Live News »

बीकानेर के पापड़ उद्योग को बचाने के लिए बेलने पड़ रहे 'पापड़'

बीकानेर के पापड़ उद्योग को बचाने के लिए बेलने पड़ रहे 'पापड़'

बीकानेर: बीकानेर का पापड़-भुजिया उद्योग दुनियाभर में प्रसिद्ध है. खासतौर पर बीकानेर का पापड़ का खास जाएका सबका लुभाता है, लेकिन इन दिनों साजी की कीमतों ने पापड़ उद्योग को मानों पापड़ बिलवा दिए है. जी हां, पाकिस्तान से आने वाली वस्तुओं पर एक्साइज ड्यूटी बढ़ी, तो पापड़ में काम आने वाली साजी बीकानेर पापड़ उद्योग पर खास फर्क नजर आने लगा है. एक रिपोर्ट:

साजी की कीमतों के चलते परेशानी:
यूं तो देश भर में उद्योग मंदी के शिकार हैं, लेकिन पापड़ जैसा लघु उद्योग भी साजी की कीमतों के चलते परेशानी में है. पापड़ उद्योग से जुड़े कामगारों पर भी इसका फर्क पड़ा है. कहानी समझने से पहले हम जान लेते है कि क्या है साजी? दरअसल साजी की पाकिस्तान के सिंध में खेती होती है. इसको जलाकर इसका रस एकत्र किया जाता है. ये एक एपिटाइजर और प्रिजरवेटिव की तरह काम करता है. ये पापड़ का महत्वपूर्ण घटक है, लेकिन एक्साइज ड्यूटी में 200 प्रतिशत की बढ़ोतरी से साजी के दाम दोगुणा बढ़ गए. जिससे पापड़ उद्योग के सामने एक नई चुनौती खड़ी हो गई. 

पुलवामा अटैक के बाद गड़बड़ा गया व्यापार:
व्यापार उद्योग मण्डल से जुड़े मक्खन अग्रवाल कहते है कि साजी की अत्यधिक कीमतों से दिक्कत हो रही है. अग्रवाल कहते है कि जब पुलवामा अटैक हुआ तो भारत पाकिस्तान का व्यापार भी गड़बड़ा गया. कई चीजों के प्रतिबंध लगा, तो हम साथ थे. पर अब चीजे नॉर्मल हो रही है. हवाई सेवाएं भी शुरू हुई तो इस लघु उद्योग की तरफ भी ध्यान देना चाहिए. बीकानेर की एक पहचान यहां के स्वादिष्ट जायके से भी है. साथ ही ये पापड़ उद्योग ग्रामीण महिलाओं तक को रोजगार उपलब्ध कराता है. यहां तक की सीमावर्ती गांवों तक पापड़ बेलने का काम होता रहा है. महिलाएं कहती है कि साजी की कीमत बढ़ गई है, फर्क तो पड़ेगा ही. हमें तो पहले ही कम मेहनताना मिलता है. 

केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल से मिला प्रतिनिधिमंडल:
साजी की कीमतों को लेकर रविवार को एक व्यापार उद्योग मण्डल का एक प्रतिनिधिमंडल मक्खन अग्रवाल की अगुवाई में केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल से भी मिला. मेघवाल ने वित्त मंत्री कार्यालय में बात भी की, लेकिन नीतिगत निर्णय का अब पापड़ उद्योग को भी इंतज़ार है. 

... बीकानेर से लक्ष्मण राघव की रिपोर्ट

और पढ़ें

Most Related Stories

Coronavirus Updates: राजस्थान में एक ही दिन में 80 कोरोना पॉजिटिव मिले, मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 463, अकेले जयपुर में मिले 39 केस 

Coronavirus Updates: राजस्थान में एक ही दिन में 80 कोरोना पॉजिटिव मिले, मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 463, अकेले जयपुर में मिले 39 केस 

जयपुर: प्रदेश में कोरोना वायरस के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे है, गुरुवार को एक ही दिन में राजस्थान में 80 मामले सामने आये है. जिनमें अकेले ही जयपुर में 39 केस पॉजिटिव मिले है. वहीं बांसवाडा में 2 मामले सामने आये है. भीलवाडा में एक, जैसलेमर में 5, झुंझुनूं में 7, जोधपुर में 3, टोंक में 7, कोटा में 2, झालावाड में 7 और बाडमेर में एक संक्रमित केस सामने आया है. इसके अलावा ईरानी से आये हुए 6 यात्री भी पॉजिटिव मिले है. प्रदेश कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 463 पहुंच गई है. जबकि कोरोना वायरस की वजह से अब तक 7 लोग अपनी जान गंवा चुके है. वहीं इस वायरस से अब तक कई लोग ठीक भी हो चुके है.

