Live News »

सीएम गहलोत के निर्देश, कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए युद्ध स्तर पर करें काम, जयपुर के रामगंज में स्थिति नाजुक

सीएम गहलोत के निर्देश, कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए युद्ध स्तर पर करें काम, जयपुर के रामगंज में स्थिति नाजुक

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने स्वास्थ्य और प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जयपुर के रामगंज क्षेत्र में कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए युद्ध स्तर पर काम करें. इस क्षेत्र में संक्रमण की स्थिति नाजुक है और वायरस के कम्युनिटी स्प्रेडिंग को रोकने के लिए आपात योजना लागू करने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि जयपुर, जोधपुर चुरू, टोंक, झुन्झुनूं आदि जिलों में संक्रमित व्यक्तियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, जिसके लिए तुरन्त सैम्पल कलेक्शन और टेस्टिंग की गति बढ़ाने की जरूरत है.

मुख्यमंत्री निवास पर नियमित वीडियो काॅन्फ्रेंस: 
गहलोत ने सोमवार को मुख्यमंत्री निवास पर नियमित वीडियो काॅन्फ्रेंस ली. वीडियो कान्फ्रेंस के दौरान स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. रघु शर्मा, परिवहन मंत्री  प्रताप सिंह खाचरियावास, मुख्य सचेतक महेश जोशी, विधायक रफीक खान एवं अमीन कागजी, मुख्य सचिव डी.बी. गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह राजीव स्वरूप, अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य रोहित कुमार सिंह, प्रमुख शासन सचिव ऊर्जा  अजिताभ शर्मा, जयपुर पुलिस आयुक्त आनन्द श्रीवास्तव, शासन सचिव चिकित्सा शिक्षा वैभव गालरिया, राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ. राजाबाबू पंवार, एसएमएस मेडिकल काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुधीर भण्डारी, जिला कलक्टर जयपुर जोगाराम सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे.

Coronavirus Updates: ट्रंप का बयान- भारत दवा की सप्लाई नहीं करता तो फिर दिया जाता उसका करारा जवाब

जांच की सुविधाएं बढ़ाई जाएं:
वीसी में कहा कि जयपुर में भीलवाड़ा की तर्ज पर बड़ी संख्या में संदिग्ध लोगों को आइसोलेट करना होगा. इसके लिए तयशुदा प्राटोकोल के अनुसार शहर में स्थित विभिन्न शिक्षा संस्थानों आदि की चिन्हित होस्टल सुविधाओं का उपयोग करें. उन्होंने कहा कि रामगंज में घर-घर सर्वे और पीसीआर टेस्टिंग सहित जांच की सुविधाएं बढ़ाई जाएं, ताकि मौके पर ही रेन्डम टेस्ट के लिए सैम्पल लिये जा सकें. चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने वीसी की जानकारी दी. मुख्यमंत्री ने कहा कि जयपुर के जिन क्षेत्रों में कोरोना के पाॅजिटिव मामले सामने आए हैं, वहां लोगों की आवाजाही को तुरन्त और अधिक सख्ती से रोकने की आवश्यकता है. शहर के दूसरे हिस्सों में भी केवल अतिआवश्यक सेवाओं से जुड़े व्यक्ति ही अपने घरे से बाहर निकलें.

मास्क से ढक कर रखें:
उन्होंने शहर में स्वास्थ्य कर्मियों की अपने घर से कार्यस्थल तक आवाजाही को भी नियंत्रित कर न्यूनतम करने का सुझाव दिया और कहा कि हर व्यक्ति घर से बाहर निकलने पर एहतियात के तौर पर मुंह एवं नाक को हमेशा कपड़े अथवा मास्क से ढक कर रखें. गहलोत ने कहा कि राजस्थान में संक्रमण फैलने की तेज गति सभी के लिए एक चुनौती है. हमें सामूहिक रूप से ऐसे प्रयास करने हैं कि लोगों के जीवन पर आसन्न खतरे को जल्द से जल्द टाला जा सके. इसके लिए आमजन को स्वास्थ्य कर्मियों एवं प्रशासन का सहयोग करना होगा. मानवता की रक्षा के लिए धर्मगुरूओं, मौलवियों, जनप्रतिनिधियों और समुदाय के वरिष्ठ लोगों का कर्तव्य है कि वे लाउडस्पीकर, पर्चे, वीडियो संदेश आदि जारी कर आम लोगों को स्वास्थ्य कर्मियों का सहयोग करने और उन्हें स्वास्थ्य एवं यात्रा संबंधी सही जानकारी देने के लिए प्रेरित करें.

