Live News »

समाजसेवी लक्ष्मण राम बेड़ा की प्रतिमा का अनावरण कर सीएम गहलोत ने साधा केंद्र सरकार पर निशाना

समाजसेवी लक्ष्मण राम बेड़ा की प्रतिमा का अनावरण कर सीएम गहलोत ने साधा केंद्र सरकार पर निशाना

जोधपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने जोधपुर प्रवास के दूसरे दिन भोपालगढ़ क्षेत्र के गजसिंहपुरा इलाके में बेड़ों की ढाणी में समाजसेवी चौधरी लक्ष्मण राम बेड़ा की प्रतिमा का अनावरण किया. इस दौरान राजस्थान सरकार के राजस्व मंत्री हरीश चौधरी व उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी के अलावा राज्य बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल भी मौजूद रही. 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लक्ष्मण राम बेड़ा की प्रतिमा का अनावरण किया: 
जोधपुर जिले के भोपालगढ़ विधानसभा क्षेत्र के बेड़ो की ढाणी में पूर्व विधायक नारायण राम बेड़ा के पिता समाजसेवी चौधरी लक्ष्मण राम बेड़ा की प्रथम पुण्यतिथि के अवसर पर प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विधिवत रूप से लक्ष्मण राम बेड़ा की प्रतिमा का अनावरण किया. इधर अवसर पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बेड़ा की प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन भी अर्पित किए. अनावरण के बाद जहां मुख्यमंत्री ने मेडिकल कैंप का अवलोकन भी किया. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का युवा नेता कैलाश बेडा द्वारा राजस्थानी साफे से स्वागत भी किया गया. गहलोत ने संतो से आर्शीवाद भी लिया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने संबोधित करते हुए कहा कि आपके बीच आने पर प्रसन्नता हो रही है. 20 साल पहले पानी बचाओं बिजली बचों का संदेश दिया था, उसके बाद पानी बचाओं बिजली बचाओं बेटी बचाओं और सबको पढाओं का नारा मैने दिया.

लक्ष्मण राम बेडा की मूर्ति लगने से लोगों को प्रेरणा मिलेगी: 
गहलोत ने कहा कि लक्ष्मण राम बेडा की मूर्ति लगने से लोगों को प्रेरणा मिलेगी. आपके आर्शीवाद से मैं आगे बढा़. परसराम मदेरणा का जिक्र करते हुए कहा कि वे भी राजस्व मंत्री रहे थे,आज हमारे हरीश चौधरी मेरे साथी है जो सरकार में राजस्व मंत्री है. गहलोत ने का कि मैंने अब तक हर मांग को पूरा किया. अब घर-घर पानी पहुंचाने का काम करेंगे. गहलोत ने कहा कि एमपी चुनाव का वक्त था जब मुझे परसराम मदेरणा मुझे लेकर घूमे थे. 3 बार केन्द्रीय मंत्री, 3 बार पीसीसी अध्यक्ष ,2 बार एआईसीसी में महासचिव और तीसरी बार प्रथम सेवक के रूप में सेवाएं दे रहा हूं. एम्स,आईआईटी,एनएलयू,निफ्ट,बोर्डगेज,इंदिरा गांधी नहर व रेलवे के अलावा पानी-बिजली और स्वास्थ्य,चिकित्सा के क्षेत्र में विकास के काम किए. हम एडीबी या अन्य संस्था से लॉन की तैयारी कर रहे है. पवन ऊर्जा के बाद सूरज की किरणों से बिजली का उत्पादन करने में भूमिका निभाई. गहलोत ने किसानों से खेतो में सौर ऊर्जा पैनल लगाने का आह्वान भी किया. 