कोरोना महामारी: दुनियाभर में ज्यादातर स्पोर्ट्स इवेंट्स पर लगा ब्रेक, अब ये क्रिकेट टेस्ट सीरीज हुई स्थगित

जयपुर में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मामले :
प्रदेश की राजधानी जयपुर में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आ रहे है. जयपुर कोरोना एपिक सेंटर बनकर सामने आ रहा है. अकेले जयपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 168 पहुंच चुकी है. बढते कोरोना के प्रकोप की वजह से जयपुर के परकोटे में कर्फ्यू लगा दिया गया है. वहीं अब कर्फ्यू की सख्ती से पालना करवाई जा रही है. ना परकोटे से कोई बाहर जाएगा, ना ही यहां पर आएगा. जयपुर शहर के परकोटे में चप्पे चप्पे पर पुलिस बल तैनात है.

Coronavirus Updates: जोधपुर में डॉक्टर को हुआ कोरोना, जिले में अब तक 34 व्यक्ति संक्रमित मिले, एक की मौत

जानिए, प्रदेश में कहां कितने कोरोना पॉजिटिव:
अजमेर में 5, अलवर में 5, बांसवाडा में 12, भरतपुर में 8, भीलवाडा में 28, बीकानेर में 20, चूरू में 11, दौसा में 6, धौलपुर में एक, डूंगरपुर में कोरोना के अब तक 5 मामले सामने आये है. जैसलमेर में 19, झुंझुनूं में 31, जोधपुर में 34, करौली-पाली में 2-2, सीकर में एक, टोंक में 27, उदयपुर में 4, प्रतापगढ में 2 मामले कोरोना संक्रमण के सामने आये है. नागौर में एक, कोटा में 17, झालावाड में 9 और बाडमेर​ जिले में एक पॉजिटिव केस सामने आया है. इसके अलावा इटली के 2 और ईरान से आये हुए 42 यात्री कोरोना पॉजिटिव मिले है. 

लॉक डाउन के मध्यनजर अब स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन कंटेंट पर ज्यादा फोकस

लॉक डाउन के मध्यनजर अब स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन कंटेंट पर ज्यादा फोकस

बीकानेर: लॉक डाउन के मध्यनजर अब स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन कंटेंट पर ज्यादा फोकस किया जा रहा है. बीकानेर के स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय के तीनों महाविद्यालयों द्वारा लॉकडाउन के दौरान विद्यार्थियों को ऑनलाइन एवं सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेफॉर्मस के माध्यम से नियमित अध्ययन करवाया जा रहा है. 

Rajasthan Corona Update:  प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 348, देश में मरने वालों का आंकड़ा पहुंचा 149 

विद्यार्थियों के कक्षावार व्हाट्सअप ग्रुप्स बनाए गए: 
वहीं अनुसंधान एवं प्रसार शिक्षा निदेशालय द्वारा व्हाट्सअप ग्रुप्स से एडवाइजरी जारी की जा रही है. विवि के कुलपति प्रो. आर. पी. सिंह ने बताया कि कृषि महाविद्यालय द्वारा विद्यार्थियों के कक्षावार व्हाट्सअप ग्रुप्स बनाए गए हैं. इनके माध्यम से पाठ्यक्रम की पी.पी.टी. शेयर की जा रही है. वहीं कक्षावार वाट्सअप ग्रुप्स में अध्यापकों को भी जोड़ा गया है, जो विद्यार्थियों को नियमित मार्गदर्शन कर रहे हैं. कृषि व्यवसाय प्रबंधन संस्थान द्वारा जूम और लूम से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से नियमित कक्षाएं चल रही हैं. गृह विज्ञान महाविद्यालय द्वारा भी लॉकडाउन के दौरान अध्ययन का पाठ्यक्रम निर्धारित किया गया है तथा प्रतिदिन व्हाट्सअप एवं जूम के माध्यम से अध्ययन करवाया जा रहा है.

