय कला को उकेरने का काम शुरू करवाया है। यह काम कर रहे हैं शहर के युवा चित्रकार। स्टेशन पर सागर की छतरियां, कैमल फॉर्म,ऊंट नृत्य आदि चित्र भी बनाए जाएंगे। इसमें 3D आर्ट वॉल म्यूरल्स जैसी नई तकनीकों के साथ काम लिया जा रहा है। रेलवे प्रशासन फिलहाल 6 नंबर प्लेटफार्म पर यह काम करवा रहा है। यात्रियों के रिस्पॉन्स को देखते हुए ऐसी ही चित्रकारी एक नंबर प्लेटफार्म पर भी करवाई जाएगी।

रेलवे स्टेशन के सौंदर्य करण के तहत बनाए जा रहे चित्रों में थर्मोकॉल, प्लाई आदि के रियल मॉडल भी लगाए जाएंगे। इन रियल मॉडलो से चित्र के पात्रों में सजीवता नजर आएगी। चित्र बना रहे युवा चित्रकार रवि कुमार शर्मा ने बताया कि पुरानी चित्र शैलियों के मूल स्वरूप को कायम रखते हुए नई तकनीक का प्रयोग किया जा रहा है। वहीं स्टेशन पर एक ऐसी मॉडल डिस्प्ले का निर्माण किया जाएगा जिस पर बीकानेर में होने वाले आयोजनों की सूचियां लगाई जा सके। इसके साथ ही बीकानेर जूनागढ़ किला,सागर की छतरियां,ऊंट नृत्य और राजस्थानी लोक नृत्य की विभिन्न शैलियां भी चित्रित की जाएगी। 

आइए एक नजर डालते है बीकानेर रेलवे स्टेशन पर बन रही पेंटिग्स पर...
1...घर के आगे मांडणे मांडती ग्रामीण परिवेश की महिलाएं।
2...फड़ शैली में हथाई करते,चोपड़ खेलते राजा रानी के चित्र।
3...साफा कलँगी लगाए राजस्थानी रोबीले। वीणा वादन करती रानी और खड़ताल की तान पर नृत्य करती राजस्थानी बाला। 
इन चित्रों में 3d आर्ट ओर मॉर्डन आर्ट का प्रयोग किया गया है। इस पूरे कार्य करीब एक महीने का समय लगेगा।

बीकानेर रेलवे स्टेशन पर चित्रांकन के बाद कोलायत,नाल गजनेर,लालगढ़,भाप,फलौदी, दियातरा आदि रेलवे स्टेशनों पर भी राजस्थानी चित्रों को उकेरा जाएगा। इसका उद्देश्य है कि यंहा पर दूर दराज से आने- जाने वाले विभिन्न स्थानों के रेलयात्री राजस्थानी लोक जीवन और परिवेश को जान सके। 
संजय पारीक फर्स्ट इंडिया न्यूज बीकानेर 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

कांग्रेस-बीजेपी के भरोसे\'मंद\' - 25 !

सैम पित्रोदा के बयान पर कांग्रेस की किरकिरी
सैम पित्रोदा के एयर स्ट्राइक पर विवादित बयान को लेकर सियासत
लोकसभा चुनाव का सियासी गणित
धन संबधित परेशानी है तो जानिए कुछ असरकारी टोटके| Good Luck Tips
BJP ने 182 लोकसभा उम्मीदवारों की पहली सूची की जारी
BJP थोड़ी देर में जारी करेगी उम्मीदवारों की पहली सूची
देश के 3 प्रमुख मंदिरों की होली