बूंदी Bundi: तेज बरसात के चलते चंबल में हुई भारी पानी की आवक, जलमग्न हुआ शिवालय

Bundi: तेज बरसात के चलते चंबल में हुई भारी पानी की आवक, जलमग्न हुआ शिवालय

Bundi: तेज बरसात के चलते चंबल में हुई भारी पानी की आवक, जलमग्न हुआ शिवालय

बूंदी: चंबल नदी (Chambal river) के ऊपरी इलाकों में हो रही भारी बरसात और कोटा बैराज से की गई भारी पानी की निकासी के चलते चम्बल नदी उफान पर है. इससे उपखण्ड क्षेत्र के रोटेदा कस्बे के समीप निकल रहे स्टेट हाइवे पर बनी पुलिया जलमग्न होने के आसार बने हुए है. पुलिया से महज करीब दो फिट पानी नीचे चल रहा है. चम्बल में बढ़ते जलस्तर को लेकर उपखण्ड प्रशासन भी काफी सक्रिय नजर आया. 

उपखण्ड अधिकारी बलबीर सिंह, पुलिस उपाधीक्षक शंकरलाल मीणा और थानाधिकारी सुरेश गुर्जर पूरी मोनिटरिंग करने में जुटे हुए हैं. वहीं लोगों से चम्बल के समीप नहीं जाने की अपील कर रहे हैं. कापरेन क्षेत्र के रोटेदा कस्बे से होकर गुजर रही चम्बल नदी में शुक्रवार को भारी पानी की आवक रही. स्टेट हाइवे 37 ए रोटेदा-मंडावरा के बीच बनी पुलिया जलमग्न होने से महज 2 फिट की दूरी रही. यहां चम्बल नदी के किनारे बना प्राचीन चंबलेश्वर महादेव का शिव मंदिर भी जलमग्न हो गया. 

रोटेदा-मंडावरा मार्ग अवरुद्ध होने के आसार:

चम्बल में बढ़ते जलस्तर से रोटेदा-मंडावरा मार्ग अवरुद्ध होने के आसार बने हुए हैं. गौरतलब है कि कोटा बैराज से भारी पानी की निकासी के चलते चम्बल नदी उफान पर है. चम्बल नदी के किनारे बने चंबलेश्वर महादेव का मंदिर जलमग्न है. सुबह कोटा बैराज से करीब 8 गेट 6/6 फिट खोलकर 58 हजार केस्युक पानी की निकासी की गई. वहीं पुलिया का बढ़ता जलस्तर लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र रहा.

और पढ़ें