मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने जिलों में अग्निशमन केंद्रों को पूरी तरह सक्रिय करने के दिए निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने जिलों में अग्निशमन केंद्रों को पूरी तरह सक्रिय करने के दिए निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने जिलों में अग्निशमन केंद्रों को पूरी तरह सक्रिय करने के दिए निर्देश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को आग लगने से होने वाली दुर्घटनाओं के दृष्टिगत विशेष सावधानी बरतने की हिदायत दी है. उन्होंने कहा कि जिलों में अग्निशमन केंद्रों को पूरी तरह सक्रिय किया जाए जिससे आग लगने की किसी भी दुर्घटना से प्रभावी ढंग से निपटा जा सके.

आग जैसी दुर्घटनाओं के प्रभावित लोगों को तुरंत मिले आवश्यक सामग्रीः 
सोमवार को मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने अपने पांच कालिदास मार्ग स्थित सरकारी आवास पर आयोजित एक उच्‍च स्‍तरीय बैठक में विभिन्न विभागों की समीक्षा करते हुए कहा कि सभी जिलाधिकारी यह सुनिश्चित करें कि आग लगने की यदि कोई दुर्घटना हो तो प्रभावित लोगों को तत्काल राशन एवं अन्य आवश्यक सामग्री उपलब्ध कराई जाएं. उन्होंने जनहानि अथवा पशु हानि या फसल को हुए नुकसान की स्थिति में प्रभावित लोगों को तत्काल अनुमन्‍य मुआवजा राशि प्रदान करने के निर्देश दिए हैं.

किसानों को अपनी उपज बेचने में न हो कोई दिक्कतः 
मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि एमएसपी के तहत गेहूं की खरीद पूरी सक्रियता से की जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि किसानों को अपनी उपज बेचने में कोई दिक्कत न हो. उन्होंने गेहूं खरीद कार्य में किसानों की सुविधा के लिए हेल्पलाइन स्थापित किये जाने के निर्देश भी दिए.

निराश्रित गौ-आश्रय स्थलों आवश्यक व्यवस्था करने के दिए निर्देशः
मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि निराश्रित गौ-आश्रय स्थलों में सभी आवश्यक व्यवस्था का प्रबंध किया जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि संरक्षित गोवंश के लिए गौ-आश्रय स्थलों में पीने के लिए पानी, चारा, छाया आदि की समुचित उपलब्धता रहे. उन्होंने गौ-आश्रय स्थलों के लिए अभी से भूसे की पर्याप्त व्यवस्था करने के निर्देश भी दिए.
सोर्स भाषा

और पढ़ें