भोपाल शिवराज सिंह चौहान बोले- वायुसेना के विमान से खजुराहो भेजे जाएंगे उत्तरकाशी हादसे में मारे गए तीर्थयात्रियों के शव

शिवराज सिंह चौहान बोले- वायुसेना के विमान से खजुराहो भेजे जाएंगे उत्तरकाशी हादसे में मारे गए तीर्थयात्रियों के शव

शिवराज सिंह चौहान बोले- वायुसेना के विमान से खजुराहो भेजे जाएंगे उत्तरकाशी हादसे में मारे गए तीर्थयात्रियों के शव

भोपाल: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने उत्तराखंड में बस दुर्घटना में मारे गए तीर्थयात्रियों के शवों को भारतीय वायु सेना के विमान से मध्य प्रदेश पहुंचाने के उनके अनुरोध को स्वीकार कर लिया है.  मध्य प्रदेश के पन्ना जिले के तीर्थयात्रियों को ले जा रही एक बस के रविवार को उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में गहरी खाई में गिर जाने से उसमें सवार 26 लोगों की मौत हो गई थी और चार अन्य घायल हो गए थे. 

बस में चालक और सह चालक सहित कुल 30 लोग मौजूद थे. शिवराज प्रदेश के मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह, पुलिस महानिदेशक सुधीर सक्सेना और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ रविवार रात देहरादून के लिए रवाना हुए थे. मध्य प्रदेश के गृह विभाग ने पन्ना के उन 28 यात्रियों की सूची जारी की, जो दुर्घटनाग्रस्त बस में यात्रा कर रहे थे. शिवराज ने उत्तराखंड पहुंचकर घायलों से मुलाकात की और उनके इलाज की व्यवस्था का जायजा लिया. शिवराज ने सोमवार को ट्वीट किया कि रक्षा मंत्री ने उत्तराखंड में बस हादसे में मारे गए पन्ना के तीर्थयात्रियों के शव को वायुसेना के विमान से मध्य प्रदेश पहुंचाने का आग्रह स्वीकार कर लिया है. उन्होंने आगे लिखा कि सभी शव सोमवार सुबह दस बजे तक देहरादून पहुंच जाएंगे. 

दोपहर दो बजे तक भारतीय वायुसेना के विमानों द्वारा इन्हें मध्य प्रदेश के खजुराहो (पन्ना का निकटतम हवाईअड्डा) के लिए रवाना किया जाएगा. शिवराज ने कहा कि खजुराहो में पहले से तैनात हमारे वाहन शवों को तुरंत उनके गांव ले जाएंगे. हम प्रयास कर रहे हैं कि शवों को पूरे सम्मान के साथ मध्य प्रदेश लाया जाए और आज ही उनका अंतिम संस्कार किया जाए. मुख्यमंत्री ने रविवार को प्रत्येक मृतक के परिजनों को पांच लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की थी. उन्होंने बस हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को दो लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार भी जताया था. सोर्स- भाषा

और पढ़ें