नोटबंदी व जीएसटी में केन्द्र सरकार फैल:
इस दौरान सीएम गहलोत ने केंद्र सरकार पर कई तरह के आरोप लगाते हुए कहा कि नोटबंदी व जीएसटी में केन्द्र सरकार फैल हो गई. केन्द्र सरकार की आय कम हुई है. 7 हजार करोड राज्य को आएंगे. किसानों के कर्जे हम माफ कर चुके है. हमारी सरकार पूरी तरह से किसानों को समर्पित फसलों का सही दाम दिलाने का काम कर रहे है. बीमा मामले में शिकायतों का समाधान किया जा राह है. 60 साल में देश में जो विकास हुआ हर विकास में कांग्रेस की देन है. केन्द्र सरकार ने 2 करोड़ लोगों को रोजगार दने का वादा किया था जिसमें वह पूरी तरह से विफल रही है. देश की वित्त मंत्री के पति कह रहे है कि भाजपा को पता नही है कि अर्थव्यवस्था क्या होती है. गहलोत ने कहा कि पीएससी की सुविधा मिलेगी. घूंघट में कब तक महिलाएं कैद रहेंगी. इंदिरा गांधी जब पीएम बन सकती है जिनको वाजपेयी ने दुर्गा का रूप का था. इंदिरा गांधी के योगदान का उल्लेख करने के साथ ही राजीव गांधी के पंचायत राज का भी जिक्र किया. गहलोत ने कहा कि सरपंच पति,प्रधान पति का सिलसिला खत्म हो. पढ़ाई का गांव में अभियान चले. उन्होंने एसपी प्रीति चंद्रा का उदाहरण देते हुए कहा कि घूंघट में रहकर थोड़े ही ड्यूटी करेंगी. अगर गांव में लगी कोई डीएसपी महिला तो वह थोडी घूंघट में रहेगी.

नारायाण राम बेडा ने खूब संघर्ष किया: 
राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने संबोधित करते हुए कहा कि नारायाण राम बेडा ने खूब संघर्ष किया है. अब तक खूब खोया,पाया कुछ भी नहीं,कांग्रेस परिवार में बेडा का स्वागत है. 11 महीनों में सरकार ने किसानों व जनहित के काम किए. चार सालों में केन्द्र से एक पैसा नही मिला,स्वीकृति योजना का भी कोई पैसा नहीं दिया गया. केन्द्र सरकार पर किए वादों को पूरा नही करने का आरोप लगाते हुए कहा कि 90 लाख युवा रोजगार का इंतजार कर रहे है. नोबल पुरस्कार विजेता अभिजीत बेनर्जी का उल्लेख करते हुए कहा कि उनके अनुसार किसान को फसल का सही मूल्य मिलने से ही देश आगे बढ़ सकता है. किसानों को मजबूत करने के लिए राज्य सरकार कई फैसले लेने के साथ किसानों का ऋण माफ करने से लेकर नए ऋण भी दिए.

आर्थिक दृष्टि से किसानों को मजबू करने की सोच मुख्यमंत्री गहलोत की: 
इस अवसर पर पूर्व विधायक नारायण राम बेडा ने संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को किसानों का हितैषी बताया और कहा कि गहलोत के व्यवहार व कार्यप्रणाली से बहुत प्रभावित हुआ हूं. मूंगों की खरीद के सुझाव को मानने पर आभार जताते हुए कहा कि आर्थिक दृष्टि से किसानों को मजबू करने की सोच मुख्यमंत्री गहलोत की है. सीएम बनते ही पेंशन बढ़ाई साथ ही चुनाव में पढ़ाई की बाध्यता को भी खत्म किया. जब एमएलए और एमपी अनपढ़ बन सकते है तो ग्रामीण क्यो नही, बेडा ने इस अवसर पर किसानों को बीमा राशि दिलवाने की मांग भी रखी और किसानों को फसलो का सही दाम दिलाने का आग्रह भी किया. बेडा ने गजसिंह पुरा में घर-घर पानी की व्यवस्था करने व एक करोड के राजस्व वाली सडक के सुधार का भी आग्रह किया. वही पीएससी खोलने की मांग करते हुए मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा व जांच के लिए आभार भी जताया. 

इस दौरान कई लोग रहे मौजूद: 
इस दौरान राजस्थान सरकार के राजस्व मंत्री हरीश चौधरी व उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी के अलावा राज्य बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल,पूर्व विधायक नारायणराम बेडा,छात्रनेता चेतन ग्वाला,कांता ग्वाला,शिक्षक नेता गंगाराम जाखड,चेनाराम चौघरी,महिला कांग्रेस नेता हेमलता चौधरी के अलावा बड़ी संख्या में जहां युवाओं की टीम व ग्रामीणजन मौजूद रहे. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए राजीव गौड की रिपोर्ट

और पढ़ें

Most Related Stories

डीसीपी प्रीति चंद्रा ने चौराहे पर करवाई थी महिला की डिलीवरी, अब फिल्मी सितारों और क्रिकेटर ने बढ़ाया हौसला