आइसोलेशन जैसे कड़े कदम उठाए गए:
वीडियो काॅन्फ्रेंस के दौरान जयपुर शहर के विधायकों ने कहा कि वे संक्रमण से बचाव के लिए आम लोगों को जागरूक करने और स्वास्थ्य कर्मियों को सर्वे अथवा जांच के दौरान पूरी जानकारी देने और संदिग्ध लोगों के आइसोलेशन में रहने के दौरान स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा बताए गए प्रोटोकोल का पूरी तरह से पालन करने की शिक्षा देने में पूरा सहयोग देंगे. उन्होंने कहा कि आम जनता को विभिन्न प्रचार माध्यमों के जरिए यह समझाने की आवश्यकता है कि राज्य सरकार और प्रशासन द्वारा लोगों का जीवन बचाने के लिए जा रहे प्रयासों में सहयोग करें. सभी को यह बात स्पष्ट हो जानी चाहिए कि कोरोना के मरीजों, संदिग्ध व्यक्तियों और उनके परिजनों की रक्षा के लिए ही हैल्थ सर्वे के साथ-साथ लाॅकडाउन, कर्फ्यू, क्वारंटाइन और आइसोलेशन जैसे कड़े कदम उठाए गए हैं.

कोरोना के कारण सादगी से मना भाजपा का स्थापना दिवस, राजस्थान में सशक्त रहा इतिहास

लाड-प्यार थोड़े समय के लिए छोड़ना होगा:
स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने बताया कि बड़े परिवारों में बुजुर्गों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए छोटे बच्चों का मोह और लाड-प्यार थोड़े समय के लिए छोड़ना होगा. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस सांस से जुड़ी तकलीफें पैदा करता है और वृद्धजनों की दूसरी बीमारियों के खतरों को कई गुना बढ़ा देता है. ऐसे में बुजुर्गों को परिवार के अंदर आइसोलेट करने के साथ-साथ छोटे बच्चों के साथ उनके भावनात्मक संबंधों को भी कुछ समय के लिए छोड़ना होगा. उन्होंने कहा कि इसके लिए परिवार के सदस्यों की समझ बढ़ानी होगी.

और पढ़ें

Most Related Stories

तकनीकी खराबी के चलते आप यह खबर नहीं देख पा रहे हैं

तकनीकी खराबी के चलते आप यह खबर नहीं देख पा रहे हैं

जयपुर: तकनीकी खराबी के चलते आप यह खबर नहीं देख पा रहे हैं

 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 8 मौत, 737 नए पॉजिटिव केस, जोधपुर में मिले सर्वाधिक 141 पॉजिटिव मरीज

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 8 मौत, 737 नए पॉजिटिव केस, जोधपुर में मिले सर्वाधिक 141 पॉजिटिव मरीज

जयपुर: राजस्थान में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे है. पिछले 24 घंटे में 8 मरीजों की मौत हो गई. जबकि 737 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. धौलपुर, जयपुर, करौली, सवाई माधोपुर, सीकर, सिरोही, उदयपुर और राज्य से बाहर के 1-1 मरीज की मौत हो गई. सर्वाधिक 141 कोरोना पॉजिटिव मरीज जोधपुर में मिले है. प्रदेश में मौत का आंकड़ा 538 पहुंच गया. जबकि कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 27 हजार 174 पहुंच गई है.

