अहमदाबाद International Yoga Day पर CM भूपेंद्र पटेल बोले- योग से लोगों को स्वस्थ जीवन शैली की महत्ता समझ आई

International Yoga Day पर CM भूपेंद्र पटेल बोले- योग से लोगों को स्वस्थ जीवन शैली की महत्ता समझ आई

International Yoga Day पर CM भूपेंद्र पटेल बोले- योग से लोगों को स्वस्थ जीवन शैली की महत्ता समझ आई

अहमदाबाद: गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल और केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री डॉ. भागवत कराड ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर अहमदाबाद के ‘साबरमती रिवरफ्रंट’ में मंगलवार सुबह योगाभ्यास के दौरान करीब 7,500 लोगों की अगुवाई की.

पटेल ने योगाभ्यास करने वालों को संबोधित करते हुए कहा कि अधिकतर लोगों को कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के बाद योग और प्राणायाम पर आधारित स्वस्थ जीवनशैली की महत्ता समझ आ गई है. मुख्यमंत्री ने कहा कि वह दो साल पहले राज्य सरकार द्वारा स्थापित गुजरात राज्य योग बोर्ड की मदद से योग्य योग प्रशिक्षक उपलब्ध कराएंगे.

अन्य प्रतिभागियों ने मंगलवार को योग किया:
पटेल ने बताया कि चूंकि देश अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है, इसलिए गुजरात सरकार ने योग दिवस कार्यक्रमों की मेजबानी के लिए राज्य के 75 प्रमुख स्थानों का चयन किया है.

एक सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी (नर्मदा जिला), मोढेरा सूर्य मंदिर (मेहसाणा), कच्छ में सफेद रण, घेला सोमनाथ (गिर सोमनाथ) और रानी की वाव (पाटन) समेत कई स्थानों पर गणमान्य व्यक्तियों और अन्य प्रतिभागियों ने मंगलवार को योग किया.

बड़ी संख्या में लोगों ने विभिन्न स्थानों पर योगासन किए: 
राज्य भर के गांवों, तालुकों, जिलों और शहरों में आयोजित योग दिवस कार्यक्रमों में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया. स्कूल, कॉलेज, स्वास्थ्य केंद्रों, पुलिस मैदानों और अन्य सार्वजनिक स्थानों पर भी विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए. राज्य और केंद्रीय मंत्रियों, स्थानीय विधायकों और सांसदों समेत बड़ी संख्या में लोगों ने विभिन्न स्थानों पर योगासन किए.

हेरिटेज संग्रहालय मैदान में योगाभ्यास किया:
एक विज्ञप्ति में बताया गया कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, केंद्रीय पशुपालन, डेयरी एवं मत्स्य पालन मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने मोढेरा सूर्य मंदिर और खेड़ा से सांसद एवं केंद्रीय संचार राज्य मंत्री देवुसिंह चौहान ने कच्छ के धोलावीरा में हेरिटेज संग्रहालय मैदान में योगाभ्यास किया.

सार्वजनिक स्थानों पर दो साल के अंतराल के बाद योग दिवस मनाया जा रहा है. इससे पहले कोरोना वायरस के कारण 2020 और 2021 में राज्य में योग दिवस पर कोई सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया था. सोर्स-भाषा 

और पढ़ें