डीसीपी प्रीति चंद्रा ने चौराहे पर करवाई थी महिला की डिलीवरी, अब फिल्मी सितारों और क्रिकेटर ने बढ़ाया हौसला

जोधपुर: प्रदेश के दूसरे बड़े जिले जोधपुर में आखलिया चौराहे पर वह दिन सभी को याद है जब एक अनूठी और नई पहल करते हुए डीसीपी प्रीति चंद्रा द्वारा बाड़मेर से आई एक महिला की डिलीवरी चौराहे पर ही कराई गई थी. डिलीवरी के बाद आईपीएस एसोसिएशन ने इस पूरे मामले को ट्विट किया जिसमें प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रिट्वीट कर हौंसला बढाया था. अब फिल्मी सितारों और क्रिकेटर ने भी रिट्वीट किया है. फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार, वरूण धवन, रणदीप हुड्डा, ईशा कोप्पिकर, पूजा बेदी, कुणाल खेमू, रेमो डिसूजा व क्रिकेटर हरभजन सिंह ने भी इसको रिट्विट किया है. 

अम्फान से बंगाल में भीषण तबाही, पीएम मोदी ने किया एक हजार करोड़ रुपये की मदद का ऐलान 

डिलीवरी कराने में अहम भूमिका निभाई थी: 
गौरतलब है कि पश्चिम क्षेत्र के पुलिस ने जोधपुर के कर्फ्यू ग्रस्त इलाके आखलिया चौराहे पर निजी वाहन में एक बच्ची की डिलीवरी कराने में अहम भूमिका निभाई थी. आखलिया चौराहे पर नियमित रूप से गश्त करने आने वाली डीसीपी प्रीति चन्द्रा को जब यह पता लगा कि एक महिला प्रसव पीड़ा से परेशान है और बच्चा जनने वाला दर्द इस वक्त हो रहा है तो उन्होंने अपनी महिला पुलिस की टीम के अलावा मौके पर पुलिस मित्र यासीन अन्य पुलिस मित्रों की मदद से मौके पर ही डिलीवरी करवा दी थी. 

मुख्यमंत्री योगी को बम से उड़ाने की धमकी, खास समुदाय का बताया दुश्मन 

डीसीपी प्रीति चंद्रा ने अस्पताल में जाकर हालात भी जाने:
सुरक्षित डिलीवरी कराने के बाद जच्चा और बच्चा को अस्पताल रवाना कराया गया था और बाद में खुद डीसीपी प्रीति चंद्रा ने अस्पताल में जाकर हालात भी जाने. इस डिलीवरी में प्रसव पीड़ा से परेशान महिला को बेटी का जन्म हुआ था. 

 

जोधपुर में विधायक सूर्यकांता व्यास का पुत्र कोरोना पॉजिटिव, विधायक के स्वास्थ्य की भी होगी जांच

जोधपुर में विधायक सूर्यकांता व्यास का पुत्र कोरोना पॉजिटिव, विधायक के स्वास्थ्य की भी होगी जांच

जोधपुर: कोरोना वायरस को लेकर प्रदेश की इस वक्त की सबसे बड़ी खबर जोधपुर से आ रही है. विधायक सूर्यकांता व्यास का पुत्र कोरोना पॉजिटिव आया है. विधायक का मकान शहर के भीतरी क्षेत्र में स्थित है. जिला कलेक्टर डॉ. प्रकाश राजपुरोहित भी विधायक के निवास पहुंचे थे. ऐसे में पुत्र के पॉजिटिव आने के बाद अब विधायक के स्वास्थ्य की भी जांच होगी. चिकित्सा विभाग ने इसकी पुष्टि की है.  

जोधपुर: महज सवा दो करोड़ रुपए में खरीदी नीरव मोदी की साढ़े आठ करोड़ की कार, पूर्व महाराजा गजसिंह के बाद...  

131 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए: 
वहीं राजस्थान में लगातार कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. गुरुवार दोपहर 2 बजे तक राजस्थान में 3 मरीजों की मौत हो गई. जबकि 131 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आये है. डूंगरपुर में अकेले 33 नए केस सामने आये है.  ऐसे में प्रदेश में कोरोना मरीजों का ग्राफ 6146 पहुंच गया है. 
 

जोधपुर: महज सवा दो करोड़ रुपए में खरीदी नीरव मोदी की साढ़े आठ करोड़ की कार, पूर्व महाराजा गजसिंह के बाद...

