close ads


कमलेश तिवारी हत्याकांड के दोनों मुख्य आरोपी गिरफ्तार, मां ने की हत्यारों को फांसी देने की मांग

कमलेश तिवारी हत्याकांड के दोनों मुख्य आरोपी गिरफ्तार, मां ने की हत्यारों को फांसी देने की मांग

अहमदाबाद: हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या के मुख्य आरोपियों को पांच दिन बाद गुजरात एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया है. आरोपियों के नाम अशफाक और मोइनुद्दीन हैं. गुजरात राजस्थान बॉर्डर पर श्यामलाजी के पास से इन्हें गिरफ्तार किया गया है. ये दोनों आरोपी 18 अक्टूबर को तिवारी की हत्या के बाद से फरार थे. खुलासा हुआ है कि लखनऊ में कमलेश तिवारी से मिलने दोनों अपना असली नाम बदलकर गए थे. अशफाक जहां रोहित तो वहीं मोइनुद्दीन संजय बनकर कमलेश तिवारी से मुलाकात करने पहुंचा था. गिरफ्तारी के बाद कमलेश की मां कुसुम तिवारी ने दोनों को फांसी देने की मांग की है.

दोनों आरोपियों ने हत्या की बात कुबूल कर ली: 
दोनों आरोपियों ने हत्या की बात कुबूल कर ली है. आरोपियों ने इस वारदात को कमलेश तिवारी के मुहम्मद पैगम्बर को लेकर दिए गए बयान के बाद किया है. इससे पहले स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने इसी मामले में एक इनोवा कार जब्त की थी. कमलेश के कातिलों ने लखीमपुर में पलिया से शाहजहांपुर तक जाने के लिए इसे बुक किया था. कार के ड्राइवर को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया गया है.

हिंडोला इलाके में उनके घर में की थी हत्या: 
बता दें कि हिंदू समाज पार्टी के एक धड़े से जुड़े रहे 45 साल के कमलेश तिवारी की हत्या लखनऊ के नाका हिंडोला इलाके में उनके घर में कर दी गयी थी. हत्या मामले में सूरत के तीन लोगों और महाराष्ट्र के नागपुर से एक व्यक्ति के साथ कुल छह लोगों को पहले ही हिरासत में लिया जा चुका है.


 

और पढ़ें