पायलट गुट की संशोधित याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट में अब कल होगी सुनवाई 

जोधपुर में मिले सर्वाधिक 141 कोरोना पॉजिटिव मरीज:
जोधपुर में सर्वाधिक 141 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले है.  अजमेर- 48,अलवर- 58,बांसवाड़ा- 3,बाड़मेर- 34 पॉजिटिव, भरतपुर- 16,भीलवाड़ा- 9,बीकानेर- 94,बूंदी- 5 पॉजिटिव, चूरू- 14,दौसा- 2,धौलपुर- 21,डूंगरपुर- 6,हनुमानगढ़- 1 पॉजिटिव, जयपुर- 71,जालोर- 40,झुंझुनूं- 12,करौली- 4,कोटा- 15 पॉजिटिव, नागौर- 25,पाली- 51,प्रतापगढ़- 3,सवाई माधोपुर- 2 पॉजिटिव, सीकर- 5,सिरोही- 38,उदयपुर- 18 पॉजिटिव, दूसरे राज्य का एक मरीज पॉजिटिव मिला. 

पॉजिटिव से नेगेटिव हुए कुल 19 हजार 970 मरीज:
प्रदेश में कुल 19 हजार 970 लोग पॉजिटिव से नेगेटिव हुए है. वहीं कुल 19 हजार 435 लोग इलाज के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज किए गए है. जबकि अस्पताल में उपचाररत कुल एक्टिव मरीज 6 हजार 666 है. कुल कोरोना पॉजिटिव प्रवासियों की संख्या 6 हजार 345 पहुंच गई है.

जयपुर में बढ़ता कोरोना का ग्राफ:
जयपुर में लगातार कोरोना का ग्राफ बढ़ता जा रहा है. पिछले 24 घंटे में एक मरीज की मौत हो गई है. जबकि 71 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. सांगानेर में 11, विद्याधर नगर में 10पॉजिटिव मरीज, जवाहर नगर,झोटवाड़ा,वैशाली नगर में 7-7पॉजिटिव मरीज, शास्त्री नगर 4, अजमेर रोड, जगतपुरा में 3-3पॉजिटिव, बापूनगर, मुरलीपुरा, कोटपूतली में 2-2 पॉजिटिव, शाहपुरा, पुरानी बस्ती, घाटगेट, बस्सी, मानसरोवर, मालवीय नगर, टोंक फाटक, महेश नगर, सी-स्कीम, किशनपोल में 1-1 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला है. जयपुर में अब तक 179 मरीजों की मौत हो गई. जबकि 4 हजार 168 पॉजिटिव केस मिले है.

जयपुर एयरपोर्ट से रोज औसतन 15 फ्लाइट का संचालन, यात्री बढ़ाने के लिए एयरलाइंस लेकर आई नए ऑफर्स

जयपुर एयरपोर्ट से रोज औसतन 15 फ्लाइट का संचालन, यात्री बढ़ाने के लिए एयरलाइंस लेकर आई नए ऑफर्स

जयपुर एयरपोर्ट से रोज औसतन 15 फ्लाइट का संचालन, यात्री बढ़ाने के लिए एयरलाइंस लेकर आई नए ऑफर्स

जयपुर: कोरोना काल में एयरलाइंस फ्लाइट बढ़ाने पर जाेर दे रही हैं, लेकिन कोरोना के डर से यात्री यात्रा करने से बच रहे हैं. अभी भी केवल जरूरी कार्यों से जाने वाले यात्री ही हवाई यात्रा कर रहे हैं. इससे यह संकेत भी मिल रहे हैं कि केवल मजबूरीवश ही लोग हवाई यात्रा कर रहे हैं. लॉकडाउन के बाद फ्लाइट्स का संचालन शुरू हुए 50 दिन पूरे हो चुके हैं. जयपुर एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स की संख्या में भी ज्यादा बढ़ोतरी नहीं हो रही है.दरअसल 25 मई को जब फ्लाइट शुरू हुई थीं, तब 20 फ्लाइट का शेड्यूल तय किया गया था, लेकिन अभी भी रोजाना औसतन 15 फ्लाइट ही संचालित हो रही हैं. इस बीच फ्लाइट्स में यात्रियों की संख्या भी काफी कम दिख रही है. फ्लाइट्स में औसतन 50 से 60 फीसदी यात्री ही यात्रा कर रहे हैं.