राजस्थान युवा कांग्रेस चुनाव में गहराया विवाद, अब अमरदीन फकीर ने खड़े किये सवाल 

समस्याओं के समाधान के प्रयास किए जा रहे:
विश्वविद्यालय के प्रसार शिक्षा निदेशालय के अधीन कार्यरत सातों कृषि विज्ञान केन्द्रों द्वारा व्हाट्सअप के माध्यम से सभी छह जिलों के किसानों को जोड़ा गया है तथा उनके लिए नियमित एडवाइजरी जारी की जा रही है. साथ ही उनकी समस्याओं के समाधान के प्रयास किए जा रहे हैं. किसानों को व्हाट्सअप एवं वेबसाइट के माध्यम से हार्वेस्टिंग के तरीकों, कृषि मौसम अनुमान, फसलों में होने वाले रोगों एवं इनसे बचाव के संबंध में मार्गदर्शन प्रदान किया जा रहा है. 

...संजय पारीक फ़र्स्ट इंडिया न्यूज बीकानेर 

Coronavirus Updates: प्रदेश में कोरोना का कहर, पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर हुई 344, अब तक 6 लोगों की मौत

Coronavirus Updates: प्रदेश में कोरोना का कहर, पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर हुई 344, अब तक 6 लोगों की मौत

जयपुर: प्रदेश में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. यहां पर कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढकर 344 हो गई है. मंगलवार को 42 नए पॉजिटिव मरीज सामने आये. इनमें से 9 जोधपुर के हैं, जिसमें 6 संक्रमित लोग व्यक्ति के परिवार के हैं. इनके अलावा, 13 मामले जैसलमेर में कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. वहीं, बांसवाड़ा में 7, जयपुर में 6, भरतपुर और बीकानेर में तीन-तीन, और चूरू में एक मामला कोरोना का आया है. राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 344 हो गई है. राजस्थान में अब तक कोरोना की चपेट में आने से 6 लोग जान गंवा चुके है. 

हनुमान जयंती आज : कोरोना संकट हरेंगे संकटमोचन हनुमान, ऐसे करें घरों में पूजा -आराधना

जयपुर शहर में कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज:
अगर बात करे प्रदेश की राजधानी जयपुर की, तो यहां पर कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 106 (2 इटली के नागरिक) हो गई है. ये राजस्थान में सबसे ज्यादा आंकडा जयपुर का ही है. यहां पर प्रशासन सतर्क हो गया है. जयपुर के रामगंज क्षेत्र में कोरोना के मामले मिले है. इसके बाद पूरे परकोटे में लॉकडाउन और कर्फ्यू तो पहले ही था. अब सरकार के आदेश के बाद परकोटे की सीमाएं सील कर ​दी गई. अब यहां पर ना कोई अंदर आएगा, ना ही कोई बाहर जा सकेगा. हर जगह पुलिस जाब्ता तैनात है. 

जोधपुर में 66 मरीज:
अब बात करते है जोधपुर जिले की, यहां पर कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकडा 66 पहुं गया है. इसमें 36 ईरान से आये हुए लोग है. वहीं भीलवाड़ा स्थिति काबू में है. यहां पर पहले सबसे ज्यादा मरीज कोरोना के मिले थे. लेकिन प्रशासन की सख्ती के बाद यहां पर मामले स्थिर हो गए है. यहां पर कोरोना के 27 मामले सामने आये है.

झुंझुनूं में 23, टोंक में 20:
झुंझुनूं जिले में कोरोना के 23 मामले सामने आये है. वहीं टोंक में 20 मामले कोरोना संक्रमण के सामने आये है. चूरू में 11 मरीज तो प्रतापगढ़ में 2 कोरोना पॉजिटिव मिले है. डूंगरपुर और अजमेर में 5-5, अलवर में 5 कोरोना पॉजिटिव मिले है. 

जेलों को लेकर हाईकोर्ट का आदेश, कैदियों की भीड़ कम करने के लिए जरूरी कदम उठाये राज्य सरकार

बीकानेर में 14 मामले:
बात करते है बीकानेर जिले की, यहां पर 14 कोरोना पॉजिटिव मिले है. उदयपुर में 4 मामले सामने आये है. वहीं भरतपुर में अब तक 8 मामले सामने आये है. दौसा में 6, बांसवाड़ा में 9, पाली में 2, कोटा में 10, जैसलमेर में 14 , करौली, नागौर, धौलपुर और सीकर में 1-1 कोरोना पॉजिटिव मिला है. 

