भारी बारिश व खराब मौसम के चलते सीएम गहलोत नहीं जा सके बेणेश्वर धाम

Naresh Sharma Published Date 2019/08/09 09:01

जयपुर: भारी बारिश व खराब मौसम के चलते मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आज बागड़ का दौरा रद्द हो गया और वे बेणेश्वर धाम जाने की बजाय जयपुर से सीधे दिल्ली पहुंच गए. दिल्ली में मुख्यमंत्री गहलोत ने एआईसीसी में कश्मीर मुद्दे पर आयोजित अहम बैठक में हिस्सा लिया. दिल्ली में ही कल कांग्रेस CWC की मीटिंग होगी. सीएम अशोक गहलोत के इस मीटिंग में भी हिस्सा लेने की संभावना है. 

काफी प्रयास के बावजूद नहीं जा सके बेणेश्वर धाम:
विश्व आदिवासी दिवस पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आज काफी प्रयास के बावजूद आदिवासियों के बीच नहीं जा सके. दरअसल तय कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री को सुबह 10 बजे जयपुर से रवाना होकर डूंगरपुर के बेणेश्वर धाम जाना था. शुक्रवार सवेरे से ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियो का दोबड़ा हवाई पट्टी व नवाटापरा पर तांता लगा हुआ था और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का इंतजार करते रहे. मुख्यमंत्री गहलोत भी वहां जाकर राज्य स्तरीय कार्यक्रम के माध्यम से आदिवासियों के बीच समय बिताना चाहते थे, लेकिन तेज बारिश ने ऐसा नहीं होने दिया. मुख्यमंत्री आवास से रवाना होकर गहलोत स्टेट हैंगर भी पहुंच गए थे और करीब एक घंटे तक वहां इंतजार किया, लेकिन डूंगरपुर की दोबड़ा हवाई पट्टी पर लैंडिंग की अनुमति नहीं मिलने के कारण दौरा रद्द करना पड़ा. 

सीएम ने दी शुभकामनायें:
इस बीच मुख्यमंत्री ने विश्व आदिवासी दिवस पर शुभकामनायें देते हुए कहा कि हमारे प्रदेश के आदिवासी भाईयों ने आजादी के आंदोलन में महत्वपूर्ण योगदान देने के साथ ही अपनी मूल संस्कृति को संरक्षित रखने में महती भूमिका निभाई है. आज वे हर क्षेत्र में अपनी क्षमता, योग्यता का उल्लेखनीय प्रदर्शन कर रहे हैं. गहलोत ने कहा कि आदिवासी भाई अपनी भावी पीढ़ी को शिक्षित बनाने का संकल्प लें ताकि वे देश एवं प्रदेश के विकास में और अधिक सक्रिय भागीदारी निभा सकें. 

जयपुर से सीधे पहुंचे दिल्ली:
वागड़ दौरा रद्द होने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सीधे दिल्ली चले गए. हालांकि पूर्व कार्यक्रम के अनुसार उनको शाम चार बजे डूंगरपुर से दिल्ली जाना था. दिल्ली पहुंचकर मुख्यमंत्री ने एआईसीसी दफ्तर में कांग्रेसी नेताओं से मुलाकात की. इसके बाद उन्होंने शाम को कश्मीर मुद्दे पर कांग्रेस दफ्तर में आयोजित अहम बैठक में भी हिस्सा लिया. बैठक में कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शामिल हुए. गहलोत के अलावा राजस्थान से सचिन पायलट भी इस बैठक में थे. दरअसल कश्मीर मुद्दे पर कांग्रेस में दो फाड़ नजर आ रहा है. कांग्रेस के कई प्रमुख नेता धारा 370 हटाने के फैसले का स्वागत कर चुके हैं, जिसमें राजस्थान के एक मंत्री अशोक चांदना भी शामिल है. वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का मानना है कि सरकार ने संविधान का पालन नहीं किया. ऐसे में अब इस मुद्दे पर एक राय बनाने के लिए यह बैठक की गई. 

कल कांग्रेस CWC की मीटिंग:
शनिवार को दिल्ली में ही कांग्रेस की वर्किंग कमेटी की मीटिंग भी होगी, जिसमें कांग्रेस के नए अध्यक्ष को लेकर फैसला हो सकता है. सीएम गहलोत भी इस मीटिंग में मौजूद रहे सकते हैं. इस बैठक को काफी महत्वपूर्ण माना जाएगा, क्योंकि अध्यक्ष के बारे में फैसले के बाद ही कांग्रेस की अगली दिशा तय हो पाएगी. इस बीच चर्चा यह भी है कि वर्किंग कमेटी व अध्यक्ष पर फैसला होने के बाद प्रदेश में मंत्रीमंडल फेरबदल की कवायद शुरू हो जाएगी और राजनीतिक नियुक्ति की दिशा में भी काम होगा.  
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in