कोटा में रिश्वत लेते ट्रैप हुआ एएसआई, आरोपी नहीं बनाने की एवज में मांगी थी रिश्वत

एयरलाइंस दे रही हैं कई तरह के ऑफर:
यात्रीभार बढ़ाने के लिए एयरलाइंस कई तरह के ऑफर दे रही हैं. इंडिगो, स्पाइसजेट, एयर एशिया आदि एयरलाइंस यात्री किराए में रियायत के कई विकल्प दे रही हैं. वहीं एयरलाइंस कोरोना के डर से यात्रा नहीं करने वाले यात्रियों के लिए भी विकल्प लेकर आई हैं. ऐसे यात्रियों को कोविड-19 का बीमा दिया जा रहा है, जिसमें टैस्ट कराने से लेकर सम्पूर्ण इलाज उपलब्ध कराने के विकल्प दिए जा रहे हैं.

पायलट गुट की संशोधित याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट में अब कल होगी सुनवाई 

कैसे-कैसे हैं ऑफर्स
- डॉक्टर्स और नर्सेज के लिए किराए में 25 फीसदी डिस्काउंट का ऑफर
- टिकट बुकिंग के समय मात्र 10 प्रतिशत किराया भुगतान का ऑफर
- बचा हुआ 90 प्रतिशत किराया 15 दिन की अवधि में चुकाने का विकल्प
- 159 रुपए से लेकर 443 रुपए प्रति यात्री तक यात्री बीमा का ऑफर
- कोविड-19 से संक्रमित होने की स्थिति में अस्पताल में सभी तरह का कवर मिलेगा
- अलग-अलग बैंकों के कार्ड के जरिए किराए में 5 फीसदी डिस्काउंट
- इसके अलावा एयरलाइंस अब चार्टर सेवा भी उपलब्ध करवा रहीं
- यानी ग्रुप में यात्रा नहीं करना चाहते तो अलग विमान किराए पर ले सकते हैं

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

पायलट गुट की संशोधित याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट में अब कल होगी सुनवाई 

पायलट गुट की संशोधित याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट में अब कल होगी सुनवाई 

जयपुर: राजस्थान के सियासी संकट को लेकर हाईकोर्ट से बड़ी खबर मिल रही है. सचिन पायलट कैंप की ओर से दायर संशोधित याचिका पर संभवत: आज सुनवाई नहीं होगी. इस मामले पर अब डिविजन बेंच में कल सुनवाई होगी. सीजे इंद्रजीत महांति-जस्टिस प्रकाश गुप्ता की खंडपीठ में सुनवाई होगी. इससे पहले सचिन पायलट गुट की ओर से दायर याचिका डबल बेंच 1 में रेफर कर दी गई है. आपको बता दें कि सचिन पायलट की याचिका पर दोबारा सुनवाई शुरू हुई थी. जस्टिस सतीश कुमार शर्मा की सिंगल बैंच में सुनवाई हुई. पायलट कैंप की ओर से संशोधित याचिका पेश की गई. पायलट कैंप की वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे पैरवी कर रहे है. एडवोकेट साल्वे ने कहा कि संशोधन स्वीकार किया जा सकता है.

हरीश साल्वे-अभिषेक मनु सिंघवी के बीच हुई बहस:
संशोधन याचिका पर हरीश साल्वे-अभिषेक मनु सिंघवी के बीच बहस हुई. अभिषेक मनु सिंघवी ने याचिका का विरोध करते हुए कहा कि बिना आधार के याचिका को कैसे स्वीकार किया जा सकता है. महाधिवक्ता एमएस सिंघवी ने याचिका का विरोध किया. अपराह्न 4.15 बजे अर्जी दायर की कैसे सुनवाई की जा सकती है? याचिका को स्वीकर करते हुए मामला डिविजन बैंच-1 में रैफर कर दिया गया. डिविजन बैंच आज शाम 7:30 बजे याचिका पर सुनवाई कर सकती है. 

शातिर वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश, गिरोह के 5 सदस्य गिरफ्तार, 15 लग्जरी वाहन बरामद

टल गई थी सुनवाई:
इससे पहले विधानसभा अध्यक्ष के नोटिस के खिलाफ दायर याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई फिलहाल टल गई थी. अभिषेक मनु सिंघवी ने गहलोत सरकार की ओर से पैरवी की. एडवोकेट हरीश साल्वे के तर्क को अभिषेक मनु सिंघवी ने नकारा. कहा कि अमेंडमेंट की अर्जी अभी तक पेश नहीं हुई. हाईकोर्ट में मामले की सुनवाई समाप्त हुई. एडवोकेट हरीश साल्वे को अमेंडमेंट अर्जी पेश करने का समय दिया गया. आपको बता दें कि राजस्थान का सियासी संकट राजस्थान हाईकोर्ट पहुंच गया है. पायलट कैंप की ओर से हाईकोर्ट में याचिका पर दायर की गई है. 

