CM गहलोत ने दी किसानों को राहत, कृषि उपभोक्ताओं को बिजली बिलों पर प्रतिमाह मिलेगा एक हजार रुपए अनुदान

CM गहलोत ने दी किसानों को राहत, कृषि उपभोक्ताओं को बिजली बिलों पर प्रतिमाह मिलेगा एक हजार रुपए अनुदान

CM गहलोत ने दी किसानों को राहत, कृषि उपभोक्ताओं को बिजली बिलों पर प्रतिमाह मिलेगा एक हजार रुपए अनुदान

जयपुर: राजस्थान सरकार कृषि उपभोक्ताओं को बिजली बिलों पर हर माह 1000 रुपये का अनुदान देगी. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने किसानों को राहत देने के लिए मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना के प्रारूप को मंजूरी दे दी है. एक बयान के अनुसार इससे कृषि उपभोक्ताओं को बिजली बिलों पर प्रतिमाह एक हजार रुपये या प्रतिवर्ष अधिकतम 12 हजार रुपये का अनुदान मिल सकेगा. योजना बिलिंग माह मई 2021 से लागू होगी. योजना के प्रारूप के अनुसार विद्युत वितरण निगम कृषि उपभोक्ताओं को द्विमासिक बिलिंग व्यवस्था के आधार पर विद्युत बिल जारी करेगा. 

अनुदान राशि सामान्य श्रेणी-ग्रामीण (ब्लॉक सप्लाई) कृषि उपभोक्ताओं को मीटर व फ्लैट रेट श्रेणी दोनों में देय होगी. यह अनुदान राशि विद्युत वितरण निगमों की कोई राशि संबंधित उपभोक्ता पर बकाया नहीं होने पर ही दी जाएगी. यदि किसी माह उपभोक्ता की पुनर्भरण राशि एक हजार रुपये से कम होती है तो शेष राशि का समायोजन उसी वित्तीय वर्ष के आगामी महीनों में किया जा सकेगा.

योजना के प्रारंभ होने के बाद बिलिंग माह मई 2021 की बकाया राशि का भुगतान आगामी माह में करने पर उक्त माह की बकाया अनुदान राशि का समायोजन उसी वित्तीय वर्ष के आगामी महीनों में किया जाएगा. वर्ष के बीच में नए कनेक्शन जारी होने की स्थिति में अनुदान की राशि अनुपातिक रूप से देय होगी.

योजना के प्रावधानों के अनुसार यदि कोई उपभोक्ता विद्युत दुरूपयोग या विद्युत चोरी का दोषी है तो अनुदान राशि देय नहीं होगी. विद्युत चोरी या निगम सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने का दोषी होने की स्थिति में अनुदान राशि दोष मुक्त होने एवं संपूर्ण आरोपित राशि जमा करवाने के बाद आगामी बिलिंग माह में देय होगी.

और पढ़ें