जोधपुर: महज सवा दो करोड़ रुपए में खरीदी नीरव मोदी की साढ़े आठ करोड़ की कार, पूर्व महाराजा गजसिंह के बाद...

जोधपुर: आप माने या नहीं लेकिन आपको एक ऐसी हकीकत से रूबरू कराते हैं कि, भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की साढ़े आठ करोड़ कीमत की गाड़ी को जोधपुर के एक हैंड कार्ट निर्यातक ने खरीद लिया है वह भी महज सवा दो करोड़ रुपए में. इतनी कीमती गाड़ी पूर्व महाराजा गज सिंह के बाद अब हैंडीक्राफ्ट निर्यातक मनोज शर्मा के पास हो गई है जिन्होंने नीलामी में इस कीमती कार को खरीदा है.

मनरेगा में राजस्थान ने श्रमिक नियोजन का गत दस वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ा: पायलट 

मनोज के पास सभी कीमती गाड़ियों का कलेक्शन: 
राजस्थान में जोधपुर के बाद उदयपुर राजघराने के पूर्व महाराजा अरविंद सिंह मेवाड़ के पास भी इस तरह की गाड़ी है. महंगी से महंगी गाड़ियों और मोटरसाइकिल के शौकीन मनोज शर्मा के गैराज में देश विदेश की लगभग सभी कीमती गाड़ियों का कलेक्शन है उसमें अब यह रोल्स रॉयस घोस्ट गाड़ी भी शामिल हो गई है.

 प्रदेश की अदालतों में अब ई कोर्ट फीस की सुविधा, सीधे राज्य सरकार के खाते में जाएगा पैसा 

प्रवर्तन निदेशालय ने नीरव मोदी की 13 कारों को हाल ही में जब्त किया था:
गौरतलब है कि भारत के भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को लंदन की कोर्ट से राहत नहीं मिली है और उसे जेल में ही रहना होगा. वहीं भारत में प्रवर्तन निदेशालय ने नीरव मोदी की 13 कारों को हाल ही में जब्त किया था, जिसकी ऑनलाइन नीलामी की गई जिसमें से 12 कारों को खरीदार मिलें. इस नीलामी में प्रवर्तन निदेशालय को 3.29 करोड़ रुपये की वसूली करने में सफलता मिली. नीरव मोदी कारों में रोल्स रॉयस घोस्ट, मर्सिडिज बेंज जीएल क्लॉस और पोर्शे पैनेमेरा जैसी लग्जरी कारें शामिल थीं. इस नीलामी में शामिल साढ़े आठ करोड़ कीमती रोल्स रॉयस घोस्ट कार को जिस हैंडीक्राफ्ट निर्यातक मनोज शर्मा ने खरीदा है. 

फिर से पटरी पर लौटने लगी जिंदगी, लॉकडाउन 4 के बाद दी गई राहत के चलते जोधपुर में खुली दुकानें

फिर से पटरी पर लौटने लगी जिंदगी, लॉकडाउन 4 के बाद दी गई राहत के चलते जोधपुर में खुली दुकानें

जोधपुर: लॉकडाउन 4 के बाद दी गई राहत के चलते जोधपुर रेड जोन इलाका होने के बावजूद सरकार द्वारा निर्धारित नियमों के तहत दी गई छूट के चलते सोशल डिस्टेंस की पालना करते हुए दुकाने खुली और लोगों ने अपनी आवश्यकता के मुताबिक सामान इत्यादी भी लिया. वही दूसरी और कुछ महत्वपूर्ण विभाग भी खुले जहां 50 प्रतिशत सरकारी कर्मचारी अपनी उपस्थिति देने पहुंचे. उधर कोरोना कहर के बीच जहां लोकडाउन 4 के चलते जहां व्यापारियों से लेकर आमजन को राहत दी गई है तो वहीं सरकार के आदेशों की रेड जोन और ओरेंज जोन में पालना की जा रही है.

अलग-अलग बाजारों में खुलने लगी दुकानें:
प्रतिबंधित क्षेत्रों में जहां पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद्द है. पुलिस कमिश्नर प्रफुल्ल कुमार लगातार इसकी मॉनिटरिंग कर रहे है. डीसीपी प्रीति चंद्रा और धर्मेन्द्र सिंह भी मुस्तद्द है और लगातार इसका फीडबैक भी ले रहे है. पुलिस के जवान जहां पूरी मुस्तैद्दी के साथ चिलचिलाती धूप में ड्यूटी दे रहे है तो वहीं दुपहिया वाहन पर दो सवारी बैठने पर सोशल डिस्टेसिंग की पालना करने की वजह से चालान भी काटे जा रहे है. लोकडाउन 4 के तहत अब बाजारों में भी जहां रोनक आने लगी है तो जोधपुर में अलग-अलग बाजारों में दुकानें भी खुलने लगी है.

