close ads


BJP नेताओं पर सीएम गहलोत का पलटवार, कहा-महामारी के दौर में नकारात्मक राजनीति से बाज आये भाजपा

 BJP नेताओं पर सीएम गहलोत का पलटवार, कहा-महामारी के दौर में नकारात्मक राजनीति से बाज आये भाजपा

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भारतीय जनता पार्टी के प्रादेशिक नेताओं पर नकारात्मक राजनीति करने का आरोप लगाते हुए शुक्रवार को उन्हें इससे बाज आने को कहा. सीएम गहलोत के मुताबिक राज्य की कांग्रेस सरकार की स्थिरता व भविष्य को लेकर भाजपा नेताओं के बयान उनकी लोकतंत्र विरोधी सोच को दिखाते हैं.

BJP नेताओं ने बनाया प्रदेश में नकारात्मक राजनीति का माहौल:
मुख्यमंत्री ने एक बयान में कहा कि पिछले दिनों में भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं ने प्रदेश में नकारात्मक राजनीति का माहौल बनाया हुआ है. वैश्विक महामारी के दौर में जहां राजस्थान सरकार पक्ष, विपक्ष और समाज के सभी तबकों को साथ लेकर काम कर रही है वहीं भाजपा नेताओं के बयान राज्य में राजनीति का स्तर गिराने वाले हैं. उनके मुताबिक भाजपा नेताओं ने पिछले दिनो में राजस्थान सरकार के कोरोना प्रबंधन और सरकार के भविष्य को लेकर अनर्गल बयानबाजी की है और उनकी इस नकारात्मक राजनीति से जनता में विपक्ष के प्रति रोष का माहौल पैदा हुआ है.

BJP की लोकतंत्र विरोधी सोच उजागर:
गहलोत के मुताबिक बीते दिनों राजस्थान भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं ने बयान दिये हैं कि आने वाले समय में राजस्थान में सरकार गिर जायेगी. नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि राजस्थान में छह महीने में सरकार गिर जायेगी. केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि राजस्थान में सरकार डगमगाने लगी है. वहीं एक सांसद ने कहा कि पैसे के खातिर विधायक सरकार को छोड़कर कभी भी जा सकते हैं. गहलोत के अनुसार ये सभी बयान भाजपा की लोकतंत्र विरोधी सोच को उजागर करते हैं.

राजस्थान की सरकार को अस्थिर करने का प्रयास:
गहलोत ने कहा है, भाजपा नेताओं के इन बयानों से यह स्पष्ट होता है कि भाजपा धनबल और बाहुबल के आधार पर राजस्थान की सरकार को अस्थिर करने के प्रयास कर रही है. भाजपा ने पहले भी ऐसे प्रयास किये लेकिन कांग्रेस विधायकों की एकजुटता और प्रतिबद्धता के चलते इन्हें मुंह की खानी पड़ी.(भाषा)

और पढ़ें