जयपुर CM गहलोत ने की इंद‍िरा गांधी नहर में गंदे पानी की समस्या को लेकर पंजाब के मुख्‍यमंत्री मान से की बात

CM गहलोत ने की इंद‍िरा गांधी नहर में गंदे पानी की समस्या को लेकर पंजाब के मुख्‍यमंत्री मान से की बात

CM गहलोत ने की इंद‍िरा गांधी नहर में गंदे पानी की समस्या को लेकर पंजाब के मुख्‍यमंत्री मान से की बात

जयपुर: इंदिरा गांधी नहर परियोजना (Indira Gandhi Canal Project) में दूषित पानी डाले जाने को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (CM Bhagwant Mann) ने राजस्‍थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) को आश्वासन दिया है कि गंदे पानी के निस्तारण का कार्य प्राथमिकता से किया जाएगा तथा अगली नहरबंदी के दौरान नहर की मरम्‍मत आदि का कार्य पूर्ण करवा दिया जाएगा.

मुख्‍यमंत्री गहलोत ने बुधवार को ट्वीट कर यह जानकारी दी. उन्‍होंने लिखा कि पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान से इन्दिरा गांधी नहर परियोजना में पंजाब के बूढ़ानाला से आने वाले गंदे जल के निस्तारण एवं इन्दिरा गांधी नहर परियोजना तथा सरहिंद फीडर की मरम्मत के संबंध में वार्ता की. मान ने मुझे आश्वस्त किया है कि गंदे जल के निस्तारण का कार्य प्राथमिकता से किया जाएगा एवं अगली नहरबंदी के दौरान मरम्मत का कार्य पूर्ण करवा दिया जाएगा.

इन्दिरा गांधी नहर के करीब 106 किलोमीटर हिस्से की मरम्मत का काम किया जा चुका:
ज्ञातव्य है कि राजस्थान सरकार द्वारा इन्दिरा गांधी फीडर की बुर्जी संख्‍या (आरडी) 555 (राजस्थान-हरियाणा बॉर्डर) एवं बीकानेर कैनाल की आरडी 368 (राजस्थान-पंजाब बॉर्डर) पर रियल टाइम वॉटर क्वालिटी मॉनिटिरिंग सिस्टम स्थापित किया है. इससे पानी की गुणवत्ता पर नजर रखी जाती है. गहलोत ने लिखा कि राजस्थान सरकार द्वारा पिछले तीन साल में नहरबंदी के दौरान इन्दिरा गांधी नहर के करीब 106 किलोमीटर हिस्से की मरम्मत का काम किया जा चुका है. इससे पानी की गुणवत्ता एवं मात्रा में सुधार आया है एवं आखिरी छोर तक पानी की आपूर्ति सुनिश्चित हुई है. 

और पढ़ें