विदेश से लौटेंगे 2000 प्रवासी राजस्थानी! अब हर यात्री को 14 दिन रखा जाएगा क्वारन्टीन, शहर के चुनिंदा होटल्स को किया गया चिन्हित

सोशल डिस्टेसिंग का भी विशेष रूप से ध्यान:
लोग खरीदारी साथ-साथ पूरी तरह से मास्क लगाने के साथ सोशल डिस्टेसिंग का भी विशेष रूप से ध्यान रख रहे है. वहीं दूसरी और जोधपुर के कर्फ्यगूग्रस्त इलाके के अजय चौक में खुशी का माहौल देखा गया. खुशी इस बात की कि वही कर्फ्यूग्रस्त इलाके में ड्यूटी देने वाले कांस्टेबल विनोद की शादी की पहली सालगिरह थी ऐसे में पुलिस की जीप के बोनट पर कांस्टेबल विनोद ने कैक काटा. इस दौरान एसीपी राजेन्द्र सिंह,एसएचओ सुरेश चौधरी व महिला पुलिस अधिकारी ईशा भटनागर मौजूद रही ओर कांस्टेबल विनोद कुमार को उनकी पहली सालगिरह पर बधाईया भी दी. कांस्टेबल और पुलिस के जवानों ने भी शादी की पहली सालगिरह पर विनोद को बधाईयां दी. कांस्टेबल विनोद कुमार जोधपुर के कर्फ्यूग्रस्त इलाके में ड्यूटी कर रहे है.

राजस्थान में प्रवासियों ने बढ़ाया कोरोना का खतरा ! एक सप्ताह से आ रहे रोजाना औसतन 100 पॉजिटिव, अब तक 818 पॉजिटिव

मदर्स डे आज : एक बेटे ने अपनी मां को मार्बल का कूलर बनाकर किया भेंट 

मदर्स डे आज : एक बेटे ने अपनी मां को मार्बल का कूलर बनाकर किया भेंट 

जोधपुर: आज मदर्स डे है, हर कोई अपनी मां को खुशियां देने के लिए जी जान से जुटा है, मदर्स डे पर हर व्यक्ति अपने हैसियत के अनुसार अपनी अपनी मां को कोई तोहफों से तो कोई किसी और तरीके से चेहरे पर खुशी लाने की कोशिश करता है, मगर आपको यह जानकर विश्वास नहीं होगा कि जोधपुर में एक सामान्य से कमठा मजदूर सुरेंद्र सिंह ने अपनी मां के लिए कोरोना के कहर के चलते घर पर खाली बैठे होने का लाभ उठाते हुए पत्थर का कूलर बना दिया.

अफवाहों पर अमित शाह ने दिया जवाब, मैं बिल्कुल स्वस्थ हूं, मुझे कोई बीमारी नहीं

मार्बल का कूलर बनाकर किया अपनी मां को भेंट:
क्यों....नहीं हुआ ना विश्वास, जब सुना था तो हमें भी नहीं हुआ, लेकिन जब घर जाकर नजारा देखा और सुरेंद्र सिंह की मां अनु देवी की दास्तान सुनी तो सुकून और खुशी के साथ रोंगटे खड़े कर देने वाली हक़ीक़त सामने आई, क्योंकि जो व्यक्ति जिसमें हुनरमंद होता है वही काम अच्छे से कर सकता है, अब जब सुरेंद्र सिंह मकान इत्यादि बनाने का काम करते हैं, तो उन्होंने अपना दिमाग मदर्स डे पर अपनी मां को कुछ अलग तरह की खुशी देने की ठानी और घर पर बैठे-बैठे मार्बल का कूलर बनाकर अपनी मां को भेंट किया तो पूरे परिवार के चेहरे पर खुशी देखने लायक है.