विधायकों को जारी नोटिस की संवैधानिक वैधता नहीं :
जिस पर जस्टिस सतीश कुमार शर्मा की अदालत में सुनवाई हुई. मुख्य सचेतक डॉ.महेश जोशी की ओर से अजीत भंडारी ने पक्ष रखा. पायलट की ओर से एडवोकेट हरीश साल्वे ने बहस करते हुए कहा कि सदन से बाहर हुई कार्यवाही के लिए स्पीकर नोटिस जारी नहीं कर सकते है. विधायकों को जारी नोटिस की संवैधानिक वैधता नहीं है. 

अमेंडमेंट अर्जी पेश करने का दिया समय:
नोटिस को किया जाए रद्द और अवैधानिक घोषित किया जाये. इस मामले पर सुनवाई पूरी हुई. हरीश साल्वे को अमेंडमेंट अर्जी पेश करने का समय दिया है. पायलट और अन्य की ओर याचिका में संशोधन की बात की गई. आज शाम या कल फिर सुनवाई हो सकती है. मुख्य न्यायाधीश इंद्रजीत महांति समय और तारीख तय करेंगे. खंडपीठ में याचिका को पेश करना चाहते है. 

कोटा में रिश्वत लेते ट्रैप हुआ एएसआई, आरोपी नहीं बनाने की एवज में मांगी थी रिश्वत

शातिर वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश, गिरोह के 5 सदस्य गिरफ्तार, 15 लग्जरी वाहन बरामद

 शातिर वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश, गिरोह के 5 सदस्य गिरफ्तार, 15 लग्जरी वाहन बरामद

जयपुर: राजधानी जयपुर में वाहन चोरी की बढ़ती वारदातों को लेकर जयपुर पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. शहर की मुरलीपुरा थाना पुलिस और सीएसटी टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए 5 अंतरराज्जीय वाहन चोरों को गिरफ्तार किया है. पुलिस गिरफ्त में आए वाहन चोर श्याम सिंह ,भानूप्रताप सिंह ,भानू सिंह ,हेमंत सिंह और हकीमुद्दी है. पुलिस ने इस अंतरराज्जीय वाहन चोर गिरोह से चोरी किए गए करीब डेढ़ दर्जन दुपहिया और चौपहिया वाहन भी बरामद किए है.

सावन में हुए मेघ मेहरबान, जयपुर के कई इलाकों में झमाझम बारिश, तापमान में गिरावट

वाहन चोरों पर कसी जा रही है नकेल: 
दरअसल शहर हर माह राजधानी से करोड़ों रूपयों के वाहन चोरी हो रहे है और पुलिस गश्त व्यवस्था पुख्ता होने के लाख दावें करती नजर आ रही है. पुलिस गश्त को धत्ता बताते हुए ये शातिर बदमाश शहर में हर रोज वाहन चोरी की वारदातों को अंजाम दे रहे है. वाहन चोरों पर नकेल कसने के लिए गठित विशेष टीम ने सुराग जुटाते हुए इस गिरोह का पर्दाफाश किया है. 

इन राज्यों से चोरी करते थे वाहन:
पुलिस की माने तो मौज-मस्ती के लिए ये बदमाश राजस्थान के अलावा दिल्ली ,हरियाणा ,उत्तरप्रदेश सहित अन्य राज्यों से वाहन चोरी कर रहे थे. ये गिरोह अन्य राज्यों से लग्जरी वाहन चुराकर राजस्थान लाते थे. जिसके बाद एक्सीडेंट में लोस वाहनों के इंजन और चेसिस नंबर से चुराए गए वाहनों पर लगा देते थे. फिर लोगों को महंगे दामों पर फाइनेंस के वाहन बताकर बेच देते थे.

