लंदन: भारतीय श्रृंखला से बाहर होने से ब्रॉड निराश, नजरें एशेज पर

भारतीय श्रृंखला से बाहर होने से ब्रॉड निराश, नजरें एशेज पर

भारतीय श्रृंखला से बाहर होने से ब्रॉड निराश, नजरें एशेज पर

लंदन: पिंडली की चोट के कारण भारत के खिलाफ घरेलू टेस्ट श्रृंखला से बाहर होने से निराश स्टुअर्ट ब्रॉड ने कहा है कि वह चोट से उबरने पर ध्यान लगाएंगे और दिसंबर में होने वाली एशेज की तैयारी करेंगे. इंग्लैंड के इस तेज गेंदबाज को मंगलवार को वार्मअप के दौरान दायें पैर की पिंडली में चोट लगी थी. बुधवार को लंदन में ब्रॉड का एमआरआई स्कैन किया गया जिसमें चोट की पुष्टि हुई.

मैंने महसूस किया कि वह मेरे आसपास भी नहीं है:
ब्रॉड ने इंस्टाग्राम पर लिखा कि चीजें कितनी तेजी से बदल सकती हैं. ट्रेनिंग से पहले खुशियां थी और फिर वार्म अप के दौरान भी, मैं एक बाधा के ऊपर से कूदा, अपने दायें टखने के बल गलत तरीके से नीचे आया और फिर अगले कदम पर ऐसा लगता कि किसी ने मेरे पैर के पीछे बहुत जोर से मारा है. उन्होंने कहा कि मैं इसके बाद जेम्स एंडरसन की तरफ मुड़ा और पूछा कि उसने मुझे क्यों मारा. लेकिन जब मैंने महसूस किया कि वह मेरे आसपास भी नहीं है तो मैं समझ गया कि मैं संकट में हूं.

पूरा समय लूंगा, कोई जल्दबाजी नहीं करूंगा:
ब्रॉड ने कहा कि स्कैन में पला चला कि पिंडली में ग्रेड तीन की चोट है. सत्र खत्म हो गया. भारत के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला से बाहर होकर निराश हूं लेकिन अब ध्यान आस्ट्रेलिया पर है. पूरा समय लूंगा, कोई जल्दबाजी नहीं करूंगा, धीरे धीरे आगे बढ़ूंगा और वहां जाने से पहले पूर्ण फिटनेस हासिल करने की कोशिश करूंगा.

 मेरा ध्यान अब इसी पर है. पिछले हफ्ते ड्रॉ समाप्त हुए वर्षा से प्रभावित पहले टेस्ट में ब्रॉड एक विकेट ही हासिल कर पाए थे. ब्रॉड 150वां टेस्ट खेलने की दहलीज पर हैं. भारत और इंग्लैंड के बीच दूसरा टेस्ट लार्ड्स में गुरुवार से खेला जाएगा. (भाषा)

और पढ़ें