बेंगलुरू विश्व आर्थिक मंच की वार्षिक बैठक में हिस्सा लेने पर जल्द फैसला लेंगे CM बोम्मई

विश्व आर्थिक मंच की वार्षिक बैठक में हिस्सा लेने पर जल्द फैसला लेंगे CM बोम्मई

विश्व आर्थिक मंच की वार्षिक बैठक में हिस्सा लेने पर जल्द फैसला लेंगे CM बोम्मई

बेंगलुरू: कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने शनिवार को कहा कि वह विश्व आर्थिक मंच की वार्षिक बैठक में हिस्सा लेने के लिए स्विट्ज़रलैंड के दावोस शहर के अपने दौरे पर जल्द ही फैसला लेंगे. उन्होंने कहा कि राज्यसभा और विधान परिषद के आगामी चुनावों को देखते हुए उन्हें अपना कार्यक्रम तय करना होगा. इसके अलावा स्थानीय निकाय चुनावों की तारीखों का भी एलान होना है.

बोम्मई ने संवाददाताओं से कहा कि मैं आज अपनी प्रस्तावित दावोस यात्रा के बारे में फैसला करूंगा. मैं देश के उन दो मुख्यमंत्रियों में से एक हूं जिन्हें दावोस का निमंत्रण मिला है, यह एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम होता है. लेकिन चूंकि अब चुनाव बेहद नजदीक आ गए हैं, इसलिए मुझे कितने दिन के लिए जाना चाहिए और कब जाना होगा, इसको लेकर मैं फैसला करूंगा. बोम्मई और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगनमोहन रेड्डी के 22-26 मई तक दावोस में होने वाली विश्व आर्थिक मंच की वार्षिक बैठक के लिए वहां जाने की उम्मीद है.

मोदी और कुछ वरिष्ठ केंद्रीय मंत्रियों के भी भाग लेने की उम्मीद:

इसके अलावा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे के साथ-साथ तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के बेटे के टी रामाराव भी दावोस जाएंगे. विश्व आर्थिक मंच के दावोस शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कुछ वरिष्ठ केंद्रीय मंत्रियों के भी भाग लेने की उम्मीद है. हालांकि, इस संबंध में अब तक कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गयी है. कर्नाटक की चार राज्यसभा सीटों और राज्य विधान परिषद के दो निर्वाचन क्षेत्रों में से प्रत्येक के लिए द्विवार्षिक चुनाव क्रमशः 10 और 13 जून को होंगे.

इसके अलावा कर्नाटक विधान परिषद के द्विवार्षिक चुनाव तीन जून को होंगे.कर्नाटक में मंत्रिमंडल विस्तार या फेरबदल के संबंध में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से विचार-विमर्श होने के सवाल के जवाब में बोम्मई ने अपनी बात को दोहराते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के केंद्रीय नेता कुछ दिनों में फैसला करेंगे और इस बारे में सूचित करेंगे. बोम्मई ने संवाददाताओं से पूछा कि क्या आप राजनीति में (बिल्कुल) इस तरह का अनुमान लगा सकते हैं? सोर्स-भाषा 

और पढ़ें