नोखा पुलिस ने की बड़ी कार्रवाई, 3 बदमाश गिरफ्तार, एक पिस्टल समेत 34 जिंदा कारतूस जब्त

नोखा पुलिस ने की बड़ी कार्रवाई, 3 बदमाश गिरफ्तार, एक पिस्टल समेत 34 जिंदा कारतूस जब्त

बीकानेर: प्रदेश के बीकानेर जिले की नोखा थाना पुलिस ने सोमवार को बड़ी कार्यवाही करते हुए 3 बदमाशों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इनके पास से एक कार, एक पिस्टल और 34 जिंदा कारतूस भी बरामद किए है. बीकानेर एसपी प्रदीप मोहन शर्मा के निर्देश पर नोखा पुलिस ने मुकाम के पास कार्यवाही की. नोखा थानाधिकारी अरविंद सिंह ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि मुकाम के पास एक कार में तीन संदिग्ध लोग बैठे हुए है.

जल्द बन सकता है कोरोना वायरस का टीका, डॉक्टरों का रिसर्च जारी !

आरोपियों से पूछताछ जारी:
जिस पर पुलिस मौके पर पहुंचकर तीनों को गिरफ्तार किया है. प्रथम दृष्टया मिली जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार तीनों आरोपी आपराधिक प्रवृत्ति के है और तीनों के खिलाफ विभिन्न थानों में आपराधिक मुकदमे भी दर्ज है. एक आरोपी के नागौर में हत्या के मामले में भी वांछित है. फिलहाल नोखा पुलिस गिरफ्तार आरोपियों के पूछताछ कर रही है. 

CORONA: घबराये नहीं, बस लक्षण दिखने पर तुरंत ले डॉक्टर से परामर्श, ले मेडिकल ट्रीटमेंट

Rajasthan Corona Update: राजस्थान में कुल आंकड़ा पहुंचा 206, कोरोना की चपेट में आने से अब तक 4 लोगों ने गंवाई जान

Rajasthan Corona Update: राजस्थान में कुल आंकड़ा पहुंचा 206, कोरोना की चपेट में आने से अब तक 4 लोगों ने गंवाई जान

जयपुर: राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा बढता जा रहा है. प्रदेश में कोरोना के संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 206 हो गई है. इनमें 45 लोग तब्लीगी जमात में शामिल होकर आये थे. वहीं प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस की वजह से 4 लोगों की मौत हो चुकी है. बीकानेर और झुंझुनूं जिले में नए मामले सामने आये है. यहां पर 25 वर्षीय युवक बीकानेर का तबलीगी जमाती, वहीं झुंझुनूं का केस, 40 वर्षीय नवलगढ़ निवासी पुरुष कोरोना पॉजिटिव पाया गया. शनिवार को प्रदेश में 25 नए पॉजिटिव मिले. 

ये है नए कोरोना के मामले:
बीकानेर में 4 दिन से पीबीएम अस्पताल में भर्ती 60 साल की महिला की सुबह 6 बजे मौत हो गई. सुबह 8 बजे महिला के कोरोना संक्रमित होने की रिपोर्ट आई. महिला यहां वेंटिलेर पर थी. पीडित महिला को बुखार और सांस लेने में परेशानी थी. प्रदेश के बांसवाड़ा जिले में पहली बार 2 पॉजिटिव मिले. 2 चूरू में संक्रमित तब्लीगी जमात से हैं. भीलवाड़ा के बांगड़ अस्पताल के ओपीडी में भर्ती एक मरीज भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया. झुंझुनू में 7 संक्रमित मिले, जो सभी तब्लीगी जमात से हैं. जोधपुर में 8 नए कोरोना संक्रमित केस सामने आये. वहीं, शाम को भरतपुर में भी दो पॉजिटिव मामले आये. वहीं टोंक और करौली में भी एक-एक मामला सामने आया. प्रदेश में शनिवार को कोरोना के केस आये है, जिनमें से 12 लोग तब्लीगी जमात में शामिल होकर आये थे. 