राजस्थान के सियासी संकट को लेकर हाईकोर्ट से बड़ी खबर, पायलट गुट की याचिका डिविजन बेंच-1 में रैफर

राजस्थान के सियासी संकट को लेकर हाईकोर्ट से बड़ी खबर, पायलट गुट की याचिका डिविजन बेंच-1 में रैफर

जयपुर: राजस्थान सियासी संकट को लेकर हाईकोर्ट से बड़ी खबर मिली है, अब सचिन पायलट गुट की ओर से दायर याचिका डबल बेंच 1 में रेफर कर दी गई है. आपको बता दें कि सचिन पायलट की याचिका पर दोबारा सुनवाई शुरू हुई. जस्टिस सतीश कुमार शर्मा की सिंगल बैंच में सुनवाई हुई. पायलट कैंप की ओर से संशोधित याचिका पेश की गई. पायलट कैंप की वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे पैरवी कर रहे है. एडवोकेट साल्वे ने कहा कि संशोधन स्वीकार किया जा सकता है.

शाम 7:30 बजे हो सकती है सुनवाई:
संशोधन याचिका पर हरीश साल्वे-अभिषेक मनु सिंघवी के बीच बहस शुरू हुई. अभिषेक मनु सिंघवी ने याचिका का विरोध करते हुए कहा कि बिना आधार के याचिका को कैसे स्वीकार किया जा सकता है. महाधिवक्ता एमएस सिंघवी ने याचिका का विरोध किया. अपराह्न 4.15 बजे अर्जी दायर की कैसे सुनवाई की जा सकती है? याचिका को स्वीकर करते हुए मामला डिविजन बैंच-1 में रैफर कर दिया गया. डिविजन बैंच आज शाम 7:30 बजे याचिका पर सुनवाई कर सकती है. 

कांकाणी हिरण शिकार मामला: फिल्म अभिनेता सलमान की अपील पर टली सुनवाई

टल गई थी सुनवाई:
इससे पहले विधानसभा अध्यक्ष के नोटिस के खिलाफ दायर याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई फिलहाल टल गई थी. अभिषेक मनु सिंघवी ने गहलोत सरकार की ओर से पैरवी की. एडवोकेट हरीश साल्वे के तर्क को अभिषेक मनु सिंघवी ने नकारा. कहा कि अमेंडमेंट की अर्जी अभी तक पेश नहीं हुई. हाईकोर्ट में मामले की सुनवाई समाप्त हुई. एडवोकेट हरीश साल्वे को अमेंडमेंट अर्जी पेश करने का समय दिया गया. आपको बता दें कि राजस्थान का सियासी संकट राजस्थान हाईकोर्ट पहुंच गया है. पायलट कैंप की ओर से हाईकोर्ट में याचिका पर दायर की गई है. 

विधायकों को जारी नोटिस की संवैधानिक वैधता नहीं :
जिस पर जस्टिस सतीश कुमार शर्मा की अदालत में सुनवाई हुई. मुख्य सचेतक डॉ.महेश जोशी की ओर से अजीत भंडारी ने पक्ष रखा. पायलट की ओर से एडवोकेट हरीश साल्वे ने बहस करते हुए कहा कि सदन से बाहर हुई कार्यवाही के लिए स्पीकर नोटिस जारी नहीं कर सकते है. विधायकों को जारी नोटिस की संवैधानिक वैधता नहीं है. 

अमेंडमेंट अर्जी पेश करने का दिया समय:
नोटिस को किया जाए रद्द और अवैधानिक घोषित किया जाये. इस मामले पर सुनवाई पूरी हुई. हरीश साल्वे को अमेंडमेंट अर्जी पेश करने का समय दिया है. पायलट और अन्य की ओर याचिका में संशोधन की बात की गई. आज शाम या कल फिर सुनवाई हो सकती है. मुख्य न्यायाधीश इंद्रजीत महांति समय और तारीख तय करेंगे. खंडपीठ में याचिका को पेश करना चाहते है. 

