प्रशासन शहरों के संग अभियान में CM गहलोत ने दिया बड़ा मैसेज, कहा- अब मुझे 10-15 साल तक कुछ नहीं होने वाला, कोई दुखी हो तो हो, मैं कही जाने वाला नहीं

प्रशासन शहरों के संग अभियान में CM गहलोत ने दिया बड़ा मैसेज, कहा- अब मुझे 10-15 साल तक कुछ नहीं होने वाला, कोई दुखी हो तो हो, मैं कही जाने वाला नहीं

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज प्रशासन शहरों के संग अभियान के दौरान एक बड़ा मैसेज दिया. सीएम गहलोत ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि कहते है पंजाब के बाद राजस्थान की बारी है. अब मुझे 10-15 साल तक कुछ नहीं होने वाला है. अब कोई दुखी हो तो हो, मैं कही जाने वाला नहीं हूं. राज्य में अभी तक कोई एन्टी इनकम्बेंसी नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के कुछ जरूर लाइन पार कर देते हैं. लेकिन प्रदेश की जनता अभी भी सरकार बनाना चाहती है. 

उन्होंने खुद के स्वास्थ्य को लेकर कहा कि मेरे पूरे प्रदेशवासियों की दुआएं काम आई है. चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने हैडमास्टर की तरह पूरी मॉनिटरिंग संभाली. मेरे अंदर क्या हुआ इस बारे में रघु शर्मा को ज्यादा पता है. अब मुझे 10-15 साल तक कुछ नहीं होने वाला. ऐसे में अब कोई दुखी होए तो हो, मैं कहीं जाने वाला नहीं हूं. इस दौरान सीएम गहलोत ने चुटकी लेते हुए कहा कि यहां सीएस बैठे हैं सचिवालय के अधिकारी बैठे हैं. सबसे पहले यह चिंतित हुए कि क्या पता सरकार रहेगी या नहीं काम करना बंद यह स्थिति है. लेकिन मेरी साथियों की वजह से सब ठीक हो गया. 

हमे काम करने के लिए सिर्फ 13 महीने मिले: 
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि 31 महीने में से 18 महीने कोरोना व चुनाव में चले गए हैं. हमे काम करने के लिए सिर्फ 13 महीने मिले हैं. इस समय भी हमने शानदार काम किया है. उन्होंने कहा कि मीडिया कर्मी चाहते हैं कि मैं कुछ बोलूं. सुबह से बोलने के लिए मेरे पीछे पड़े हैं. मीडिया पर निशाना साधते हुए सीएम गहलोत ने कहा कि वो भी ED, CBI दिखते ही गुमराह करने वाली स्टोरी चलाते हैं. 

प्रशासन शहरों के संग अभियान की आज से शुरूआत: 
बता दें कि प्रशासन शहरों के संग अभियान की आज से शुरूआत हो गई है. जयपुर में 22 गोदाम स्थित राममंदिर चौराहे से सीएम हाउस तक अनूठे तरीके से यात्रा निकाली गई.  इसके बाद सभी 5 लोगों को मुख्यमंत्री के हाथों उनके मकान, जमीनों के पट्‌टे दिलवाए गए.

और पढ़ें