Lockdown: भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनियां ने शुरू की सहयोग किचन, जरूरतमंदों के घर पहुंच रहा है भोजन

जयपुर में सबसे ज्यादा पॉजिटिव:
प्रदेश की राजधानी जयपुर में कोरोना पॉजिटिव मामले सबसे ज्यादा है, यहां पर कोरोना पॉजिटिव संक्रमित लोगों की संख्या 55 हो गई है. यहां पर कोरोना से बचाव के लिए पहले ही कर्फ्यू लगा दिया गया है. वहीं अब प्रशासन ओर सतर्क हो गया है.वहीं बात करें भीलवाडा की तो यहां पर सबसे ज्यादा पॉजिटिव मरीज थे. अब यहां पर मरीजों की संख्या स्थिर हो गई है. यहां पर 27 कोरोना पॉजिटिव मरीज है. वहीं 9 लोगों की जांच पहले कोरोना पॉजिटिव आई थी. अब उनकी शुक्रवार को जांच नेगेटिव आई है. 

जोधपुर में 45 मामले:
वहीं बात करें जोधपुर जिले की तो यहां पर कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 45 हो गई है. इसमें 28 लोग ईरान से आये है. वहीं झुंझुनूं में कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या 16 है. चूरू में 10 तो टोंक में 17 कोरोना पॉजिटिव मरीज है. 

अजमेर में 5 तो बीकानेर में 3
अब बात करते है अजमेर जिले की, तो यहां पर कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 5 है. वहीं बीकानेर में 3 कोरोना पॉजिटिव मिले है. प्रतापगढ़ में 2 पॉजिटिव, तो डूंगरपुर में 3 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले है. अलवर में  2 मामले सामने आये है, जबकि अलवर में एक व्यक्ति की मौत हो गई है. 

आईडीबीआई एटीएम लूट का असफल प्रयास, एटीएम में था 19 लाख का कैश

उदयपुर में 4 मामले सामने आये:
प्रदेश के उदयपुर जिले में कोरोना के 4 मामले सामने आये है. जबकि भरतपुर में 5 कोरोना पॉजिटिव है. बांसवाडा में 2 कोरोना पॉजिटिव है. वहीं दौसा में एक कोरोना पॉजिटिव है. तो धौलपुर, सीकर, करौली और पाली में 1-1 कोरोना संक्रमित मिला है.

Lockdown: बीकानेर कलेक्टर ने टेलीफोन नंबर किए चस्पा, ताकि लॉकडाउन में ना हो परेशानी

Lockdown: बीकानेर कलेक्टर ने टेलीफोन नंबर किए चस्पा, ताकि लॉकडाउन में ना हो परेशानी

बीकानेर: लॉक डाउन की वजह से आ रही परेशानियों के मध्यनजर बीकानेर कलक्टर कुमारपाल गौतम ने 12 पॉइंट्स पर जानकारी साझा की है, जिसमे टेलीफोन नम्बर देते हुए ऐसी स्थिति में सम्पर्क की बात कही है. इसमें सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि पहला ही पॉइंट उन गरीब मजदूरों के लिए है जो मजदूरी समाप्त होने के चलते खाने से वंचित है. उनके लिए जिला रसद अधिकारी बीकानेर 01512226010 ओर बीकानेर नगर निगम के नियंत्रण कक्ष 0151 2226901 नम्बर पर सम्पर्क किया जा सकता है. आइए नजर डालते है कुछ और महत्वपूर्ण सम्पर्क नम्बरों पर....

Lockdown: जोधपुर में काम करने वाले प्रवासी श्रमिकों का पलायन जारी, रोडवेज बस स्टैंड पर लगी भीड़

-लॉक डाउन की वजह से राशन सामग्री प्राप्त करने में दिक्कत है तो सम्पर्क नम्बर 0151-2522895

-बाहर से विदेश से आने वाले लोगो की सूचना के लिए सम्पर्क नम्बर-0151- 2204989,0151-2226341

-मोहल्ले में अगर लॉक डाउन की पालना नही हो रही है तो भी शिकायत की जा सकती है. सम्पर्क नम्बर है-0151-2226031

-दवाई प्राप्त करने के लिए पांच मेडिकल स्टोर के सम्पर्क नम्बर जारी किए गए है-माणक मेडिकोज-9460502556

इसी तरह पशुओं के चारे आदि के लिए भी सम्पर्क नम्बर जारी किए गए है. निश्चित तौर पर यह मॉडल राजस्थान के अन्य जिलों में भी अपनाया जाना चाहिए. साथ ही साथ इस बात कि जरूरत है कि इसकी मोनेटरिंग कलक्टर सख्ती से करे.

