VIDEO: ब्लैक फंगस के इंजेक्शन का संकट होगा समाप्त, RMSCL एमडी आलोक रंजन  से खास बातचीत

VIDEO: ब्लैक फंगस के इंजेक्शन का संकट होगा समाप्त, RMSCL एमडी आलोक रंजन  से खास बातचीत

जयपुर: कोरोना के बाद ब्लैक फंगस बीमारी की पीड़ा झेल रहे मरीज और उनके परिजनों के लिए राहत की खबर है.बीमारी से पीडित मरीजों के लिए लाइपोजोमल एम्फोटेरिसिन बी इंजेक्शन की जो किल्लत बनी हुई है, उसमें एक सप्ताह के भीतर काफी हद तक सुधार होगा.केन्द्र के आवंटन के साथ ही राजस्थान सरकार स्थानीय स्तर पर इंजेक्शन की खरीद-फरोख्त की प्रक्रिया में जुटी है.

RMSCL एमडी आलोक रंजन का कहना है कि केन्द्र से भी अब तक 12000 इंजेक्शन की खेप मिली है.ग्लोबल टेण्डर की दिक्कतों को देखते हुए हमने वेण्डरों को 35000 इंजेक्शन का ऑर्डर दिया है, साथ ही छह भारतीय कम्पनियों को इंजेक्शन का लाइसेंस मिला है.ऐसे में उम्मीद है कि एक सप्ताह में काफी हद तक इंजेक्शन की दिक्कतें समाप्त होगी.कोरोना काल में दवाओं के मैनेजमेंट को बखूबी निभाने वाले RMSCL एमडी आलोक रंजन से खास बातचीत की हमारे संवाददाता विकास शर्मा ने 

रेमडेसिविर की किल्लत दूर करना बड़ा टास्क !:
-RMSCL एमडी आलोक रंजन की फर्स्ट इंडिया से खास बातचीत
-रंजन ने कहा कि सरकार ने अच्छी मंशा से पंजाब भेजे थे "रेमडेसिविर"
-लेकिन इसके बाद राजस्थान में अचानक केस बढे़ तो दिक्कतें होने लगी
-इस दरमियान सीएम गहलोत के निर्देश पर RMSCL ने बनाई प्लानिंग
-और सरकारी के साथ ही निजी अस्पतालों को भी उपलब्ध कराए इंजेक्शन
-रंजन ने बताया कि पिछले एक साल में 2.45 लाख इंजेक्शन की खरीद हुई
-जबकि दूसरी लहर के डेढ माह में ही 2.48  लाख इंजेक्शन के दिए आदेश
-सरकार के अथक प्रयासों का ही परिणाम है कि रेमडेसिविर का बढ़ा कोटा
-21 अप्रेल से 23 मई तक के लिए 3.76 लाख इंजेक्शन का किया गया कोटा
-रंजन ने बताया कि दो माह में  RMSCL की टीम ने 24X7 किया काम
-नतीजन अधिकांश जरूरी दवाएं मरीजों को हो पाई आसानी से उपलब्ध

राजस्थान सरकार खरीदेगी एडवांस कैटेगरी की दवाएं:
-कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच एक्टिव मोड़ में RMSCL
-चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा के निर्देशन में बढ़ाया जा रहा है प्रोक्योरमेंट
-RMSCL एमडी आलोक रंजन की फर्स्ट इंडिया से खास बातचीत
-उन्होंने बताया कि ब्लैक फंगस बीमारी में काम आने वाली दवा के क्रय आदेश जारी
-35400 लाइपोजोमल एम्फोटेरिसिन बी की आपूर्ति के लिए जारी किए आदेश
-ब्लैक फंगस में विकल्प के रूप में उपयोग पोसाकोनाजोल टैबलेट की भी खरीद
-5000 पोसाकोनाजोल टैबलेट की आपूर्ति भी हो गई है शुरू
-इसके अलावा 2000 पोसाकोनाजोल इंजेक्शन की खरीद के आदेश भी जारी
-कैडिला फार्मा की वीराफीन दवा की 2000  खेप के आदेश जारी, 813 की आपूर्ति

तीसरी लहर से निपटने के लिए हर मोर्चें को किया जा रहा मजबूत !:
-RMSCL एमडी आलोक रंजन की फर्स्ट इंडिया से खास बातचीत
-रंजन ने कहा कि तीसरी लहर में आशंका जताई गई है कि बच्चे प्रभावित होंगे
-ऐसे में निगम से अभी से ही पर्याप्त दवाओं के लिए टेण्डर कर लिए है
-DRDO की तरफ से विकसित 2-डीजी की खरीद के प्रयास भी शुरू
-करीब 10 हजार दवा के लिए जारी किए जा चुके है क्रयादेश
-इसके अलावा रोश फार्मा की एंटीबॉडी कॉकटेल की 1114 खेप की भी आपूर्ति
-एसएमएस मेडिकल कॉलेज को उपलब्ध कराई गई है यह दवा
-बच्चों के लिहाज से एक्सपर्ट कमेटी ने जिन दवाओं की सिफारिश की है
-उन सभी दवाओं को आवश्यक सूची में शामिल कर खरीद प्रक्रिया शुरू की है
-आवश्यक सूची में सम्मिलित नहीं होने वाली दवाओं के लिए निविदा प्रक्रियाधीन है
-तीसरी लहर में बच्चों के सर्वाधिक प्रभावित होने की आशंका
-ऐसे में अभी से दिए गए रेमडेसिविर के 80MG की वाइल के दिए गए ऑर्डर
-एडल्ट के लिए भी मंगवाए जा रहे 400MG के लिक्विड और पाउडर वाले वाइल
-पेरासिटामोल, लिवोसिट्राजिन, एजीथ्रोमायसिन सहित अन्य जरूरी दवाइयां मंगवाई जा रही सीरप फॉम में

और पढ़ें