सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश, गैर कोविड मरीजों के लिए हर जिले में संचालित हो डेडिकेटेड अस्पताल

सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश, गैर कोविड मरीजों के लिए हर जिले में संचालित हो डेडिकेटेड अस्पताल

सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश, गैर कोविड मरीजों के लिए हर जिले में संचालित हो डेडिकेटेड अस्पताल

लखनऊः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 संक्रमित मरीजों के इलाज की पुख्ता व्यवस्था करने के निर्देश के साथ नॉन-कोविड मरीजों के लिए भी हर जिले में एक अस्पताल शुरू करने का आदेश दिया है.

गैर कोविड मरीजों के उपचार हर जिले में एक डेडिकेटेड अस्पताल का संचालनः
राज्य सरकार के प्रवक्ता के मुताबिक मुख्यमंत्री ने कोविड-19 प्रबंधन को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक में निर्देश दिए कि गैर कोविड मरीजों के उपचार के लिए हर जिले में एक डेडिकेटेड अस्पताल का संचालन किया जाए, जहां गम्भीर रोगों के इलाज की उच्चस्तरीय सुविधा उपलब्ध रहे. उन्होंने कहा कि हर जिले में गैर कोविड मरीजों को टेलीकंसल्टेंसी के माध्यम से चिकित्सीय परामर्श देने के लिए चिकित्सकों का पैनल गठित किया जाए. मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को इसके सुचारु संचालन के लिए जवाबदेह बनाया जाए.

गैर-कोविड मरीजों के लिए 25 प्रतिशत एम्बुलेंस आरक्षित रखने के निर्देशः
मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘108’ एम्बुलेंस सेवा की 25 प्रतिशत एम्बुलेंस को गैर-कोविड मरीजों के लिए आरक्षित रखा जाए. योगी ने कहा कि हर जिले में शहरी क्षेत्रों में गरीबों और निराश्रितों के लिए कम्युनिटी किचन की व्यवस्था हो. इसके माध्यम से जरूरतमन्दों को गुणवत्तायुक्त भोजन उपलब्ध कराया जाए. भोजन तैयार करने वालों की संक्रमण की दृष्टि से जांच अवश्य की जाए.

रेमडेसिविर सहित सभी जीवनरक्षक दवाओं की उपलब्धता कराई जा रही सुनिश्चितः
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में रेमडेसिविर सहित सभी जीवनरक्षक दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जा रही है. केंद्र सरकार द्वारा प्रदेश के लिए रेमडेसीवीर के दैनिक आवंटन में वृद्धि की गई है. इस जीवनरक्षक दवा की मांग, आपूर्ति और खपत का पूरा विवरण रखा जाए. प्रत्येक अस्पताल जिला अधिकारी/मुख्य चिकित्सा अधिकारी को इसकी रिपोर्ट दे.
सोर्स भाषा
 

और पढ़ें