सीएम गहलोत बोले, लोकतंत्र में बराबर की लड़ाई नहीं होगी तो लोकतंत्र मजबूत कैसे होगा

सीएम गहलोत बोले, लोकतंत्र में बराबर की लड़ाई नहीं होगी तो लोकतंत्र मजबूत कैसे होगा

जयपुर : राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चुनावी बांड पर केन्द्र सरकार को घेरते हुए मंगलवार को कहा कि लोकतंत्र में अगर बराबर की लड़ाई नहीं होगी तो सब तरफ से लोकतंत्र मजबूत कैसे होगा. चूरू के सूजानगढ में कांग्रेस प्रत्याशी मनोज मेघवाल के नामांकन के अवसर पर आयोजित एक जनसभा को संबोंधित करते हुए गहलोत ने कहा कि भाजपा दुनिया की सबसे अमीर पार्टी है. उन्हेांने कहा कि उन्हें उम्मीद थी की उच्चतम न्यायालय चुनावी बॉंड प्रतिबंध कर देगा लेकिन नहीं किया.

लोकतंत्र की मजबूती के लिये आवश्यक है कि विपक्षी पार्टी मजबूत रहे:

गहलोत ने कहा कि कोई इंडस्ट्री अगर 100 करोड़ कर बांड लेती है तो 95 करोड़ रुपये भाजपा को देती है और बाकी पांच करोड़ रूपये कांग्रेस, सीपीआई, सीपीएम, बसपा में बांटती है. उन्होंने कहा कि आप कल्पना कीजिये लोकतंत्र में अगर बराबर की लडाई नहीं होगी तो लोकतंत्र मजबूत कैसे होगा. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र की मजबूती के लिये आवश्यक है कि विपक्षी पार्टी मजबूत रहे. हम भी राजस्थान में साथ देते है विपक्ष का…अगर वो तथ्यों के आधार पर सरकार की आलोचना करते है तो हमें खुशी होती है क्योंकि हमें उसे इम्प्रूव करने का मौका मिलता है.

किसानों के मुद्दे पर केन्द्र सरकार पर हमला:

उन्होंने किसानों के मुद्दे पर केन्द्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि किसानों के आर्शीवाद से आप जीत कर आये हो. संसद में भारी बहुमत मिला लेकिन सरकार आंदोलनरत किसानों की कोई सुनवाई नहीं कर रही है.जिद पर अड़ी हुई है. उन्होंने केन्द्र सरकार से किसानों और विपक्षी पार्टियों से बात करने का अनुरोध करते हुए कहा कि संसद में इस पर बहस करा कर नया बिल लेकर आए. उन्होंने कहा कि मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि इस माहौल में केन्द्र सरकार इन बिलों (कानूनों) को लागू कर ही नहीं पाएगी.कितनी भी कोशिश करले लागू नहीं कर पायेंगे.(भाषा)

और पढ़ें