Live News »

राज्य की स्वास्थ्य सेवाएं देश में नंबर वन पर आए यह मेरा सपना- सीएम गहलोत

राज्य की स्वास्थ्य सेवाएं देश में नंबर वन पर आए यह मेरा सपना- सीएम गहलोत

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज पूर्व प्रधानमंत्री और ‘जय किसान, जय जवान’ का नारा देने वाले लाल बहादुर शास्त्री की पुण्यतिथि पर पीसीसी में पहुंचकर पुष्पांजलि अर्पित की. इसके बाद सीएम गहलोत ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि जब शास्त्री प्रधानमंत्री थे तब देश में खाद्यान्न की कमी थी. तब उन्होंने देशवासियों से सोमवार का उपवास रखने का आह्वान किया था. 

निरोगी राजस्थान उनकी सरकार का फ्लैगशिप कार्यक्रम: 
मीडिया से वार्ता करते हुए सीएम गहलोत ने कहा कि निरोगी राजस्थान उनकी सरकार का फ्लैगशिप कार्यक्रम है. इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए. मुफ्त दवा व मुफ्त जांच की सुविधा इसमें मिल रही है. मुफ्त सीटी स्कैन व मुफ्त एमआर सहित कई जांच फ्री हैं. उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि स्कूलों में बच्चों की मेडिकल जांच समय पर हो ताकि कोई बीमारी हो या खतरा हो तो उसका समय पर पता लग सके. साथ ही कहा कि आंगनबाड़ी के माध्यम से महिलाओं को यह सुविधा मिल रही है.

छपाक को टैक्स फ्री करना सही निर्णय:
गहलोत ने राज्य में फिल्म छपाक को टैक्स फ्री किए जाने पर कहा कि इससे लोग एकजुट होंगे. ऐसी फिल्मों का टैक्स फ्री होना सही निर्णय है. उन्होंने कहा कि राज्य की स्वास्थ्य सेवाएं देश में नंबर वन पर आए यह मेरा सपना है. राज्य में शराब की दुकानों के रात आठ बजे बंद करने का भी मकसद है. 

कोटा में बच्चों की मौत को राजनीतिक द्वेष की भावना से फैलाया गया:
मुख्यमंत्री गहलोत ने कोटा के अस्पताल में हुई बच्चों की मौतों पर कहा कि इस मामले को राजनीतिक द्वेष की भावना से फैलाया गया. यह षड्यंत्र था. कुछ नेताओं ने यह सब अपनी राजनीति चमकाने के लिए किया. उल्टे राज्य में शिशु मृत्यु दर में कमी आई है. इस दौरान उन्होंने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि शुक्रवार को पीएम मोदी ने बजट को लेकर मीटिंग ली और उसमें वित्त मंत्री ही नहीं आई. 

जेएनयू कैंपस में हुई हिंसा की न्यायिक जांच होनी चाहिए:
गहलोत ने हाल ही दिल्ली के जेएनयू कैंपस में हुई हिंसा पर बोलते हुए कहा कि इसकी न्यायिक जांच होनी चाहिए. यह सब पुलिस की मौजूदगी में हुआ. ऐसे में जांच में सामने आना चाहिए कि यह सब किसी शह पर किया गया. उन्होंने हा कि कांग्रेस मुक्त भारत की बात करने वालों को हाल ही राज्यों में हुए चुनावों से समझ आ गया है कि देश कांग्रेस मुक्त नहीं होने वाला बल्कि वे खुद मुक्त हो जाएंगे. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in