ब्लू स्काई और ग्रीन जंगल...! इन दिनों विश्वविख्यात केवलादेव नेशनल पार्क का कुछ ऐसा ही नजारा 

ब्लू स्काई और ग्रीन जंगल...! इन दिनों विश्वविख्यात केवलादेव नेशनल पार्क का कुछ ऐसा ही नजारा 

ब्लू स्काई और ग्रीन जंगल...! इन दिनों विश्वविख्यात केवलादेव नेशनल पार्क का कुछ ऐसा ही नजारा 

भरतपुर: ब्लू स्काई और ग्रीन जंगल, जी हां कुछ इस तरह का ही नजारा दिखाई दे रहा है इन दिनों विश्व विख्यात केवलादेव नेशनल पार्क में.जो कि परिंदों के कलरव से गुंजायमान हो उठा है. विभिन्न प्रजातियों के परिंदे इन दिनों पार्क में नेस्टिंग बनाने में जुटे हुए हैं तो कई प्रजातियों के परिंदों के घोंसले से नन्हे मेहमान भी बाहर निकलने लगे हैं. केवलादेव नेशनल पार्क में इन दिनों बड़ी संख्या में पेंटेड स्टोर्क पार्क के बी और डी ब्लॉक में दिखाई दे रहे हैं और दोनों ही ब्लॉक पेंटेड स्टोर्क की कॉलोनियों से भरे पड़े हैं.

नन्हे मेहमानों की गूंजने लगेगी किलकारियां:
पेंटेड स्टोर्क पेड़ों पर इन दिनों नेस्टिंग बनाने में व्यस्त हैं और कुछ दिनों बाद इनके घोंसलों से भी नन्हे मेहमानों की किलकारियां गूंजने लगेगी. केवलादेव नेशनल पार्क इन दिनों पानी की कमी से उबर चुका है और पहले गोवर्धन ड्रेन, चंबल और अब बरसात के पानी ने इसकी फिजां को बदल डाला है.

इन दिनों प्रकृति की भरपूर मेहरबानी:
पार्क पर इन दिनों प्रकृति की भरपूर मेहरबानी है. पिछले दिनों राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी केवलादेव नेशनल पार्क में पानी की कमी पर गंभीरता दिखाई थी और संबंधित विभागों को पार्क के लिए पानी पहुंचाने की कार्य योजना बनाने के निर्देश भी दिए थे. जाने-माने पक्षी विद अबरार खान भोलू का कहना है कि अगर सरकार के प्रयासों से पार्क को पानी मिलता है तो इसकी रौनक में और चार चांद लग जाएंगे.

...फर्स्ट इंडिया के लिए दीपक लवानिया की रिपोर्ट

और पढ़ें