बंगाल की खाड़ी में ऊंची लहरों की वजह से पलटे ट्रॉलर से मिले नौ मछुआरों के शव, एक लापता

बंगाल की खाड़ी में ऊंची लहरों की वजह से पलटे ट्रॉलर से मिले नौ मछुआरों के शव, एक लापता

 बंगाल की खाड़ी में ऊंची लहरों की वजह से पलटे ट्रॉलर से मिले नौ मछुआरों के शव, एक लापता

नामखाना (पश्चिम बंगाल): बंगाल की खाड़ी में ऊंची लहरों के कारण बुधवार सुबह पलट गए मछली पकड़ने वाले जहाज (ट्रॉलर) के अंदर बृहस्पतिवार सुबह नौ मछुआरों के शव मिले. ये मछुआरे 24 परगना जिले के रहने वाले थे. अधिकारियों ने बताया कि एक व्यक्ति का पता नहीं चल पाया है और उसकी तलाश की जा रही है.

मछली को पकड़ने के बाद मछुआरे लौट रहे थे ट्रॉलर हैमाबाती से:

अधिकारियों ने बताया कि हिल्सा मछली को पकड़ने के बाद मछुआरे ट्रॉलर हैमाबाती से लौट रहे थे जो बक्खाली तट से कुछ दूरी पर, रक्तेश्वरी द्वीप के नजदीक एकाएक आई ऊंची लहरों के कारण पलट गया था. मछुआरे शंकर साश्मल मांझी और सैकत दास डेक पर थे और ट्रॉलर चला रहे थे. दोनों समुद्र में कूद गए और उन्हें मछुआरों की एक अन्य नौका ने बचा लिया. ऐसा माना जा रहा है कि अन्य मछुआरे घटना के वक्त सो रहे थे इसलिए उन्हें ट्रॉलर से निकलने का मौका नहीं मिल पाया.

मछलियों से भरे ट्रॉलर के कैबिन में नौ शव मिले:

तलाश एवं बचाव अभियान के एक दिन बाद मछलियों से भरे ट्रॉलर के कैबिन में नौ शव मिले हैं. तटरक्षक बल लापता मछुआरा अनादि साश्मल की तलाश कर रहा है. अधिकारियों ने बताया कि मछुआरे की तलाश में गश्ती वाहनों और ड्रोन की भी मदद ली जा रही है. ट्रॉलर नामखाना इलाके से पांच दिन पहले रवाना हुआ था और इस पर 12 मछुआरे सवार थे.(भाषा) 

और पढ़ें