CM गहलोत ने की बजट रिप्लाई में अहम घोषणाएं, नोहर में पहली बार पानी चोरी रोकने के लिए खुलेगा पुलिस थाना

CM गहलोत ने की बजट रिप्लाई में अहम घोषणाएं, नोहर में पहली बार पानी चोरी रोकने के लिए खुलेगा पुलिस थाना

 CM गहलोत ने की बजट रिप्लाई में अहम घोषणाएं,  नोहर में पहली बार पानी चोरी रोकने के लिए खुलेगा पुलिस थाना

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट रिप्लाई में कुछ अहम घोषणाएं की. नोहर में पहली बार पानी चोरी रोकने के लिए पुलिस थाना खोलने की घोषणा की हैं. सीएम गहलोत ने कहा कि वैर भरतपुर, खुड़ी, लक्ष्मणगढ़ में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोले जाएंगे. उप स्वास्थ्य केंद्रों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में क्रमोन्नत करने की घोषणा की हैं. कई PHC को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में क्रमोन्नत करने घोषणा की. सीएम गहलोत ने कई CHC को उप जिला स्वास्थ्य केंद्र बनाने की घोषणा की हैं. 200 राजकीय विद्यालयों में विज्ञान संकाय खोलने की घोषणा की हैं. डीग-कुम्हेर में खेल स्टेडियम बनाया जाएगा. नए कृषि महाविद्यालय खोलने की घोषणा की हैं.

वाल्मीकि कोष के लिए 20 करोड़ की घोषणा:
मुख्यमंत्री गहलोत ने वाल्मीकि कोष के लिए 20 करोड़ की घोषणा की हैं. समाज के बच्चों की शिक्षा के लिए खर्च बजट होगा. नए औद्योगिक क्षेत्र बनाने की घोषणा की हैं. नया औद्योगिक क्षेत्र तुंगा बस्सी में भी बनेगा. नगरपालिका क्षेत्रों में ओपन जिम स्थापित करने की घोषणा की हैं. जयपुर के चारदीवारी क्षेत्र में सीवरेज कार्य के लिए 50 करोड़ की घोषणा की हैं. 

चुनिंदा सड़कों के सुदृढ़ीकरण की घोषणा की:
सीएम गहलोत ने चुनिंदा सड़कों के सुदृढ़ीकरण की घोषणा की हैं. राज्य प्रदूषण मंडल के 10 नए क्षेत्रीय कार्यालय खोलने की घोषणा की हैं.रामदेवरा के विकास के लिए 2 करोड़ की घोषणा की हैं. सीएम गहलोत ने कुछ उप तहसील को तहसील कार्यालय में बदलने की घोषणा की हैं. विधायकों की मांग पर नई पुलिस चौकी खोलने की घोषणा की हैं. पत्रकारों की पेंशन राशि 10,000 से बढ़ाकर 15,000 करने की घोषणा की हैं. विधायकों ने नई घोषणाओं पर मुख्यमंत्री गहलोत का आभार जताया हैं.

बजट घोषणाओं को लागू करने की जिम्मेदारी हमारी है:
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को बजट बहस पर REPLY दिया. सीएम गहलोत ने कहा कि बजट घोषणाओं को लागू करने की जिम्मेदारी हमारी है, यह चिंता हमें करनी चाहिए. पता नहीं विपक्ष इतना चिंतित क्यों है. सीएम गहलोत ने कहा कि कोरोना प्रबंधन को लेकर नेता प्रतिपक्ष एक शब्द भी नहीं बोले, जब पूरा देश कोरोना से चिंतित था तब हमने सबसे शानदार प्रबंधन किया. बजट पेश करने के साथ ही हमने आदेश जारी कर दिए हैं. सभी विभागों के अधिकारियों को उनको लागू करने के आदेश जारी कर दिए हैं. कर्मचारियों का डैफर पैसा भी हमने जारी कर दिया है. 

GST का पैसा मांगना हमारा अधिकार है:
बजट बहस पर REPLY करते हुए सीएम गहलोत ने कहा कि GST का पैसा मांगना हमारा अधिकार है और हम उसकी मांग करते हैं तो आपको क्या तकलीफ है? सीएम गहलोत ने विपक्ष पर तीखे प्रहार करते हुए कहा कि विपक्ष ने हमारी एक भी स्कीम की तारीफ नहीं की. CM गहलोत ने सभी आरोपों का एक-एक करके जवाब दिया. नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के आरोपों का एक-एक करके जवाब दिया. गहलोत ने पिछले और इस बार के बजट के आंकड़े बताकर जवाब दिया. सीएम गहलोत ने कहा ​कि केंद्र ने हमारे 14,000 करोड़ रुपए की कटौती कर दी है. सीएम गहलोत ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों को लेकर कहा कि सभी की भावनाओं को देखते हुए हमने 2% वैट कम किया, लेकिन केंद्र सरकार लगातार टैक्स बढ़ा रही है. जिसके कारण लोगों को फायदा नहीं मिल रहा.

और पढ़ें