परिवार जन ठंडी ठंडी हवा का ले रहे है आनंद:
क्या छुट्टी और क्या बड़े हर कोई इस मार्बल के पत्थर से बने कूलर की हवा खा रहा है, सबसे ज्यादा खुशी सुरेंद्र सिंह की मां के चेहरे पर जो कभी अपने बेटे के बनाए कूलर को देखती है तो कभी ठंडी ठंडी हवा खा रहे अपने परिवार के बच्चों को. हमारे संवाददाता राजीव गौड़ ने सुरेंद्र सिंह और उनके परिवार जनों से बातचीत करने के अलावा लिया जायजा.

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कुल 3741 कोरोना संक्रमित, 33 नए मामले आये सामने, अब तक 107 मरीजों की मौत 

90 वर्षीय बुजुर्ग महिला ने दी कोरोना को मात, महज 11 दिन में ठीक होकर पहुंची अपने घर

जोधपुर: देश और दुनिया में हर रोज कोरोना के मरीजों का ग्राफ बढ रहा है. वहीं मरीज ठीक होकर घर भी लौट भी रहे है. राजस्थान के जोधपुर जिले में ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां पर 90 साल की बुजुर्ग महिला ठीक होकर घर लौट चुकी है. बुजुर्ग चुन्नी देवी जब ठीक होकर के अपने घर पहुंच चुकी है उसके बाद भी आस-पास के 36 कौम के लोग उसकी सेवा करते है और उनका हालचाल पूछने के साथ बुजुर्ग महिला का हौंसला बढाते है और खुद बुजुर्ग महिला भी स्वस्थ महसूस करती है.

विशाखापट्‌टनम में गैस लीक होने से एक बच्चे समेत 8 लोगों की मौत, करीब एक हजार लोग हुए बीमार

बुजुर्ग महिला का बढाते है हौंसला:
आमतौर पर अगर कोई कोरोना पॉजीटिव मरीज आता है तो लोग उनसे दूरी बनाते है और उनसे बात तक नही करते मगर जोधपुर के फतेहसागर का नजारा कुछ और ही है. यहां पर लोगों का यही मानना है कि दहशत के चलते किसी की जान नहीं चली जाए इसको देखते हुए जो 90 वर्षीय बुजुर्ग महिला है उनका वह प्रतिदिन हौंसला बढाते है और थानाधिकारी सुरेश चौधरी व पुलिस मित्र मुकेश सोनी से लेकर उनकी टीम और अन्य मोहल्ले के लोग उनका तालिया बजाकर हौंसला बढाते है, जिससे महिला के चेहरे पर एक अलग ही मुस्कान तो होती है.

महज 11 दिन में लौटी घर:
साथ ही कोरोना जैसी जानलेवा बीमारी को लेकर एक नेगेटिविटी भी दूर हो जाती है. गौरतलब है कि जोधपुर के एमडीएम अस्पताल से सबसे अधिक उम्रदराज 90 वर्षीय चुन्नी देवी कोरोना पॉजिटिव होने के बाद महज 11 दिन में ही अपने हौंसले के दम पर डॉक्टरों के सहयोग से कोरोना को मात देकर अपने घर लौटी. हमारे संवाददाता राजीव गौड़ ने लिया फतेहसागर क्षेत्र में जाकर जायजा.

सिरोही ग्रीन जोन से हुआ ऑरेंज जोन, चलिए जानते है कैसे पहुंचा जिले तक कोरोना संक्रमण

बीएसएफ कैंप तक पहुंचा कोरोना संक्रमण, जोधपुर में 30 जवान निकले पॉजिटिव,68 जवानों के लिए गए सैंपल

जोधपुर: राजस्थान में लगातार कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है. जोधपुर में भी कोरोना के नए मरीज लगातार सामने आ रहे हैं. बुधवार को बीएसएफ कैंप तक कोरोना का संक्रमण पहुंच गया , जहां 30 बीएसएफ के जवानों को कोरोनावायरस पाया गया है. बीएसएफ के जवान दिल्ली से ड्यूटी कर जोधपुर लौटे थे. पहले इनकी पोस्टिंग दिल्ली में थी लेकिन बाद में इन्हें जोधपुर शिफ्ट कर दिया गया था. 

कांग्रेसी मुख्य मंत्रियों ने केंद्र सरकार को घेरा, सीएम गहलोत ने कहा, जब तक राज्यों को आर्थिक पैकेज नहीं मिलेगा देश कैसे बढ़ेगा आगे 

68 जवानों के लिए गए सैंपल:
यहां इन जवानों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि की गई है. मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी बलवंत मंडा ने बताया कि बीएसएफ की एक बटालियन दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था के लिए तैनात की गई थी. ड्यूटी के बाद इन सभी जवानों को बीएसएफ जोधपुर में शिफ्ट किया गया. इसकी जानकारी मिलने के बाद स्थानीय अधिकारियों से संपर्क कर 68 जवानों के सैंपल लिए गए थे.

