ब्रिटेन ने टीकाकरण अभियान के लिए तत्काल म्यांमार में झड़प रोकने की मांग की

ब्रिटेन ने टीकाकरण अभियान के लिए तत्काल म्यांमार में झड़प रोकने की मांग की

ब्रिटेन ने टीकाकरण अभियान के लिए तत्काल म्यांमार में झड़प रोकने की मांग की

संयुक्त राष्ट्र: ब्रिटेन ने म्यांमा में कोविड-19 की खतरनाक तीसरी लहर के प्रसार को रोकने के मद्देनजर टीकाकरण अभियान चलाने के लिए मंगलवार को देश में सैन्य शासन के बाद हो रही झड़पों और अशांति को तत्काल रोकने की मांग की. संयुक्त राष्ट्र में ब्रिटेन के उप राजदूत जेम्स करूकी ने सुरक्षा परिषद की चर्चाओं के बाद संवाददाताओं से कहा कि म्यांमा में झड़प रोकने और मजबूत अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रिया की मांग में ब्रुनेई के विदेश मंत्री डोटा एरिवान भी शामिल हुए, जो कि इस ऑनलाइन बैठक में शामिल हुए दक्षिणपूर्व एशियाई देशों के 10 सदस्यीय संघ के नए विशेष दूत हैं.

कारूकी ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र की विशेष दूत क्रिस्टीन श्रेनर बर्गनर और संयुक्त राष्ट्र के मानवीय सहायता उप प्रमुख रमेश राजासिंघम ने परिषद को बताया कि म्यांमा में दिन प्रति दिन मानवीय संकट गहराता जा रहा है.

उन्होंने कहा कि तख्ता पलट से पहले म्यांमा में टीकाकरण के अच्छे रिकॉर्ड थे और वह कोविड-19 से निपटने की योजना तैयार कर रहा था और अब मुश्किल से ही म्यांमा का स्वास्थ्य तंत्र काम कर रहा है. अस्पतालों, डॉक्टरों और नर्सों पर हमले जारी हैं और अब तक सिर्फ़ तीन फ़ीसदी आबादी का ही टीकाकरण हो पाया है.’’

और पढ़ें