राजस्थान में बढ़ा कोरोना मरीजों का आंकड़ा, झुंझुनूं में मिला एक ओर पॉजिटिव, तो मरीजों की संख्या हुई 56

Coronavirus Update: देश में COVID-19 संक्रमितों की संख्या हुई 700 के पार, अब तक 16 लोगों की मौत

Coronavirus Update: देश में COVID-19 संक्रमितों की संख्या हुई 700 के पार, अब तक 16 लोगों की मौत

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या तेजी से बढ़ती ही जा रही है. अब तक 720 से भी ज्यादा लोग इसकी चपेट में आ जुके हैं. वहीं 16 लोगों की मौत हो गई है. गुरुवार  को तीन COVID-19 संक्रमित मरीजों की मौत हो गई. वहीं करीब 90 नए मामले सामने आ गए हैं.

कोरोना महामारी की आपदा को लेकर ज्योतिषियों की भविष्यवाणी, मिल गई खात्मे की डेट 

संक्रमित लोगों की संख्या सबसे अधिक केरल में:
कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या सबसे अधिक केरल में है, यहां 137 मरीज हैं. महाराष्ट्र में 125, कर्नाटक में 55, तेलंगाना में 44, गुजरात में 43, उत्तर प्रदेश में 42, राजस्थान में 40, दिल्ली में 36, पंजाब में 33, हरियाणा में 32, तमिलनाडु में 29, मध्य प्रदेश में 20 मरीज हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज देश में अब तक के आंकड़ों के आधार पर कहा है कि भारत में संक्रमण की दर तुलनात्मक रूप से स्थिर है. मंत्रालय ने कहा कि भारत में अभी कोरोना का संक्रमण दूसरे चरण में ही है और इसके सामुदायिक संक्रमण से जुड़े तीसरे चरण में पहुंचने के फिलहाल कोई ठोस प्रमाण सामने नहीं आये है.

1.70 लाख करोड़ रुपये की 'प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना' की घोषणा: 
इस वायरस से निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें युद्ध स्तर पर कदम उठा रही है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस महामारी और उसके आर्थिक प्रभाव से निपटने के लिये आज खासतौर से गरीबों, बुजुर्गों, स्वयं सहायता समूहों और निम्न आग वर्ग को राहत देते हुए 1.70 लाख करोड़ रुपये की 'प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना' की घोषणा की.

VIDEO-Corona Updates: खुशी और गम दोनों लेकर आया भीलवाड़ा में आज का दिन 

21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा:
बता दें कि इस वायरस से बचाव के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च को देश को संबोधित करते हुए पूरे देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी. पूरे देश में सख्ती से लॉकडाउन का पालन हो रहा है. 

बीकानेर में पति-पत्नी ने ट्रेन के आगे कूदकर की आत्महत्या

बीकानेर में पति-पत्नी ने ट्रेन के आगे कूदकर की आत्महत्या

बीकानेर: जिले के गंगाशहर थाना क्षेत्र में आज एक पति-पत्नी ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली. घड़सीसर के पास रेलवे ट्रेक पर दोनों के शव मिले. मृतक दम्पति राजूराम सोनी व मुन्नी देवी सोनी गंगाशहर की चोपड़ा बाड़ी के रहने वाले थे. घटना देर रात्रि की बताई जा रही है. आत्महत्या के मामले की सूचना पर गंगाशहर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को कब्जे में लेकर PBM अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया.

पूर्व CJI रंजन गोगोई राज्यसभा के लिए मनोनीत, सीएम गहलोत ने कहा- इससे लोगों का न्यायिक प्रणाली पर विश्वास खत्म हो जाएगा 

मृतक मुन्नी देवी केंसर पीड़ित थी:
गंगाशहर थानाधिकारी अरविंद भारद्वाज ने बताया कि दोनों मृतक पति-पत्नी करीब 45-50 वर्ष के थे. मृतक मुन्नी देवी केंसर पीड़ित थी इसलिए प्रथमदृष्टया आत्महत्या का कारण बीमारी के चलते परेशानी माना जा रहा है. सम्भवतः कैंसर के इलाज में अधिक पैसे लगने व आर्थिक स्थिति खराब होने के चलते दोनों ने मौत को गले लगा लिया. पुलिस ने दोनों मृतकों के शवों का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सुपुर्द कर दिया. 

VIDEO: रंजन गोगोई को राज्यसभा से मनोनीत किये जाने पर डॉ महेश जोशी ने उठाया सवाल, बीजेपी पर साधा निशाना 

Open Covid-19