सावन में हुए मेघ मेहरबान, जयपुर के कई इलाकों में झमाझम बारिश, तापमान में गिरावट

सावन में हुए मेघ मेहरबान, जयपुर के कई इलाकों में झमाझम बारिश, तापमान में गिरावट

सावन में हुए मेघ मेहरबान, जयपुर के कई इलाकों में झमाझम बारिश, तापमान में गिरावट

जयपुर: राजस्थान की राजधानी जयपुर में एक बार फिर मौसम का मिजाज बदल गया है. शाम 4 बजे झमाझम बारिश शुरू हुई, जिसके बाद तापमान में गिरावट दर्ज की गई. आपको बता देें कि मानसून प्रदेश में दस्तक दे गया है और सावन माह चल रहा है. ऐसे में यह वक्त बारिश का है. 

उमस और गर्मी से मिली निजात:
लेकिन इन्द्रदेव की बेरुखी की वजह से लोगों को तेज गर्मी से परेशान होना पड रहा है. ऐसे में गुरुवार को हुई बारिश से लोगों को उमस और गर्मी से निजात मिली. आकाश में काली घटाएं जयपुर पर बरस रही है.जिससे मौसम सुहावना हो गया है. जयपुर के कई इलाकों में बारिश का दौर जारी है. 

कांकाणी हिरण शिकार मामला: फिल्म अभिनेता सलमान की अपील पर टली सुनवाई

कई इलाकों में हुई बारिश:
राजधानी के बाइस गोदाम, सोढाला, टोंक रोड समेत कई इलाकों में बारिश हो रही है. आपको बता दें कि जयपुर में तेज हवाओं के साथ झमाझम बारिश हो रही है. राजधानी के कई इलाकों में बारिश हो रही है. 22 गोदाम, रामबाग, JLN मार्ग,टोंक रोड, सिविल लाइंस,सी-स्कीम,सोडाला सहित कई इलाकों में बारिश बारिश हो रही है. जिससे लोगों को उमसभरी गर्मी से राहत मिली है.

राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई टली, याचिका में संशोधन के लिए पायलट गुट ने मांगा समय

राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई टली, याचिका में संशोधन के लिए पायलट गुट ने मांगा समय

राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई टली, याचिका में संशोधन के लिए पायलट गुट ने मांगा समय

जयपुर: विधानसभा अध्यक्ष के नोटिस के खिलाफ दायर याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई फिलहाल टल गई है.अभिषेक मनु सिंघवी ने गहलोत सरकार की ओर से पैरवी की. एडवोकेट हरीश साल्वे के तर्क को अभिषेक मनु सिंघवी ने नकारा. कहा कि अमेंडमेंट की अर्जी अभी तक पेश नहीं हुई. हाईकोर्ट में मामले की सुनवाई समाप्त हुई. एडवोकेट हरीश साल्वे को अमेंडमेंट अर्जी पेश करने का समय दिया गया. आपको बता दें कि राजस्थान का सियासी संकट राजस्थान हाईकोर्ट पहुंच गया है. पायलट कैंप की ओर से हाईकोर्ट में याचिका पर दायर की गई है. 

2 BTP और 1 CPI विधायक के मानेसर पहुंचने की खबर, जानिए क्या बोले पूरे घटनाक्रम पर विधायक

विधायकों को जारी नोटिस की संवैधानिक वैधता नहीं :
जिस पर जस्टिस सतीश कुमार शर्मा की अदालत में सुनवाई हुई. मुख्य सचेतक डॉ.महेश जोशी की ओर से अजीत भंडारी ने पक्ष रखा. पायलट की ओर से एडवोकेट हरीश साल्वे ने बहस करते हुए कहा कि सदन से बाहर हुई कार्यवाही के लिए स्पीकर नोटिस जारी नहीं कर सकते है. विधायकों को जारी नोटिस की संवैधानिक वैधता नहीं है. 

अमेंडमेंट अर्जी पेश करने का दिया समय:
नोटिस को किया जाए रद्द और अवैधानिक घोषित किया जाये. इस मामले पर सुनवाई पूरी हुई. हरीश साल्वे को अमेंडमेंट अर्जी पेश करने का समय दिया है. पायलट और अन्य की ओर याचिका में संशोधन की बात की गई. आज शाम या कल फिर सुनवाई हो सकती है. मुख्य न्यायाधीश इंद्रजीत महांति समय और तारीख तय करेंगे. खंडपीठ में याचिका को पेश करना चाहते है. 

कांकाणी हिरण शिकार मामला: फिल्म अभिनेता सलमान की अपील पर टली सुनवाई

Open Covid-19