सभी जवानों को रखा जाएगा फिलहाल क्वॉरेंटाइन में: 
इनमें से 30 जवानों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं. मंडा ने कहा कि हालांकि यह सभी जवान पहले से ही सूरसागर स्थित क्वॉरेंटाइन सेंटर में है और इनका किसी अन्य लोगों से संपर्क नहीं रहा है. फिलहाल कोरोना गाइड लाइन के मुताबिक पॉजिटिव आए जवानों को हॉस्पिटल में शिफ्ट किया जा रहा है वहीं अन्य सभी जवानों को फिलहाल क्वॉरेंटाइन में रखा जाएगा.

सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, 12 लाख का इनामी आतंकी हिज्बुल कमांडर रियाज नायकू मारा गया

Rajasthan Corona Updates: जोधपुर में 575 कोरोना पॉजिटिव, अब तक 9 मरीजों की हो चुकी है मौत  

Rajasthan Corona Updates: जोधपुर में 575 कोरोना पॉजिटिव, अब तक 9 मरीजों की हो चुकी है मौत  

जोधपुर: राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों का ग्राफ कम होने का नाम नहीं ले रहा है. जोधपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 575 तक पहुंच गई. वहीं अब तक 165 मरीजों को ठीक करके घर भेजा जा चुका है. अब तक कोरोना पॉजिटिव 9 मरीजों की मौत हो चुकी है. प्रदेश में जयपुर के बाद जोधपुर में सबसे ज्यादा मामले सामने आये है. वहीं कोरोना वायरस की रोकथाम के पूरे प्रयास किए जा रहे है.कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए जोधपुर में लॉकडाउन जारी है , वहीं सात थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू भी लगाया गया है.

लॉकडाउन में फंसे स्टूडेंट्स कोटा से रांची के लिए सिंगल ट्रीप माइग्रेंट स्पेशल ट्रेन से रवाना

शुक्रवार को जिला कलक्टर ने किया दौरा:
कर्फ्यू ग्रस्त इलाकों में व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए शुक्रवार को जिला कलेक्टर डॉ प्रकाश राजपुरोहित और पुलिस कमिश्नर प्रफुल्ल कुमार ने कर्फ्यू ग्रस्त क्षेत्र उदयमंदिर, नागौरी गेट का दौरा किया. यह दोनों क्षेत्र कोरोना के हॉटस्पॉट बन चुके हैं और अधिकांश कोरोना के मरीज इसी क्षेत्र के हैं. दोनों अधिकारियों ने पूरे क्षेत्र का दौरा किया और वहां के लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्याओं के बारे में जाना. जिला कलेक्टर प्रकाश राजपुरोहित ने बताया कि कर्फ्यू ग्रस्त इलाकों में दो कार्य प्राथमिकता से करने होते हैं.

33 में से 29 जिलों में पहुंचा कोरोना:
प्रदेश में कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले जयपुर में हैं. यहां 937 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं. इसके अलावा जोधपुर में 575 (इसमें 47 ईरान से आए), कोटा में 206, अजमेर में 161, टोंक में 134, भरतपुर में 111, नागौर में 118, बांसवाड़ा में 66, जैसलमेर में 49 (इसमें 14 ईरान से आए), झुंझुनूं में 42, झालावाड़ में 40, बीकानेर और भीलवाड़ा में 37-37, मरीज मिले हैं. वहीं दौसा में 21, चित्तौड़गढ़ में 26, चूरू में 14, धौलपुर और पाली में 12-12, हनुमानगढ़ में 11, अलवर में 9, सवाईमाधोपुर और उदयपुर में 8-8, डूंगरपुर और सीकर में 6-6, करौली में 3, राजसमंद, बाड़मेर और प्रतापगढ़ में 2-2 कोरोना मरीज मिल चुके हैं. वहीं बारां में 1 संक्रमित मरीज मिला है. 

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में 2678 कोरोना संक्रमित, पिछले 12 घंटे में सामने आये 12 नए केस, जानिए जिलेवार आंकड़े

Open Covid-19